scorecardresearch

Uric Acid: यूरिक एसिड बढ़ गया है तो लहसुन और अदरक से करें कंट्रोल, जानिये कैसे

औषधीय गुणों से भरपूर लहसुन यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में बेहद असरदार है।

garlic for uric acid control. ginger for uric acid control,control uric acid,uric acid control tips,
आप भी बढ़ते यूरिक एसिड से परेशान हैं तो डाइट में अदरक और लहसुन का सेवन करें। photo-freepik

यूरिक एसिड खराब लाइफस्टाइल की वजह से होने वाली बीमारियों में से ही एक है। यूरिक एसिड सबकी बॉडी में बनता है किडनी इसे फिल्टर करके बॉडी से बाहर निकाल देती है। परेशानी तब है जब यूरिक एसिड बॉडी से बाहर नहीं निकले और बॉडी में उसका स्तर बढ़ जाए। मेडिकल टर्म में यूरिक एसिड बढ़ने को हाइपरयूरिसेमिया कहा जाता है।

बॉडी में यूरिक एसिड बढ़ने से कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। यूरिक एसिड बढ़ने का सबसे ज्यादा असर पैरों पर दिखता है। यूरिक एसिड बढ़ने से घुटनों और जोड़ों में दर्द और पैरों में सूजन आने लगती है।

यूरिक एसिड तेजी से फैलने वाली बीमारी बनती जा रही है। एक शोध के मुताबिक दुनिया में हर पांच में से एक व्यक्ति हाई यूरिक एसिड की परेशानी से जूझ रहा है। आप भी बढ़ते यूरिक एसिड से परेशान हैं तो डाइट में अदरक और लहसुन का सेवन करें। औषधीय गुणों से भरपूर लहसुन और अदरक यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में बेहद असरदार है। आइए जानते हैं कि अदरक और लहसुन कैसे यूरिक एसिड को कंट्रोल करते हैं।

लहसुन से करें यूरिक एसिड कंट्रोल: औषधीय गुणों से भरपूर लहसुन यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में बेहद असरदार है। रोजाना 3-4 लहसुन की कलियों का खाली पेट सेवन करने से यूरिक एसिड के बढ़े हुए स्तर को कंट्रोल में रखा जा सकता है। लहसुन का सेवन करने से और भी कई बीमारियों का उपचार होता है।

अदरक भी करता है यूरिक एसिड कंट्रोल: अदरक का सेवन करने से यूरिक एसिड कंट्रोल रहता है। अदरक में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स गुण गठिया के दर्द से छुटकारा दिलाते हैं। इसका सेवन करने से जोड़ों के दर्द से निजात मिलती है। अगर आप यूरिक एसिड के बढ़ते स्तर से परेशान हैं तो अदरक का सेवन करें। अदरक का इस्तेमाल आप खाने में या फिर काढ़ा बना कर कर सकती हैं।

सेब का सिरका: सेब का सिरका भी यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में बेहद असरदार है। सेब के सिरके का इस्तेमाल करने के लिए आप एक गिलास पानी में एक चम्मच सेब का सिरका मिलाकर अच्छे से मिक्स करें और उसका रोजाना सेवन करें। इससे पाचन तंत्र भी दुरुस्त रहता है और यूरिक एसिड भी कंट्रोल रहेगा।

पढें हेल्थ (Healthhindi News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट