scorecardresearch

Kalyani Group: जान‍िए कौन हैं बाबा कल्‍याणी, पीएम केयर्स में द‍िए थे 25 करोड़, भाजपा को एक साल में सात करोड़ का चंदा

Kalyani Strategic Systems Limited: कल्याणी ग्रुप के चेयरमैन बाबा कल्याणी ने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते हुए उन्हें असाधारण नेता बताया था।

Kalyani Group: जान‍िए कौन हैं बाबा कल्‍याणी, पीएम केयर्स में द‍िए थे 25 करोड़, भाजपा को एक साल में सात करोड़ का चंदा
कल्याणी ग्रुप के चेयरमैन बाबासाहेब नीलकंठ कल्याणी (Express Photo by Pavan Khengre)

भारतीय प्राइवेट डिफेंस कंपनी ‘कल्याणी स्ट्रैटेजिक सिस्टम्स’ (KSSL) इन दिनों चर्चा में है। कंपनी को आर्टिलरी गन (Artillery Guns) के लिए 155 मिलियन डॉलर (1,200 करोड़ रुपये से अधिक) का एक्सपोर्ट ऑर्डर मिला है। कंपनी ने अभी आर्टिलरी गन के खरीदार देश का नाम नहीं बताया है। भारत फोर्ज लिमिटेड (Bharat Forge) की सहायक कंपनी कल्याणी स्ट्रैटेजिक सिस्टम्स (Kalyani Strategic Systems Ltd.) ने बस इतना संकेत दिया है कि खरीदार देश ‘नॉन कॉन्फ्लिक्ट नेशन’ है।

कल्‍याणी ग्रुप क‍िसका?

भारत फोर्ज की स्थापना 1960 में हुई थी। भारत फोर्ज का यूके में एक रिसर्च सेंटर है, जिसमें इलेक्ट्रिक कारों के पुर्जे विकसित किए जाते हैं। ये दोनों कंपनियां और कई अन्य कंपनियां जिस कल्याणी ग्रुप का हिस्सा हैं, उसकी स्थापना साल 1960 के मध्य में नीलकंठराव कल्याणी ने की थी।

कल्याणी ग्रुप का दावा है कि उसके पास दुनिया की सबसे बड़ी फोर्जिंग कंपनी है। कल्याणी की वेबसाइट पर मौजूद जानकारी के मुताबिक, ग्रुप का सालाना टर्नओवर 30 बिलियन डॉलर है। ग्रुप के मौजूदा अध्यक्ष नीलकंठराव कल्याणी के बेटे बाबासाहेब नीलकंठ कल्याणी हैं, जिन्हें बीएन कल्याणी या बाबा कल्याणी भी कहा जाता है।

भारत के 79वें सबसे अमीर व्यक्ति हैं बाबा कल्याणी

फोर्ब्स के मुताबिक, बाबा कल्याणी भारत के 100 सबसे धनी लोगों की सूची में 79वीं नंबर पर हैं। उनका सालाना नेटवर्थ 2.5 बिलियन डॉलर है। कोरोना महामारी से पहले साल 2018 में बाबा कल्याणी का साला नेटवर्थ 3.5 बिलियन डॉलर था। महाराष्ट्र के पुणे में जन्मे 73 वर्षीय कल्याणी बाबा ने कैम्ब्रिज के मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से साइंस में मास्टर की डिग्री हासिल की है। उनके अपना एक फुटबॉल टीम भी है, जिसका नाम भारत एफसी है।

भाजपा को फंड करता रहा है कल्याणी ग्रुप

भाजपा भारत की मौजूदा सभी राजनीतिक दलों से अधिक चंदा पाने वाली पार्टी है। भाजपा को चंदा देने वालों में कल्याणी ग्रुप की कंपनियों का नाम भी शामिल है। कल्याणी समूह की सबसे प्रमुख कंपनियों में से एक ‘कल्याणी स्टील’ ने 2014-15 में भाजपा को एक बार दो करोड़ रुपये और दूसरी बार एक करोड़ पचास लाख रुपये का चंदा दिया था।

इसके अलावा 2014-15 में कल्याणी समूह के ही भारत फोर्ज ने भी दो करोड़ रुपये का चंदा दिया था। 2013-14 में भारत फोर्ज ने भाजपा को एक करोड़ पचास लाख रुपये का चंदा दिया था। यानी 2014 से 2015 के बीच कल्याणी समूह से भाजपा को सात करोड़ रुपये का चंदा गया था। 2014 चुनावी वर्ष था। उसी वर्ष नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री चुने गए थे। कंपनियों द्वारा भाजपा को दिए गए डोनेशन की जानकारी myneta.info पर मौजूद है।

पीएम केयर्स फंड में दिया था 25 करोड़ रुपया

कोरोना महामारी के दौरान कल्याणी समूह ने पीएम केयर्स फंड में 25 करोड़ रुपये का दान दिया था। तब बाबा कल्याणी ने अपने बयान में कहा था, ”समूह केंद्र और राज्य सरकारों के साथ-साथ स्थानीय स्तर पर भी निकायों की मदद के लिए प्रतिबद्ध है ताकि इस महामारी के संकट के समय हर संभव सहायता मुहैया कराई जा सके।”

पीएम मोदी को असाधारण नेता बता चुके हैं बाबा कल्याणी

कल्याणी समूह के चेयरमैन बाबा कल्याणी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ कर चुके हैं। पीएम मोदी ने खुद बाबा कल्याणी द्वारा की गई तारीफ के शब्दों को अपने ट्विटर पर साझा किया था। उन्होंने कहा था, ”पीएम मोदी एक असाधारण नेता हैं जिन्होंने बहुत कम समय में विश्व मंच पर एक महत्वपूर्ण छाप छोड़ी है।

उनके मार्गदर्शन से देश की अर्थव्यवस्था दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बनी है। समावेशी विकास के उनके दृष्टिकोण ने हमारे लाखों लोगों को बेहतर कल की उम्मीद दी है। प्रधानमंत्री के विभिन्न कार्यक्रम देश को तेज और संतुलित आर्थिक और औद्योगिक विकास की ओर ले जाएंगे।”

रक्षा सौदे से कंपनी के शेयर में उछाल

CNBCTV18 की रिपोर्ट के मुताबिक, डिफेंस डील की सूचना मीडिया में आने के बाद कल्याणी स्ट्रैटेजिक सिस्टम्स की पैरेंट कंपनी भारत फोर्ज लिमिटेड के शेयरों ने 9 नवंबर को 52-सप्ताह का उच्चतम स्तर छू लिया था। कल्याणी स्ट्रैटेजिक सिस्टम्स की स्थापना 2010 में हुई थी। कल्याणी ने एयर डिफेंस सिस्टम बनाने के लिए इजरायल एयरोस्पेस इंडस्ट्रीज के साथ कोलैबोरेशन किया है।

पढें मुद्दा समझें (Explained News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 18-11-2022 at 07:42:44 pm
अपडेट