scorecardresearch

FIFA World Cup Qatar 2022: कतर में ‘ज़िना’ के कारण अनमैरिड कपल्स को नहीं मिल रहा कमरा, थूकने पर देना पड़ता है 2 लाख रुपये का जुर्माना

FIFA World Cup शुरु होने के बहुत पहले से कतर के अधिकारियों ने बार-बार फुटबॉल प्रशंसकों से देश की संस्कृति का सम्मान करने और उसके कानूनों का पालन करने की इच्छा दोहराई है।

FIFA World Cup Qatar 2022: कतर में ‘ज़िना’ के कारण अनमैरिड कपल्स को नहीं मिल रहा कमरा, थूकने पर देना पड़ता है 2 लाख रुपये का जुर्माना
ज़िना के तहत कुछ देशों में कोड़े मारने या पत्थर मारने की सजा भी है (AP Photo/Julio Cortez)

What fans can’t do in Qatar: कतर की मेज़बानी में फुटबॉल की सबसे बड़ी प्रतियोगिता FIFA World Cup जारी है। कतर पहला इस्लामिक देश (Islamic Country) है, जिसे फीफा की जिम्मेदारी मिली है। मैच का सिलसिला जारी है। लेकिन मैच देखने पहुंचे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, फुटबॉल मैच का आनंद लेने पहुंचे अविवाहित जोड़ों (Unmarried Couple) को होटल मिलने में परेशानी आ रही है, कई स्टेडियमों में बीयर पीने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है, सार्वजनिक स्थान पर खास तरह से ड्रेस पहनने का दबाव झेलना पड़ रहा है।

कुल मिलाकर कतर के रूढ़िवादी कल्चर से फैन्स फीफा को खुलकर इंजॉय नहीं कर पा रहे हैं। आइए जानते हैं कतर के उन कानूनों के बारे में जिसकी वजह से फैन्स को परेशानी हो रही है:

अनमैरिड कपल को लेकर क्या है कानून? (Unmarried couples in Qatar)

कतर के बारे में विस्तृत जानकारी रखने का दावा करने वाली वेबसाइट ‘Qatar Day’ के मुताबिक, कतर में अनमैरिड कपल का एक-साथ रहना कानून के खिलाफ है। एक पुरुष और एक महिला, जिनके बीच कोई पारिवारिक संबंध न हो, वह एक साथ एक घर में नहीं रह सकते। यह कानून सिर्फ कपल्स पर ही नहीं बल्कि दोस्तों, हाउसमेट्स या फ्लैटमेट्स पर भी लागू होता है।

यहां तक ​​कि अगर जोड़े की सगाई हो जाती है, तब भी उन्हें शारीरिक संबंध बनाने की अनुमति नहीं होती क्योंकि वे अभी तक आधिकारिक रूप से विवाहित नहीं हैं। Qatar Day ने अपने आर्टिकल में लिखा है कि हमें इस तथ्य को नहीं भूलना चाहिए कि कतर एक मुस्लिम देश, जिसकी अपनी अलग संस्कृति और कानून है।

कुल मिलाकर इतना स्पष्ट है कि कतर में बिना शादी किए शारीरिक संबंध (Qatar Criminalizes Unmarried Physical Relation) बनाना कानून जुर्म है। ब्रिटिश समाचार आउटलेट डेली स्टार ने फीफा अधिकारियों के हवाले से जून 2022 में ही बता दिया था कि अनमैरिड कपल के शारीरिक संबंध बनाने पर सात साल की सजा हो सकती है। इसके अलावा कतर के कानून के मुताबिक, सार्वजनिक जगहों पर शारीरिक संबंध बनाते पकड़े जाने पर भी गिरफ्तारी हो सकती है।

ज़िना कानून के तहत पत्थर मारने की सजा

The Humanitarian पर प्रकाशित एक आर्टिकल के मुताबिक, कतर समेत अधिकांश मिडिल ईस्ट देशों में “ज़िना” कानून अविवाहित जोड़ों के बीच यौन संबंध को प्रतिबंधित करता है। ज़िना इस्लामी कानून पर आधारित है जो कानूनी विवाह के बाहर किसी भी यौन संपर्क को अपराध मानता है।

ह्यूमन राइट्स वॉच का कहना है कि उत्तरी अफ्रीका और मध्य पूर्व के अधिकांश हिस्सों में ज़िना कानून अलग-अलग इंटेंसिटी के साथ मौजूद हैं। आम तौर पर कारावास की सजा होती है। वही कुछ देशों में कोड़े मारने या पत्थर मारने की सजा भी है। हालांकि कतर और संयुक्त अरब अमीरात में ऐसे मामलों में कारावास का ही प्रावधान है।

होमोसेक्सुअलिटी है दंडनीय अपराध (What are Qatar’s homosexuality laws?)

सीएनएन की एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, कतर में दो पुरुषों या महिलाओं के बीच शारीरिक संबंध ना सिर्फ गैर कानूनी है बल्कि दंडनीय अपराध भी है। अपराध साबित होने पर Penal Code 2004 के तहत सात साल के कठोर कारावास का प्रावधान है।

मारपीट और गंदगी फैलाने पर 2 लाख का जुर्माना

CNN की रिपोर्ट के मुताबिक, फुटबॉल देखने गए फैन्स अगर कतर में लड़ाई करते हैं, तो उन्हें 10,000 रियाल (2,24,340 रुपये) तक का जुर्माना और कारावास की सजा हो सकती है। कतर में सार्वजनिक स्थान पर गंदगी फैलाने जैसे- थूकने, पेशाब करने और शौच करने पर भी कारावास और 10,000 रियाल तक के जुर्माने का प्रावधान है।

पढें मुद्दा समझें (Explained News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 24-11-2022 at 04:40:31 pm
अपडेट