ताज़ा खबर
 

भड़काऊ भाईजान और तुष्टि आपा का खेला खत्म- ममता बनर्जी और ओवैसी पर बिफरे संबित पात्रा; मिला ऐसा जवाब

West Bengal Assembly Election 2021: संबित पात्रा ने ममता बनर्जी पर धार्मिक तुष्टिकरण का आरोप लगाया और एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर भी निशाना साधा। जवाब में राजनीतिक विश्लेषक दानिश कुरैशी ने ओवैसी का बचाव करते हुए कहा कि...

sambit patra, mamata banerjee, asaduddin owaisiसंबित पात्रा ने ममता बनर्जी और ओवैसी पर निशाना साधा है (Photo-PTI)

West Bengal Assembly Election 2021: पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के लिए आज मतदान हो रहे हैं। इस चरण में 44 विधानसभा सीटों के लिए मतदान हो रहे हैं, जिसके लिए बीजेपी और टीएमसी सहित सभी पार्टियों ने जोर लगा दिया है। टीएमसी की तरफ से ममता बनर्जी, अभिषेक बनर्जी और बीजेपी की तरफ से पीएम नरेंद्र मोदी, अमित शाह, योगी आदित्यनाथ आदि नेताओं ने जमकर प्रचार किया है। चुनाव प्रचार में धार्मिक मुद्दों को भी खूब उछाला जा रहा है। इन पार्टियों के प्रवक्ता टीवी चैनलों पर भी अपनी पार्टी का पक्ष रखते हुए खूब उग्रता दिखा रहे हैं। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा का रुख भी कुछ ऐसा ही है।

रिपब्लिक टीवी के डिबेट शो, ‘5 का प्रहार’ में बोलते हुए संबित पात्रा ने ममता बनर्जी पर धार्मिक तुष्टिकरण का आरोप लगाया और एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर भी निशाना साधा। उन्होंने शो के एंकर ऐश्वर्य कपूर से कहा, ‘आपके रिपोर्ट में असदुद्दीन ओवैसी को जो नाम दिया गया है, भड़काऊ भाईजान, बिल्कुल सटीक है। भड़काऊ भाईजान और तुष्टि आपा, मतलब तुष्टिकरण आपा। आप जानते हैं तुष्टिकरण आपा कौन हैं?’

संबित पात्रा ने आगे कहा, ‘दोनों जिस प्रकार से अपना आपा खो चुके हैं, बौखलाए हुए हैं, इससे एक बात स्पष्ट हो गई है कि इनका खेला शेष हो चुका है और अब सोनार बांग्ला बनने वाला है। 2 मई दीदी गई, ये होने वाला है।’

 

डिबेट पैनल में मौजूद राजनीतिक विश्लेषक दानिश कुरैशी ने ओवैसी का बचाव करते हुए कहा, ‘जिस तरीके के आरोप लगाए जा रहे हैं ओवैसी साहब पर, ये समझने की जरूरत है कि ओवैसी साहब हमेशा से कमज़ोर की आवाज बनते रहे हैं, ये सारी दुनिया जानती है। अमित शाह ने जो आरोप लगाए हैं उन पर कि वो तुष्टिकरण की बात करते हैं, उन्होंने वही कहा जो एक आम मुसलमान झेल रहा है।’

 

इधर चुनाव आयोग ने ममता बनर्जी के मुस्लिम वोटों के एकजुट होने की अपील पर उन्हें नोटिस जारी किया है। इस बात को लेकर दानिश कुरैशी ने कहा, ‘ममता बनर्जी ने जो भी कहा है, उससे मैं इत्तेफाक नहीं रखता। ममता बनर्जी को चाहिए था कि बंगाल की पूरी जनता का ख्याल रखतीं ताकि बंगाल में जो स्थिति बनी हुई है, वो न बनती।’

Next Stories
1 बड़ा भाई गरीब हो जाए तो क्या छोटा भूल जाता है? जब बोल पड़े राजेश खन्ना; दिखाने लगे थे अपना फटा कुर्ता
2 TMKOC: दया बेन की वापसी के अलावा अब एक और डिमांड कर रह फैंस, मेकर्स कर रहे शो में ट्विस्ट की तैयारी!
3 जब धर्मेंद्र और जितेंद्र को जूनियर आर्टिस्ट कहकर बुलाने लगे राजकुमार, रंजीत ने सुनाया था पूरा किस्सा
यह पढ़ा क्या?
X