ताज़ा खबर
 

जब अनिल कपूर को फिल्म में देख चौंक गए जावेद अख्तर, डायरेक्‍टर से कहा था- इसे काम मत दो!

अनिल कपूर को बताया था दुबला-पतला लेकिन बाद में जावेद अख्तर को हुआ इस बात का अफसोस।

अनिल कपूर।

अनिल कपूर के फिल्‍मी करियर की शुरूआत फिल्‍म ‘हमारे तुम्‍हारे’ से एक छोटे के किरदार से हुई थी लेकिन फिल्‍म ‘वो सात दिन’ में वह लीड रोल में नजर आए थे। इसके बाद उन्‍होंने कई फिल्‍मों में छोटी-बड़ी भूमिकाएं निभाईं और आलोचकों के साथ साथ दर्शकों का काफी मनोरंजन किया। उनके हार्डवर्क और बेहतरीन एक्टिंग की वजह से उनका नाम बी-टाउन में बड़े सम्मान के साथ लिया जाता है। चलिए आज हम आपको अनिल कपूर से जुड़ा एक रोचक किस्सा बताते हैं। जब जावेद अख्तर ने डायरेक्टर को उन्हें मिल में न लेने की सलाह तक दे डाली थी।

दरअसल यह वाकया 80 के दशक की है। उस वक्त अनिल कपूर ने कई फिल्मों में छोटे- मोटे रोल ही किए थे। 1980 में फिल्म ‘एक बार कहो’ और ‘हम पांच’ के बाद फिल्म डायरेक्टर एमएस सथ्यू ने अपनी एक फिल्म में उन्हें लेने का मन बनाया था। फिल्म का नाम था ‘कहां कहां से गुजर गया’।

जब जावेद अख्तर ने एमएस सथ्यू से फिल्म कास्ट के बारे में बात की तो उन्हें अनिल कूपर के बारे में पता चला। तब जावेद अख्तर ने अनिल कपूर को दुबला-पतला बताकर एमएस सथ्यू को उन्हें फिल्म में काम देने की सलाह दे डाली।

इसके बाद जब साल 1986 में फिल्म कहां कहां से गुजर गया रिलीज हुई तो जावेद अख्तर अनिल कपूर को देखकर चौंक गए। जावेद अख्तर ने अनिल कपूर की एक्टिंग देखी और काफी प्रभावित हुए। तब जावेद को अफसोस हुआ कि उन्होंने एसएस सथ्यू को क्यों अनिल कपूर को काम देने की सलाह दी थी। साथ ही इस बात की खुशी थी कि सथ्यू साहब ने उनकी सलाह नहीं मानी और अनिल कपूर को काम दे दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App