जब सुनील दत्त को ढूंढते हुए सेट पर अचानक पहुंच गई थीं नरगिस, पास बैठे पति को पहचान भी नहीं पाई थीं

फिल्म का एक सीन था जिसमें सुनील दत्त को बहरूपिया बनना था। सुनील दत्त का लुक चेंज करना था ताकि वह पहचाने न जा सकें।

Nargis, Sunil Dutt, Sunil Dutt Nargis Dutt Love Story,
लेजेंड नरगिस और सुनील दत्त (फोटो सोर्स- सोशल मीडिया इंस्टाग्राम)

सुनील दत्त साल 1966 में एक फिल्म में काम कर रहे थे, जिसें बीआर चोपड़ा बना रहे थे। फिल्म में सुनील दत्त के साथ मुमताज, राजकुमार और बलराज साहनी भी थे। ‘हमराज’ फिल्म की शूटिंग महमूद स्टूडियो में चल रही थी। इस फिल्म का एक सीन था जिसमें उन्हें बहरूपिया बनना था। सुनील दत्त का लुक चेंज करना था ताकि वह पहचाने न जा सकें। सुनील दत्त को एक बुजुर्ग का किरदार निभाना था। उस वक्त सुनील दत्त का मेकअप पंढरी जुकर (Pandhari Juker) ने किया था। पंढरी जुकर उस वक्त के बेस्ट मेकअप आर्टिस्ट में से एक माने जाते थे।

पंढरी जुकर ने जब सुनील दत्त का मेकअप करना शुरू किया तो उन्होंने काले रंग का इस्तेमाल चेहरे का रंग गाढ़ा करने के लिए किया। हेयर एक्सटेंशन्स लगाए और दाढ़ी मूछ, भौहें भी लगाईं। बेसिक काम हो चुका था कि तभी ग्रीनरूम का दरवाजा बजा। दरवाजे पर आहट हुई और नरगिस की आवाज आई। नरगिस जब अंदर आईं तो उन्होंने मेकअप आर्टिस्ट से पूछा – दत्त साहब कहां हैं? ये सुनते ही पंढरी जुकर चुप हो गए और नरगिस को देखने लगे।

नरगिस ने दोबारा पूछा -दत्त साहब कहां हैं? ऐसे में सुनील दत्त ने पंढरी जुकर को इशारा किया और बताने से मना किया। वहीं पंढरी जुकर ने नरगिस से कहा कि वह तो कुछ देर के लिए बाहर गए हैं। ऐसे में नरगिस ने कहा कि- ठीक है मैं यहीं इंतजार करती हूं। अब करते-करते 2 घंटे बीत गए लेकिन सुनील दत्त मेन डोर से वापस लौट कर नहीं आए। ऐसे में नरगिस परेशान हो गईं और बोलीं कि 2 घंटे हो गए हैं और ये अभी तक नहीं लौटे?

नरगिस की बेचैनी देख कर पंढरी जुकर खुद को रोक नहीं पाए और दत्त साहब के मना करने के बाद भी उन्होंने बता दिया कि ‘दत्त साहब 2 घंटे से आपके सामने बैठे हैं।’ ये सुनते ही नरगिस दत्त चौंक गईं। वे बोलीं ‘अरे पंढरी तुमने इन्हें क्या कर दिया कि मैं अपने पति को ही नहीं पहचान पाई। कमाल कर दिया।’

उस दिन नरगिस दत्त ने खुश होकर मेकअप आर्टिस्ट पंढरी जुकर को अपनी बेहद कीमती घड़ी हाथ से उतार कर उपहार में दे दी थी। बता दें, अन्नु कपूर ने इस किस्से को अपने रेडियो शो में बताया था।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
पारस मणि के अलावा अगर आपको मिल जाएं ये चार चमत्कारी चीजें तो बदल सकता है आपका भाग्यluck, lucky thing, sanjivni buti, pars mani, somras, nagmani, ramayan संजीवनी बूटी, पारस मणि, सोमरस, नागमणि, कल्पवृक्ष, रामायण
अपडेट