ताज़ा खबर
 

International Left Handers Day: ‘शराबी’ में अमिताभ बच्चन ने दाएं हाथ में क्यों पकड़ा था शराब का गिलास? जानें

Left Handers Day 2018: इसी तरह साल 2005 में यह भी पता चला था कि अमिताभ बच्चन को लीवर से संबंधित समस्याएं भी हैं। शरीर में लगे वायरस ने अमिताभ के 75प्रतिशत लीवर को खत्म कर दिया था।

अमिताभ बच्चन फोटो सोर्स – (वीडियो स्क्रीनशॉट)

International Left Handers Day: 13 अगस्त को International Left Handers Day मनाया जाता है। इस मौके पर हम आपको सदी के महानायक अमिताभ बच्चन से जुड़ी एक दिलचस्प कहानी से रुबरु कराएंगे। महानायक अमिताभ बच्चन की सुपरहिट फिल्म ‘शराबी’ ज्यादतर लोगों ने देखी होगी। फिल्म में बिग बी का स्टाइल, उनके डॉयलॉग और फिल्म के गानों पर उनका डांस लोगों के दिल-ओ-दिमाग पर आज भी चस्पा है। इस फिल्म के ज्यादातर सीन में अमिताभ बच्चन का बायां हाथ उनकी पैंट की जेब के अंदर ही नजर आया था। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसकी असली वजह क्या है? कई लोग आज भी यह समझते हैं कि फिल्म में अमिताभ बच्चन का यह स्टाइल फिल्म की स्क्रिप्ट की हिसाब से तय किया गया था। लेकिन इसकी असली वजह कुछ और ही है। दरअसल अमिताभ बच्चन का बायां हाथ पटाखा छोड़ते वक्त बुरी तरह झुलस गया था।

जी हां, अमिताभ बच्चन ने खुद इस बारे में बतलाया था कि पटाखा जलाते वक्त उनके बाएं हाथ की सभी ऊंगलियां जल गई थीं। चिकित्सकों ने करीब 1 साल तक उनके जले हुए हाथ का इलाज किया था। जिसके बाद यह पूरी तरह से ठीक भी हो गया था। जब अमिताभ के साथ यह हादसा हुआ था उस वक्त उनका बायां हाथ पूरी तरह से नाकाम हो गया था, वो अपने इस हाथ का बिल्कुल भी इस्तेमाल नहीं कर पा रहे थे। यहीं वजह है कि फिल्म में उनका जला हुआ हाथ ज्यादातर उनकी जेब में ही रहता था।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XA Dual 16 GB (White)
    ₹ 15940 MRP ₹ 18990 -16%
    ₹1594 Cashback
  • Moto Z2 Play 64 GB Lunar Grey
    ₹ 14999 MRP ₹ 29499 -49%
    ₹2300 Cashback

आपको बता दें कि साल 2000 में जब अमिताभ बच्चन ‘कौन बनेगा करोड़पति‘ के लिए शूट कर रहे थे उस वक्त उन्हें स्पाइन पेन हुआ था। इलाज के दौरान उन्हें ट्यूब्रोकुलोसिस होने का पता भी चला था। हालांकि डॉक्टरों ने इलाज कर इसे पूरी तरह से ठीक कर दिया था। इसी तरह साल 2005 में यह भी पता चला था कि अमिताभ बच्चन को लीवर से संबंधित समस्याएं भी हैं। शरीर में लगे वायरस ने अमिताभ के 75प्रतिशत लीवर को खत्म कर दिया था। अब अमिताभ बच्चन अपने बचे हुए मात्र 25 प्रतिशत लीवर के साथ ही जी रहे हैं।

इसके अलावा उनकी मशहूर फिल्म ‘कुली’ की शूटिंग के दौरान भी उन्हें गंभीर चोट आई थी। उस वक्त मुंबई के ब्रिच कैंडी अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। इलाज के दौरान अमिताभ को काफी मात्रा में खून की जरूरत पड़ी थी। बिग बी को बचाने के लिए करीब 200 लोगों ने अपना खून डोनेट किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App