ताज़ा खबर
 

क्या लोगों की जान से जरूरी है कुंभ? एंकर ने किया सवाल तो स्वामी चक्रपाणि देने लगे वाइन शॉप का उदाहरण; देखें

कुंभ समाप्ति के प्रश्न पर स्वामी चक्रपाणि ने कहा कि मंदिर बंद कराए जा रहे हैं लेकिन शराब की दुकानें खुली हैं। उन्होंने कहा कि कुंभ से पहले भी कोरोना था और....

mahakumbh 2021, swami chakrapani, tirath singh rawatकुंभ मेला में कोरोना संक्रमण का मामला बढ़ रहा है (Photo-PTI)

भारत में हर दिन कोरोना के 2 लाख से अधिक मामले सामने आ रहे हैं। इसी बीच हरिद्वार में कुंभ मेला जारी है। निर्वाणी अखाड़े के महामंडलेश्वर कपिल देव दास का कुंभ में भाग लेने के बाद कोरोना संक्रमण से निधन हो गया है जिसके बाद अखाड़ा निरंजनी और आनंद अखाड़े ने अपने संतों के लिए कुंभ समाप्ति की घोषणा की है। इस फैसले पर कई अखाड़ों ने आपत्ति जताई है और कुंभ को जारी रखने पर जोर दिया है।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने मेला समाप्ति पर अभी कोई फ़ैसला नहीं लिया है जिसे लेकर आलोचना भी हो रही है। इसी मुद्दे पर टीवी डिबेट के दौरान अखिल भारतीय हिंदू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि वाइन शॉप का उदाहरण देने लगे और कहने लगे कि मेला बंद नहीं होना चाहिए।

टाइम्स नाउ के डिबेट शो ‘द न्यूज़ आवर’ पर नाविका कुमार ने स्वामी चक्रपाणि से सवाल किया कि क्या कुंभ लोगों की जान से जरूरी है तो जवाब में उन्होंने कहा, ‘संत, शासक, समाज तीनों का दायित्व होता है कि वो इस वैश्विक महामारी से लड़े। लेकिन आप इस बात से इंकार नहीं कर सकतीं। अमरनाथ यात्रा रुक गया, किसी हिंदू सनातनी ने आंदोलन नहीं किया, मानसरोवर यात्रा, तमाम चार धाम यात्रा रुकी हुई है। हर मंदिर बंद कर दिया जाता है, कोई तो नहीं बोलता लेकिन शराब तो बिक रहा है न। शराब की दूकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा न।’

 

उनके इस बात पर नाविका कुमार ने उन्हें टोकते हुए कहा, ‘मैं आपसे सिर्फ एक सवाल पूछना चाहती हूं कि कुंभ का स्नान क्यों नहीं रुक रहा? जो वहां जा रहे हैं क्या आप उनको ये सलाह देंगे कि इस बार मत जाइए? घर से बैठकर अगर आप प्रार्थना करेंगे तो क्या आपकी आस्था में कमी आ जाएगी? कल्याण कैसे होगा विश्व का अगर वहां के 45 लाख लोगों में वायरस फैलने लगेगा?’

 

जवाब में स्वामी चक्रपाणि ने कहा, ‘कुंभ नहीं था उसके पहले भी तो फैल रहा था। हरिद्वार के बाद भी तो कोरोना फैल रहा है। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए वहां लोग पूजा करें। वहां के संत कोरोना फैलाने नहीं गए। ये तो पहले से ही फैला हुआ है कुंभ के वजह से थोड़े न पूरे विश्व में कोरोना फैल गया।’

 

बहरहाल महाकुंभ में शामिल 1,701 लोगों के कोरोनावायरस से संक्रमित होने की खबर है। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कुंभ मेले पर कहा है कि चूंकि यह मेला खुले में है तो वायरस नहीं फैलेगा। कुंभ लाखों लोगों की आस्था से जुड़ा है, गंगा की कृपा से कोरोना नहीं होगा।

Next Stories
1 Film Review: 99 सांग्स, संगीत की ताकत
2 राज कपूर की पार्टी में अमिताभ बच्चन के शानदार लिबास का राजकुमार ने ऐसे उड़ाया था मजाक
3 काका किसी से प्यार नहीं कर सकता- जब दिल टूटा तो राजेश खन्ना के लिए ऐसा बोल पड़ी थीं टीना मुनीम
यह पढ़ा क्या?
X