फिल्म ‘आनंद’ में किशोर कुमार को करना था राजेश खन्ना वाला रोल, इस हरकत से दंग रह गए थे डायरेक्टर

किशोर कुमार इस फिल्म में काम करने के इच्छुक नहीं थे, लेकिन दोस्ती के चलते वह ऋषिकेश मुखर्जी को मना भी नहीं कर पा रहे थे। ऐसे में किशोर कुमार ने खुद के साथ कुछ ऐसा किया ताकि ऋषिकेश खुद उन्हें फिल्म से निकाल दें

Kishore Kumar, Hrishikesh Mukherjee, Rajesh Khanna,
लेजेंड किशोर कुमार (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस आरकाइव)

ऋषिकेश मुखर्जी जब फिल्म ‘आनंद’ बना रहे थे तब वे चाहते थे कि इस फिल्म में किशोर कुमार मेन रोल प्ले करें। वहीं किशोर कुमार इस फिल्म में काम करने के इच्छुक नहीं थे, लेकिन दोस्ती के चलते वह ऋषिकेश मुखर्जी को मना भी नहीं कर पा रहे थे। ऐसे में किशोर कुमार ने खुद के साथ कुछ ऐसा किया ताकि ऋषिकेश खुद उन्हें फिल्म से निकाल दें। मशहूर राइटर गुलजार के मुताबिक- किशोर कुमार इस फिल्म में आनंद के लिए ऋषिकेश मुखर्जी की पहली चॉइस थे। वहीं किशोर कुमार ही थे जिनकी वजह से राजेश खन्ना को फिल्म ‘आनंद’ में काम करने का मौका मिला।

साल 1971 में फिल्म ‘आनंद’ किशोर कुमार के साथ बनकर तैयार होने वाली थी। लेकिन फिल्म शूटिंग के कुछ दिनों पहले ही किशोर कुमार और ऋषिकेश मुखर्जी के बीच कुछ ऐसा हुआ जिसके बाद फिल्म डायरेक्टर को किशोर का रिप्लेसमेंट ढूंढना पड़ा। फिल्म से जुड़ी एक मीटिंग हुई थी जिसमें किशोर कुमार को भी शामिल होना था। फिल्म में आनंद का लुक कैसा होगा इस पर चर्चा हो रही थी। जब किशोर कुमार इस मीटिंग को अटेंड करने के लिए आए तो उन्हें देख कर वहां हर कोई शॉक हो गया। क्योंकि किशोर कुमार फिल्म शूटिंग से पहले जानबूझकर गंजे होकर वहां आए थे।

किशोर को बाल्ड देख कर ऋषिकेश मुखर्जी बेहद गुस्से में आ गए। किशोर कुमार जानते थे कि अगर ऋषिकेश मुखर्जी उन्हें ऐसे देखेंगे तो बहुत नाराज हो जाएंगे। ऐसे में उन्हें नाराज करने के लिए ही किशोर कुमार ने ऐसा किया। गुलजार के मुताबिक- ‘राजेश खन्ना नहीं बल्कि किशोर कुमार फिल्म आनंद के लिए पहली चॉइस थे। लेकिन शूटिंग शुरू होने से कुछ दिन पहले जब हमने किशोर कुमार को एक दम गंजा देखा तो हम सब शॉक हो गए। किशोर कुमार गंजे होकर ऑफिस आए और नाचते गाते हुए एंटर हुए। ऋषिकेश मुखर्जी के सामने आकर नाचते हुए उन्होंने पूछा अब तुम क्या करोगे ऋषि?’

इसके बाद ऋषिकेश मुखर्जी को आनन-फानन में एक एक्टर फाइनल करना था ऐसे में राजेश खन्ना को फिल्म में जगह मिली। किशोर कुमार के ऐसे करने को लेकर गुलजार ने कहा था- ‘मैंने ऐसा कोई शख्स नहीं देखा जो कि ऐसा करने को तैयार हो जाए।’ बता दें, सुपरहिट फिल्म आनंद के डायलॉग्स गुलजार ने ही लिखे हैं। इस फिल्म को साल 1972 में फिल्मफेयर अवॉर्ड भी मिला था।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट