ताज़ा खबर
 

तनाव और अनिद्रा के लिए अचूक औषधि है लौकी, जानिए और क्या-क्या हैं फायदे

लौकी में काफी मात्रा में पानी होता है। यह बॉडी को तरोताजा रखता है, जिससे तनाव से मुक्ति मिलती है।

लौकी में कई तरह के विटामिन, प्रोटीन पाए जाते हैं।

लौकी लगभग हर घर में अपनी मौजूदगी रखती है। सब्जी के अलावा बर्फी, हलवा, रायता बनाने में किया जाता है। इसमें कई तरह के पोषक तत्वों का भंडार होता है। कई तरह के गंभीर रोगों के इलाज के लिए दवाओं पर निर्भर रहने वाले लोगों को अक्सर घरों में बनाई जाने वाली सब्जियों के औषधीय गुणों के बारे में जानकारी ही नहीं होती है। लौकी एक ऐसी ही सब्जी है जो हर घर में पकाई तो जाती है लेकिन इसके चमत्कारी स्वास्थ्य संबंधी फायदों के बारे में बहुत कम लोगों को पता होता है। बहुत से लोगों को लौकी बिल्कुल नहीं पसंद होती है। ऐसे लोग अगर इसके फायदों के बारे में जान लें तो कभी अपनी थाली से लौकी की सब्जी को रिमूव नहीं कर पाएंगे। तो चलिए, आज आपको लौकी के ऐसे फायदों के बारे में भी बता दें जिसके बारे में जानना आपके लिए बहुत जरूरी है। इससे आप कई गंभीर बीमारियों के शरीर पर धावा बोलने के खतरे से बच सकते हैं।

तनाव कम करे – लौकी में काफी मात्रा में पानी होता है। यह बॉडी को तरोताजा रखता है, जिससे तनाव से मुक्ति मिलती है। इसमें कई ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो शरीर को मानसिक रूप से स्वस्थ रखते हैं, जिससे तनाव और चिंता जैसी समस्याओं से राहत मिलती है।

मधुमेह में – हर रोज सुबह खाली पेट लौकी का जूस पीने से मधुमेह के रोगियों को काफी आराम मिलता है।

अनिद्रा की समस्या से राहत – नींद न आना आजकल की जीवनशैली की वजह से होने वाली एक गंभीर बीमारी है। जो बाद में मोटापा, डिप्रेशन जैसी कई बीमारियों को न्यौता देने से नहीं चूकती है। ऐसे में लौकी का जूस अनिद्रा की समस्या से निजात दिला सकता है। लौकी के जूस में तिल का तेल मिलाकर पीने से अनिद्रा से काफी हद तक राहत मिलती है।

ग्लोइंग स्किन के लिए – लौकी के सेवन से पेट की अंदरूनी सफाई हो जाती है। इससे चेहरे पर रौनक बनी रहती है। धूप-धूल आदि का प्रभाव चेहरे पर ज्यादा देर नहीं रहता है। चेहरे की त्वचा कोमल और सुंदर बनी रहती है।

बेहतर पाचन के लिए – लौकी के जूस में काफी मात्रा में फाइबर पाया जाता है।यह पाचन संबंधी हर शिकायत का बेहतरीन निवारण है। एसिडिटी, कब्ज आदि समस्याओं में लौकी का जूस पीना काफी लाभकारी होता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App