शराब के नशे में धुत जब उस रात श्रीदेवी के कमरे में जा पहुंचे संजय दत्त, बेहद नाराज हो गई थीं एक्ट्रेस

कहा जाता है कि संजय दत्त ने तय किया था कि वह कैसे भी करके श्रीदेवी से मिलकर रहेंगे। उस वक्त संजय दत्त ने शराब पी हुई थी। जब संजय दत्त सेट पर आए तो उन्हें श्रीदेवी कहीं नजर नहीं आईं। ऐसे में वह श्रीदेवी को इधर उधर देखने लगे।

Sanjay Dutt, Sridevi, श्रीदेवी, संजय दत्त, Sanjay Dutt Sridevi
संजय दत्त और श्रीदेवी (फोटो सोर्स- इंस्टा श्रीदेवी फैनपेज)

संजय दत्त और श्रीदेवी ने साल 1993 में फिल्म ‘गुमराह’ में काम किया था। इस फिल्म को दर्शकों ने बहुत पसंद किया था। फिल्म में संजय दत्त और श्रीदेवी की जोड़ी को भी काफी सराहा गया था। ऑन स्क्रीन तो श्रीदेवी और संजय दत्त को काफी वाहवाही मिली लेकिन ऑफ स्क्रीन श्रीदेवी संजय दत्त से बात तक करना पसंद नहीं करती थीं। महेश भट्ट द्वारा निर्देशित इस फिल्म के सेट पर संजय दत्त और श्रीदेवी की आपस में बात ही नहीं होती थी।

असल में श्रीदेवी के साथ साल 1983 में एक घटना घटी थी। उस वक्त श्रीदेवी जीतेंद्र के साथ फिल्म ‘हिम्मतवाला’ में काम कर रही थीं। श्रीदेवी के साथ जो घटना घटी थी उसी के बाद से एक्ट्रेस ने फैसला ले लिया था कि वह कभी भी संजय दत्त के साथ काम नहीं करेंगी। दरअसल, उस जमाने में संजय दत्त श्रीदेवी के बहुत बड़े फैन हुआ करते थे। फिल्म ‘हिम्मतवाला’ की शूटिंग मुंबई में ही चल रही थी। तभी संजय दत्त के एक दोस्त ने बताया कि श्रीदेवी पास में ही एक फिल्म की शूटिंग कर रही हैं। तो ऐसे में संजय दत्त श्रीदेवी को देखने के लिए सेट पर चले गए।

कहा जाता है कि संजय दत्त ने तय किया था कि वह कैसे भी करके श्रीदेवी से मिलकर रहेंगे। उस वक्त संजय दत्त ने शराब पी हुई थी। जब संजय दत्त सेट पर आए तो उन्हें श्रीदेवी कहीं नजर नहीं आईं। ऐसे में वह श्रीदेवी को इधर-उधर देखने लगे। तभी वह श्रीदेवी के कमरे तक जा पहुंचे। यूं अचानक किसी को अपने कमरे में घुसते देख श्रीदेवी हैरान रह गईं। उस वक्त संजय दत्त नशे में धुत थे ऐसे में एक्ट्रेस काफी डर गईं। संजय दत्त की आंखें लाल थीं जिन्हें देख कर श्रीदेवी चीख पड़ीं।

श्रीदेवी की चीख सुन वहां बाकी लोग आ गए और संजय दत्त को वहां से खींच कर बाहर ले जाया गया। इस घटना के बारे में एक बार संजय दत्त से पूछा गया था तब एक्टर ने कहा था- ‘मैं उनके कमरे में गया था, लेकिन ये मुझे जरा भी याद नहीं कि मैंने उनके कमरे में जाकर क्या कहा, या क्या बात हुई, मेरा बिहेव कैसा था। मुझे कुछ याद नहीं।’ ये वो वक्त था जब श्रीदेवी एक सुपरस्टार थीं।

इस किस्से के बाद श्रीदेवी ने संजय दत्त संग कभी काम न करने की कसम खाई थी। लेकिन फिर जब संजय दत्त का सितारा बुलंद हुआ तब श्रीदेवी को संजय दत्त संग फिल्म में काम करने के लिए हामी भरनी पड़ी। न चाहते हुए भी श्रीदेवी को फिल्म ‘जमीन’ में संजय दत्त के साथ काम करना पड़ रहा था ऐसे में उन्होंने फिल्म डायरेक्टर और प्रोड्यूसर के सामने कुछ शर्तें रखीं, जिन्हें मेकर्स को मानना पड़ा।

हालांकि वह फिल्म बाद में किसी और वजह से बंद हो गई थी। इसके बाद श्रीदेवी को महेश भट्ट ने फिल्म ‘गुमराह’ ऑफर की। इस फिल्म में पहले ही संजय दत्त को रख लिया गया था। हालांकि श्रीदेवी ने जोर लगाया था कि संजय को फिल्म से निकालाजा सके। लेकिन ऐसा हो नहीं पाया और अंत में संजय दत्त और श्रीदेवी के साथ ही ये फिल्म बनी।

इस फिल्म की शूटिंग के समय संजय दत्त और श्रीदेवी एक दूसरे से बात ही नहीं करते थे। ऐसे में फिल्म गुमराह के सेट का माहौल कुछ अलग रहता था। सेट पर हमेशा एक खामोशी हुआ करती थी। जब रोमांटिक सीन देना होता था तो झट से काम खत्म कर श्रीदेवी संजय दत्त से अलग हो जाती थीं।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट