ताज़ा खबर
 

अपहरण के इल्जाम से लेकर जान से मारने की कोशिश तक के आरोप, आखिर क्यों परवीन बॉबी के निशाने पर थे अमिताभ बच्चन

उस रोज़ डायरेक्टर रमेश सिप्पी की फिल्म शान का टाइटल ट्रैक शूट किया जाने वाला था…एक बड़े से झूमर के नीचे फिल्म की हीरोइन परवीन बॉबी का डांस सिक्वेस था…गाने के बोल थे, प्यार करने वाले प्यार करते हैं शान से…धुन बेहतरीन थी और शूटिंग के लिए यूनिट का हर मेंबर बेहद एक्साइटेड था कि […]

Author Updated: March 5, 2021 2:36 PM

उस रोज़ डायरेक्टर रमेश सिप्पी की फिल्म शान का टाइटल ट्रैक शूट किया जाने वाला थाएक बड़े से झूमर के नीचे फिल्म की हीरोइन परवीन बॉबी का डांस सिक्वेस थागाने के बोल थे, प्यार करने वाले प्यार करते हैं शान सेधुन बेहतरीन थी और शूटिंग के लिए यूनिट का हर मेंबर बेहद एक्साइटेड था कि तभी सेट पर शोर शराबा होने लगाये हल्ला फिल्म की हीरोइन परवीन बॉबी के मेकअप रूम से आ रहा थाआखिर ऐसा भी क्या हो गया था, जो परवीन जोऱजोर से चिल्ला रही थीं

फिल्म शान के सेट पर जिस हंगामे की हम बात कर रहे हैं उसकी उम्मीद किसी को नहीं थी….यहां तक की फिल्म के डायरेक्टर रमेश सिप्पी को भी नहींलिहाजा शोर सुनकर हर कोई मेकअफ रूम की तरफ भागामगर वहां पहुंचकर जो कुछ भी देखने और सुनने को मिला, उसने सबके होश उड़ा दिएजाने माने फिल्म डायरेक्टर महेश भट्ट ने 1984 में फिल्म फेयर मैगजीन को दिए गए एक इंटरव्यू में उस हादसे को याद करते हुए कहा कि “परवीन झूमर के नीचे खड़ी होकर गाना शूट करने से इंकार रही थी, वो बार बार कह रही थी कि अमिताभ बच्चन उस पर झूमर गिराकर उसे मारने की साजिश कर रहे हैं, इस काम में डायरेक्टर रमेश सिप्पी भी शामिल हैं

जाहिर सी बात है इतना सब कुछ होने के बाद उस दिन तो गाना शूट नहीं हो पाया होगा, मगर सुपर स्टार अमिताभ बच्चन पर चलाने के लिए परवीन बॉबी की तरकश में अभी इल्ज़ामातों के और भी कई ज़हरीले तीर बाकी थेजल्दी ही अमिताभ पर परवीन का अगला इल्जाम लगाये पहले से भी ज्यादा गंभीर आरोप था

कुछ फिल्म पत्रकारों को इंटरव्यू देते हुए परवीन बॉबी ने कहा कि “उसके गुंडों ने मुझे किडनैप किया, मुझे एक सुनसान टापू पर रखा गया था, जहां ऑपरेशन करके एक चिप जैसा ट्रांसमीटर मेरे कान के पीछे फिट कर दिया गया…” परवीन बॉबी के इल्जाम बिल्कुल उनकी फिल्मों की कहानियों की तरह थे, लिहाजा उन पर लोगों ने कुछ खास ध्यान नहीं दिया

परवीन बॉबी इस बार सिर्फ शोर मचाकर शांत नहीं हुईं, उन्होंने अमिताभ बच्चन के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई और उन्हें कोर्ट में घसीट लियातो फिर अमिताभ कोर्टकचहरी के झंझटों से छूटे कैसेजवाब महेश भट्ट के उस इंटरव्यू में छिपा है, जो उन्होंने 1984 में फिल्म फेयर को दिया थाअपने इंटरव्यू में महेश भट्ट ने बताया कि परवीन को सिजोफ्रेनिया नाम की मानसिक बीमारी है, जिसके चलते इंसान का दिमाग ये सोचने लगता है कि उसे कोई शख्स मारना चाहता है। उसका इलाज कराने की जितनी भी कोशिश की गई, मर्ज उतना ही बढ़ता गया”

बहरहाल सिजोफ्रेनिया की बात सामने आ जाने से अमिताभ बच्चन को कोर्ट ने तो क्लीन चिट्ट दे दी, मगर पूछने वाले तो ये सवाल आज भी पूछते हैं कि आखिर परवीन ने अमिताभ पर ही इल्ज़ामों की झड़ी क्यों लगाई थीक्या इसके पीछे वो रिश्ता है, जो कहा जाता है कि कभी परवीन बॉबी और महानायक अमिताभ बच्चन के बीच हुआ करता था

कोर्ट केस से बरी होने के बाद जब मीडिया ने अमिताभ से परवीन बॉबी पर एक्शन लेने से जुड़ा सवाल पूछा था तो उन्होंने कहा कि उसे जिस तरह की बीमारी है, उसकी वजह से इंसान डरा हुआ रहता है और किसी के भी बारे में कुछ भी कल्पना कर लेता है, मुझे उसके लिए बुरा लगता है…” इतना कह कर अमिताभ मूव ऑन कर गए और रही बात परवीन की तो कुछ सालों बात लंबे वक्त के लिए शांति की तलाश में वर्ल्ड टूर पर निकल पड़ीं

1984 में अमेरिका के जॉन एफ कैनेडी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर इमिग्रेशन अधिकारियों ने परवीन को मानसिक विक्षिप्त समझ कर रोक लिया था, मगर भारतीय दूतावास के हस्तक्षेप के बाद उन्हें जाने दिया गया…2002 में परवीन अपने इस दावे के लिए सुर्खियों में आई कि उनके पास मुंबई सीरियल ब्लास्ट में संजय दत्त की भूमिका के पुख्ता सबूत हैं, मगर कोर्ट के समन जारी करने पर वो हाजिर नहीं हुईँ और आखिरकार एक दिन घर से बाहर आई तो उनके गुमनाम मौत की ख़बर

Next Stories
1 राकेश टिकैत के बयान से बढ़ी बेचैनी, दावा- किसान आंदोलन के समर्थन में इसी महीने एक BJP सांसद का इस्तीफा
2 ‘ऐसा कोई सगा नहीं जिसे अमिताभ ने ठगा नहीं’- जब महमूद का नाम ले बिग बी पर भड़क गए थे अमर सिंह; किया था ऐसा दावा
3 वक्त आ गया है अनुच्छेद 30 को हटाकर स्कूलों में सनातन धर्म की शिक्षा दी जाए- बोले महाभारत एक्टर, आने लगे ऐसे कमेंट्स
ये पढ़ा क्या?
X