scorecardresearch

मजाक मत करो, CRPF ने खुद सुरक्षा करने का फैसला किया है- शिवसेना के बागी विधायकों को मिली सुरक्षा तो बॉलीवुड सिंगर ने ऐसे कसा तंज

महाराष्ट्र के कई बागी विधायकों के घर तोड़फोड़ हुई, इसके बाद केंद्र सरकार ने सभी विधायकों को सुरक्षा दी है। 

maharashtra| uddhav thackerey| mumbai|
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Express file photo)

महाराष्ट्र में चल रहा सियासी घमासान सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है। सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र के डिप्टी स्पीकर और शिंदे ग्रुप से भी जवाब देने के लिए कहा है। इन सबके बीच शिवसेना के नेता लगातार बागी विधायकों को लेकर विवादित बयानबाजी कर रहे हैं। कई विधायकों के घर तोड़फोड़ हुई, इसके बाद केंद्र सरकार ने सभी विधायकों को सुरक्षा दी है। 

टीएमसी नेता साकेत घोसले ने ट्विटर पर लिखा कि “अमित शाह ने गुवाहाटी में शिवसेना के बागी विधायकों को Y+ सुरक्षा दी है। महाराष्ट्र में सरकार गिराने की कोशिश के पीछे कौन है, इसके बारे में अब कोई दिखावा नहीं है।” इस पर गायक विशाल ददलानी ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

विधायकों को सुरक्षा दिए जाने पर गायक विशाल ददलानी ने ट्विटर पर लिखा कि “कोई राष्ट्रीय दल शामिल नहीं है। सुरक्षा बल ने उनकी सुरक्षा के लिए खुद फैसला लिया है। क्या आप चाहते हैं कि वे बाढ़ प्रभावित राज्य में बचाव अभियान चलाएँ? मजाक मत करो।”

लोगों की प्रतिक्रियाएं: सुरेश नाम के यूजर ने लिखा कि ’13 जून को असम में बाढ़ आई थी, लेकिन शिवशेना के विधायकों के गुवाहाटी पहुंचने के बाद ही आप इसके बारे में चिंतित हो गए। इससे पहले कोई चिंता नहीं थी बाढ़ की?’ एक यूजर ने लिखा कि ‘संजय राउत विधायकों को खुलेआम धमकी दे रहे हैं कि उनकी लाशें मुंबई आ जाएगी, लेकिन इस पर आपने एक शब्द भी नहीं बोला।’

एक यूजर ने लिखा कि ‘आप और क्या उम्मीद करते हैं। जब सत्ताधारी दल द्वारा दिए गए लोकतांत्रिक रूप से निर्वाचित विधायकों को खुली धमकी दी जा रही है। यदि वे अपने कर्तव्यों का पालन नहीं कर सकते हैं, तो केंद्र को कदम उठाना होगा।’ स्वप्निल नाम के यूजर ने लिखा कि ‘तो आपने यह मान लिया कि सुरक्षा बल बाढ़ प्रभावित राज्य में बचाव अभियान नहीं चला रहा है?’

बता दें कि महाराष्ट्र के बागी विधायक गुवाहाटी के एक होटल में ठहरे हुए हैं। ऐसे में कुछ लोग आरोप लगा रहे हैं कि एक तरफ जहां असम में बाढ़ आई हुई है। बड़ी संख्या में लोग प्रभावित हैं तो वहीं दूसरी तरफ सरकार बागी विधायकों की खातिरदारी कर रही है। विशाल ददलानी ने भी इसी पर तंज कसा है।

पढें मनोरंजन (Entertainment News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X