ताज़ा खबर
 

‘माया’ वेब सीरीज एक्ट्रेस ने बयां की अपनी दास्तां, ‘बायपोलर डिसऑर्डर’ पर खुलकर बोलीं शमा सिकंदर

शमा अपने डिसऑर्डर को लेकर बताती हैं कि मार्च साल 2016 में उन्हें बायपोलर डिसॉर्डर हो गया था। हालांकि अब वह उन मुश्किल हालातों पर जीत हासिल कर चुकी हैं।

एक्ट्रेस शमा सिकंदर

टीवी एक्ट्रेस शमा सिकंदर साल 2013 में सोनी एंटरटेनमेंट के सीरियल ‘ये मेरी लाइफ है’ में नजर आई थीं। शमा सिकंदर आमिर खान के साथ भी काम कर चुकी हैं। वहीं इन दिनों एक्ट्रेस इंस्टाग्राम पर अपनी तस्वीरों के माध्यम से सुर्खियां बटोर रही हैं। शमा इंस्टाग्राम पर अपनी कई बोल्ड और ब्यूटीफुल तस्वीरें शेयर करती रहती हैं। कुछ वक्त पहले शमा ने ने एक वेब सीरीज में काम किया था। विक्रम भट्ट की वेब सीरीज ‘माया’ में शमा का बोल्ड रूप देखने को मिला। इसके बाद एक्ट्रेस बायपोलर डिसऑर्डर का शिकार हो गई थीं। हालांकि इस दौरान वह कमजोर नहीं पड़ीं और डिसऑर्डर के सामने बिनाझुके लड़ती रहीं।

शमा अपने डिसऑर्डर को लेकर बताती हैं कि मार्च साल 2016 में उन्हें बायपोलर डिसऑर्डर हो गया था। हालांकि अब वह उन मुश्किल हालातों पर जीत हासिल कर चुकी हैं। अब शमा चाहती हैं कि वह बायपोलर डिसऑर्डर के वक्त जिन परिस्थितियों से गुजरी हैं, ऐसे हालातों में वह अन्य लोगों की सहायता कर सकें। इस बीमारी पर वह लोगों से बात कर सकें और ज्यादा से ज्यादा अवेयरनेस फैला सकें। इसके चलते अब उनका मक्सद है कि वह एक शार्ट फिल्म सीरीज लाएं ‘अब दिल की सुन’। यह सीरीज मेंटल हेल्थ के ईशूज और ऐसा होने पर कैसे डील किया जाए, इस पर होगी।

आईएनएस की रिपोर्ट के अनुसार, शमा बताती हैं, ‘ मैं नहीं जानती कि मैंने इस दौरान कैसे सर्वाइव किया।’ शमा कहती हैं कि यह वक्त उनके लिए बड़ा ही कठिन था। शमा बताती हैं, ‘मुझे नहीं पता मैंने कैसे सर्वाइव किया। वह वक्त बहुत कठिन था। आज भी मैं यही सोचती हूं कि मैं कितनी स्ट्रॉन्ग थी। मुझे ये दिक्कत थी लेकिन मैंने कभी इसे किसी को बताने में शर्म महसूस नहीं की।’

शमा आगे कहती हैं कि वह इस बारे में लोगों को जागरूक करना चाहती हैं। लोगों से इस बारे में बात करना चाहती हैं। वह कहती हैं, ‘हर अंधेरे के बाद उजाला होता है। इसलिए घबराइए नहीं। मैं इससे बाहर आ सकती हूं आप भी आ सकते हैं। अब ये मेरा एम बन गया है। इस बारे में मैं जागरूकता फैलाने के सफल प्रयास कर रही हूं।’

‘अब दिल की सुन’ के कॉन्सेप्ट पर बात करते हुए शमा कहती हैं, ‘मैं खुद के साथ और दूसरों के साथ खेलती हूं। मैं आप हूं, और महम सब इस दुनिया में जी रहे हैं। यह खक ओपन कॉन्वर्जेशन है। इसे करने का मकसद है कि हम लोगों को इकट्ठा कर सकें और इस इलनेस और इसके पीछे के डिप्रेशन को समझ सकें।’

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App