ताज़ा खबर
 

असनी नाम के बजाय ‘जेठालाल’ से जाना जाता है यह कलाकार, ट्रैफिक सिग्नल पर तब भिखारी ने भी पहचान लिया था

'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' की आन, बान और शान हैं। यूं कहिए इस टीवी शो की 'जान' हैं। लेकिन...

जेठालाल को तो आप जानते होंगे। वह घर-घर में लोकप्रिय हैं। अपने स्टाइल और हंसी के ठहाकों से। ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ की आन, बान और शान हैं। यूं कहिए इस टीवी शो की ‘जान’ हैं। लेकिन क्या उनका असली नाम जानते हैं? नहीं न। सोचिए, अगर वह जेठालाल न होते तो शायद ही वह इतना वाहवाही बंटोरते। वह भी कह चुके हैं कि उन्हें लगता है कि असली पहचान कहीं खो चुकी है। मशहूर इतने हो चुके हैं कि एक बार तो उन्हें ट्रैफिक सिग्नल पर भिखारी ने भी पहचान लिया था। दिलीप को तब एक्टर की ताकत का अहसास हुआ था।

उन्होंने किस्से के बारे में कहा था कि इतने सालों में मेरी असल पहचान खो चुकी है। लोग दिलीप नहीं जेठालाल बुलाते हैं। एक बार शूटिंग के लिए हम अहमदाबाद गए थे। हम ओपन जीप में बैठे थे। तभी वह ट्रैफिक सिग्नल पर रुकी, वहां एक भिखारी था। अचानक वह जोर-जोर से जेठालाल-जेठालाल चिल्लाने लगा। मुझे लगा कि उसके यहां टीवी कहां होगा। फिर लगा कि किसी और के यहां देखा होगा। तब मुझे एक्टर की ताकत महसूस हुई थी।

‘सब’ पर आने वाले शो में वह जेठा बनते हैं। किरदार का पूरा नाम- जेठालाल चंपकलाल गड़ा है। शॉर्ट में सब उन्हें जेठालाल कहते हैं। जबकि असल जिंदगी में वह दिलीप जोशी हैं। पेशे से फिल्म-टीवी एक्टर हैं। हिंदी-गुजराती के कई सीरियल्स कर चुके हैं। मगर पहचान तारक मेहता से मिली। 2008 से सब टीवी पर आने वाले बनी। मशहूर इतने हो गए कि शो के यूनीक सेलिंग प्वॉइंट (USP) हैं। उनकी अनोखी कॉमिक टाइमिंग ही शो के लिए टेलीविजन रेटिंग प्वॉइंट्स लेकर आती है। बच्चे हों या फिर बूढ़े हर कोई उन्हें पसंद करता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App