ताज़ा खबर
 

Yash Raj Films के नाम में कौन हैं ‘राज’, जिनका नाम यश चोपड़ा ने खुद से जोड़ लिया

यश चोपड़ा की फिल्म वीर जारा का नाम पहले 'ये कहां आ गए हम' होने वाला था। यह उनकी फिल्म सिलसिला के फेमस गाने के लिरिक्स हैं। लेकिन फिर उन्हें लगा कि फिल्म की कहानी के साथ 'वीर जारा' ज्यादा बेहतर रहेगा।

रोमांस को एक बेहतरीन अंदाज में पर्दे पर उतारने वाले यश चोपड़ा एक बेमिसाल डायरेक्टर और बेहतरीन पर्सनैलिटी थे। आज यानि 27 सितंबर को यश चोपड़ा की बर्थ एनिवर्सरी है। इस मौके पर आपको बताते हैं कि किस तरह उन्होंने अपने प्रोडक्शन हाउस का नाम यशराज फिल्म रखा। जबकि उनका नाम यश चोपड़ा था।

यश चोपड़ा की शुरुआती फिल्में उनके भाई बीआर चोपड़ा प्रोड्यूस किया करते थे। उन्होंने 1959 में आई फिल्म धूल का फूल से बतौर डायरेक्टर शुरुआत की थी। साल 1971 में अपनी प्रोडक्शन कंपनी खोलने के लिए उन्होंने अपना घर और भाई का साथ छोड़ दिया। इसके बाद साल 1973 में उन्होंने अपने प्रोडक्शन तले राजेश खन्ना के साथ फिल्म दाग बनाई। इस तरह ‘यशराज’ फिल्म्स को अपना नाम मिला। इसमें यश चोपड़ा के नाम से यश और राजेश खन्ना के नाम से राज लेकर एक नाम बनाया गया जो आज तक बेहतरीन फिल्में दे रहा है।

अपनी सभी फिल्मों में से यश चोपड़ा की सबसे फेवरेट फिल्म लम्हें थी। जिसमें अनिल कपूर और श्रीदेवी ने काम किया था। यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर तो कोई खास कमाल नहीं कर पाई थी। लेकिन यह फिल्म उस समय सोच से कहीं ज्यादा आगे थी।

यश चोपड़ा ने स्विट्जरलैंड के Alpenrausch इलाके की एक झील के किनारे इतनी बार शूटिंग की थी कि उसे यश चोपड़ा लेक के नाम से भी जाना जाता है। यहां तक कि स्विट्जरलैंड के जंगफ्रौ रेलवे स्टेशन पर यश चोपड़ा के नाम से एक ट्रेन भी शुरू की थी। इस ट्रेन की शुरुआत खुद यश चोपड़ा से करवाई गई थी।

यश चोपड़ा ने फिल्म सिलसिला के लिए पहले स्मिता पाटिल और परवीन बाबी को कास्ट किया था। जबकि असल में वो रेखा और जया को लेना चाहते थे। जब उन्होंने इस इच्छा के बारे में अमिताभ बच्चन को बताया तो उन्होंने दोनों एक्ट्रेसेज से बात की और दोनों ने हां कर दी। इसके बाद इस कल्ट क्लासिक फिल्म की शूटिंग शुरू हुई। यश चोपड़ा ही थे जिन्होंने जावेद अख्तर के प्रोत्साहित किया और सिलसिला फिल्म के लिए गाने लिखने को कहा। इस फिल्म के साथ बाद जावेद अख्तर ने बतौर लिरिसिस्ट अपने करियर की शुरुआत की।

यश चोपड़ा की फिल्म वीर जारा का नाम पहले ‘ये कहां आ गए हम’ होने वाला था। यह उनकी फिल्म सिलसिला के फेमस गाने के लिरिक्स हैं। लेकिन फिर उन्हें लगा कि फिल्म की कहानी के साथ ‘वीर जारा’ ज्यादा बेहतर रहेगा। यश अपनी फिल्मों को लेकर बहुत संभल कर रहते थे। फिल्म ‘दिल तो पागल है’ में उन्होंने माधुरी के कैरेक्टर का लुक फाइनल करने से पहले मनीष मल्होत्रा की 54 ड्रेस रिजेक्ट की थीं। इसके बाद उन्होंने सिंपल सलवार कमीज वाला लुक सिलेक्ट किया था।

Read Also:रियल लाइफ में काफी बिंदास है टीवी शो ‘इच्छाप्यारी नागिन’ की क्यूट नागिन प्रियाल गौर

The Icon…Yash Chopra

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App