ताज़ा खबर
 

जब राजेश खन्ना का ब्राउन सूट लड़कियों ने कर डाला लाल-पीला, काका के लिए ऐसा था दीवानगी का आलम; जूनियर मेहमूद ने सुनाया किस्सा

राजेश खन्ना तब तक अपनी गाड़ी से बाहर नहीं निकल पाते थे जब तक लड़कियों को हटाया नहीं जाता था। बाद में जब राजेश खन्ना गाड़ी से उतरते थे तो देखते थे कि उनकी गाड़ी पर इतने लिप्सटिक के निशान हैं कि वह सफेद से लाल और गुलाबी हो गई है।

सुपरस्टार राजेश खन्ना (फोटो सोर्स – इंडियन एक्सप्रेस)

80 के दशक के सुपरस्टार राजेश खन्ना के पीछे लड़कियां दीवानी थीं। राजेश खन्ना की गाड़ी जब मुंबई के कार्टर रोड़ पर रुकती थी तो काका की फीमेल फैन्स उनकी गाड़ी को घेर लिया करती थीं और चूमना शुरू कर देती थीं। राजेश खन्ना तब तक अपनी गाड़ी से बाहर नहीं निकल पाते थे जब तक लड़कियों को हटाया नहीं जाता था। बाद में जब राजेश खन्ना गाड़ी से उतरते थे तो देखते थे कि उनकी गाड़ी पर इतने लिप्सटिक के निशान हैं कि वह सफेद से लाल और गुलाबी हो गई है।

फिल्म कटी पतंग की शूटिंग के दौरान भी कुछ ऐसा ही हुआ। इस बार में फिल्म एक्टर जूनियर मेहमूद ने बताया था। जब जूनियर मेहमूद राजेश खन्ना संग ‘कटी पतंग’ में काम कर रहे थे तब ये वाक्या हुआ था। वह बताते हैं- ‘शूटिंग चल रही थी, तभी सूट बूट में एक शख्स आता है। वह आते ही शक्ति सामंत से मिलता है और अंग्रेजी में कुछ कहता है। हमारा तो उस वक्त अंग्रेजी में हाथ तंग था। जो अंग्रेजी हम बोलते थे वो सामने वाले के पल्ले नहीं पड़ती थी। हमें लगा था कि वह कोई फाइनेंसर होगा। बाद में पता चला कि वह किसी कॉलेज के प्रिंसिपल थे। ‘

उन्होंने कहा-‘वह खास परमिशन लेने आए थे फिल्ममेकर से। उनके कॉलेज की कुछ लड़कियां राजेश खन्ना से मिलने के लिए बेताब थीं। इस सिलसिले में कॉलेज के प्रिंसिपल बात करने आए थे। प्रिंसिपल ने कहा कि लड़कियां काका की दीवानी हैं और वह उनकी फिल्म की शूटिंग देखना चाहती हैं और उनसे मिलना चाहती हैं, कुछ तस्वीरें खिंचवाना चाहती हैं।’ राजेश खन्ना को बेहद पसंद आ गई थी एक लक्जरी कार, ‘आशीर्वाद’ तक आ पहुंची थी गाड़ी; लेकिन तभी खराब हो गया काका का मूड!

वहीं मेकर्स ने भी इस बात को नजरअंदाज नहीं किया क्योंकि वह राजेश खन्ना की फैंस थी ऐसे में लड़कियों को परमिशन दे दी गई सेट पर आने की। जूनियर मेहमूद ने बताया- ‘अब हम सेट पर खड़े होकर बातें कर रहे थे। तभी हमने क्या देखा लड़कियों से भरी बस दूर से आ रही है जिसमें लड़कियां जोर जोर से चिल्ला रही हैं और राजेश खन्ना का नाम ले रही हैं। हमारे टाइम पर वैनिटी वगैरा तो होती नहीं थीं। वो करीब तीस लड़कियां थीं, और प्रिंसिपल आगे बैठे थे। वो जमाना ऐसा था नहीं कि सेल्फी ले सकें। ऐसे में वह लड़कियां फोटोग्राफर साथ लाई थीं।’

वह आगे बोले- ‘राजेश खन्ना ने ब्राउन कलर का सूट पहना हुआ था। उस सूट को पहन कर उन्हें अभी और शॉट्स देने थे। इधर, लड़कियां बस से उतरीं और आते ही राजेश खन्ना पर टूट पड़ीं। सभी लड़कियां एक जैसा बिहेव कर रही थीं। बड़ी मुश्किल से प्रिंसिपल ने उन सभी लड़कियों को काका से दूर किया तो क्या देखते हैं। काका का ब्राउन सूट सारा लाल पीला हो रखा था। जब डायरेक्टर ने राजेश खन्ना के कपड़ों की हालत देखी तो वह सोचने लगे कि अब सीक्वेंस कैसे होगा? कोट का कलर ही चेंज हो गया था। इसके बाद उस सीक्वेंस को ही बदलना पड़ा और दूसरा सीक्वेंस शूट करना पड़ा। उस दिन हमने ये देखा तो लगा कि इसे कहते हैं दीवानगी।’

Next Stories
1 बीजेपी को वोट द‍िलाने की चाल है ‘योगी-मोदी रार’- फिल्ममेकर ने दी राय तो लोगों ने क‍िए ऐसे कमेंट्स
2 जब जिद पर अड़ गई थीं मधुबाला- पिता से माफी मांगो, शादी कर लूंगी! दिलीप कुमार ने दिया था ये जवाब; पढ़ें पूरा किस्सा
3 दिलीप कुमार को ‘साहेब’ और ‘कोहिनूर’ कहकर बुलाती हैं पत्नी शायरा बानो, हर दिन उतारती हैं नज़र; दिलचस्प है वजह
ये पढ़ा क्या?
X