मैं घमंडी होता तो पब्लिक स्टार नहीं बनाती- पत्रकार से उल्टा सवाल पूछने लगे थे राजेश खन्ना

राजेश खन्ना को लेकर कहा जाता रहा है कि सफलता की सीढ़ी चढ़ते चढ़ते एक्टर केतेवर बदलने लगे थे। राजेश खन्ना को लेकर खबरें आती थीं कि सफलता उनके सिर चढ़ गई थी।

Rajesh Khanna On His Arrogance, Rajesh Khanna,
सुपपस्टार राजेश खन्ना (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

80 के दशक के सुपरस्टार राजेश खन्ना ने अपने जीवन में बहुत उतार चढ़ाव देखे। उन्होंने अपने करियर में सफलता पाई और फिर अर्श से फर्श तक का सफर भी तय करके देखा। हालांकि करियर ढलने के बाद भी राजेश खन्ना लोगों के फेवरेट बने रहे। राजेश खन्ना को लेकर कहा जाता रहा है कि सफलता की सीढ़ी चढ़ते चढ़ते एक्टर केतेवर बदलने लगे थे। राजेश खन्ना को लेकर खबरें आती थीं कि सफलता उनके सिर चढ़ गई थी। एक्टर पर फिल्म के सेट पर लेट आने से लेकर एटीट्यूड दिखाने तक के आरोप लगते रहे।

ऐसे में राजेश खन्ना एक बार वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा के शो पर आए थे। शो में राजेश खन्ना ने तब अपनी सफाई में कहा था कि उनमें कोई घमंड नहीं है। सुपरस्टार राजेश खन्ना ने शो आपकी अदालत में कहा था- ‘किसे अपना कहें कोई इस काबिल नहीं होता। पत्थर तो बहुत मिलते हैं, लेकिन दिल नहीं। मैं दिल पर हाथ रखकर कसम खाता हूं, कि मैं सच ही कहूंगा। सच्चाई छिप नहीं सकती बनावट के उसूलों से, खुशबू आ नहीं सकती कागज के फूलों से।’

राजेश खन्ना ने इस बीच पत्रकार रजत शर्मा से भी एक सवाल कर लिया था। उन्होंने कहा था- ‘हमारी जो ऑडियंस हैं, जो लोग हैं, उन्होंने मुझे एक्टर से स्टार बनाया, स्टार से सुपरस्टार बनाया। अगर मैं घमंडी होता तो मुझे कभी न बनाते। क्योंकि ये पब्लिक है सब जानती है अंदर क्या है बाहर क्या है सब पहचानती है। ये सब जानते हैं, लोगों से कुछ छिपा नहीं है। यहां जो जनता बैठी है मुझसे प्यार करती है। हमारे जज साहिबा हमें प्यार करते हैं। आप करते हैं कि नहीं रजत जी?’ राजेश खन्ना की इस बात पर रजत शर्मा हंस पड़े थे और सिर हिला कर हां में जवाब दिया था।

राजेश खन्ना ने आगे शायराना अंदाज में कहा था-‘आप न जाने मुझको समझते हैं क्या मैं तो कुछ भी नहीं हूं। इतनी बड़ी भीड़ का प्यार मैं रखूंगा कहां, मैं इसके काबिल नहीं, मेरे हमदम मेरे दोस्त। इज्जतें शोहरतें उल्फतें चाहतें, सबकुछ इस दुनिया में रहता नहीं, आज मैं हूं जहां कल कोई औऱ था, ये भी एक दौर है वो भी एक दौर था।’

एक्टर ने आगे कहा था- ‘एक कर्ज चुकाने आया हूं कि इस जनता ने मुझे बहुत प्यार दिया। प्यार मुझे मिलता तो था पर उस प्यार को मैं लुटा न सका। तो आज उस कर्ज को चुकाने आया हूं यहां। देखिए इंसान वो है जो अपनी गलती को माने। जो गलती महसूस करता है, वो बहुत बड़ा होता है। लेकिन जो ये समझे कि वो गलती नहीं कर रहा है, और सही रास्ते पर है तो जिस रास्ते पर ऊपर वाले ने हमें डाल दिया है, मैं तो यही कहूंगा कि हम तो गुजरेंगे उसी रास्ते से और खुशी खुशी चलते जाएंगे।’

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट