ताज़ा खबर
 

तब किसलिए रेखा से उलझ गई थीं मौसमी चटर्जी, निर्माता पर बनाया था दबाव

मौसमी और रेखा ने फिल्मों में लगभग एक साथ कदम रखा था। कोई तीन साल का फर्क रहा होगा। मौसमी उस दौर में टॉप एक्ट्रेस मानी जाती थीं। हर जगह उनके रूप और...

बॉलीवुड में कई बार कैट फाइट्स हो जाती हैं। छोटी-मोटी बातों पर एक्ट्रेसेस एक-दूजे के आमने-सामने होती हैं। शब्दों के बाण चलते हैं। खुद को बेहतर बताने के दावे होते हैं। ऐसी ही एक घटना मौसमी चटर्जी से जुड़ी है। आपने इन्हें तमाम हिंदी और बंगाली फिल्मों में देखा होगा।

एक बार मौसमी जानी-मानी एक्ट्रेस रेखा से उलझ गई थीं। पता हैं क्यों? अगर नहीं तो आइए बताते हैं आपको। मौसमी और रेखा ने फिल्मों में लगभग एक साथ कदम रखा था। कोई तीन साल का फर्क रहा होगा। मौसमी उस दौर में टॉप एक्ट्रेस मानी जाती थीं।

हर जगह उनके रूप और अदायगी के चर्चे होते थे। मौसमी को सादगी भरे रोल जरूर पसंद थे, लेकिन वह निजी जिंदगी में बेहद बिंदास थीं। किसी से नहीं डरती थीं। जबकि रेखा फिल्मों से ज्यादा अपनी निजी जिंदगी के लिए स्पॉटलाइट में रहीं। उनके काफी लव अफेयर्स रहे थे।

1978 में फिल्म ‘भोला-भाला’ आई थी। इसमें नेम टाइटल को लेकर मौसमी रेखा से उलझ गईं। दरअसल, निर्माता ने नेम टाइटल में तब रेखा का नाम पहले रखा था, जिसके बाद मौसमी का नाम था। यही कारण था कि मौसमी भड़क गईं। उन्होंने अपना नाम आगे लिखवाने के लिए निर्माता पर दबाव बनाया।

मौसमी और रेखा की इस कैट फाइट के बारे में मीडिया को पता लगा। जब मौसमी से इस बारे में पूछा गया, तो उन्होंने रेखा का मजाक उड़ाया। कहा- रेखा से मेरा नाम पहले क्यों नहीं हो सकता। मैं रेखा से गई गुजरी थोड़ी हुईं हूं।

हालांकि, इस पूरे प्रकरण का कोई फलसफा नहीं निकला। निर्माता पर मौसमी के दवाब और आपत्ति जताने का कोई फर्क नहीं पड़ा। नेम टाइटल में पहला नाम रेखा का ही रखा गया। इसके बाद भी दोनों की कई फिल्में आईं, लेकिन आगे कोई नेम टाइटल जैसा विवाद नहीं हुआ।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.