जब संजय दत्त को जेल में राखी बांधने पहुंची थीं प्रिया, संजू का दिया तोहफा देख रो पड़ा था दत्त परिवार

1993 के मुंबई बम ब्लास्ट में संजय दत्त का नाम भी सामने आया था, तब उनकी जिंदगी में मुसीबतों का दौर शुरू हो गया था।

Sanjay Dutt, Sunil Dutt, Priya Dutt, Sanjay Dutt, Dutt family,
संजय दत्त बहन प्रिया दत्त के साथ (फोटो सोर्स- फाइनेंशियल एक्सप्रेस)

बॉलीवुड स्टार संजय दत्त ने अपने जीवन में कई उतार-चढ़ाव देखे हैं। जब संजय दत्त अपने मुश्किल दौर से गुजर रहे थे, तब उनका परिवार भी उनकी इस पीड़ा से बहुत दुखी था। ‘मिस्टर एंड मिसेज दत्त – मेमोरीज ऑफ आर पैरेंट्स’ किताब में संजय दत्त की बहन प्रिया और नम्रता ने कई बातों का खुलासा किया है। 

इस किताब में संजय दत्त की बहन प्रिया ने उस दौर के बारे में भी जिक्र किया है, जब वो जेल में भाई को राखी बांधने गई थीं। बता दें, 1993 के मुंबई बम ब्लास्ट में संजय दत्त का नाम भी सामने आया था, तब उनकी जिंदगी में मुसीबतों का दौर शुरू हो गया था। यह वाकया साल 1994 का है जब संजय दत्त की बेल कैंसिल कर दी गई थी और उन्हें दोबारा गिरफ्तार कर लिया गया था।

‘मेमोरीज ऑफ आर पैरेंट्स’ किताब के अनुसार प्रिया दत्त अगस्त 1994 में संजय दत्त से राखी के मौके पर जेल में मिलने गई थीं। प्रिया जब जेल में पहुंचीं तो भाई संजू को उस हालत में देख वह बहुत इमोशनल हो गई थीं। संजय काफी उदास थे, लेकिन बहन को उनके दुख का एहसास न हो इसलिए चेहरे पर झूठी हंसी की चादर ओढ़ रखी थी। उस दिन जेल के अंदर ही प्रिया ने संजू को राखी बांधी थी।

राखी बंधवाने के बाद संजय दत्त अक्सर अपनी बहन के हाथ में कुछ न कुछ गिफ्ट रखते थे। लेकिन उस दिन संजय दत्त ज्यादा देर तक झूठी मुस्कुराहट बरकरार न रख पाए और टूट कर बोल पड़े ‘मेरे पास तुम्हें देने के लिए कुछ भी नहीं है।’ लेकिन संजय दत्त ने उस दिन भी अपनी बहन को खाली हाथ वहां से नहीं भेजा था।

किताब के मुताबिक- संजय दत्त ने जेल में मजदूरी कर जो कमाया था उसे बहन के हाथों में देकर कहा था- ‘बस मेरे पास ये एक चीज है जो मैं तुम्हें दे सकता हूं।’ संजय दत्त ने प्रिया को 2 रुपए का कूपन दिया था जो कि उन्हें जेल में काम करने के बाद मेहनताने के तौर पर मिला था।

प्रिया ने उस वक्त बताया था- ‘यह वक्त हमारे परिवार के लिए काफी इमोशनल था।’ संजय दत्त द्वारा दिए गए उस कूपन को देख प्रिया दत्त बहुत रोई थीं। उस कूपन को बहन प्रिया ने संजोकर अपने पास रख लिया था। संजय दत्त के पिता सुनील दत्त भी ये सब जानकर बहुत उदास हो गए थे।

बताया जाता है कि प्रिया के साथ वापस घर आने के बाद पिता सुनील दत्त सारी रात सो नहीं पाए थे। वह सुबह 4 बजे उठ जाते थे। बताया ये भी जाता है कि सुनील दत्त अपने कमरे का एसी भी ऑन नहीं करते थे और जमीन पर सोते थे। इसके पीछे का कारण था कि उन्हें इस बात का एहसास था कि उनका बेटा संजू इस वक्त किस परेशानी से गुजर रहा है। 

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।