ताज़ा खबर
 

कभी मुश्किल से नीसब हो पाती थी दो वक्त की रोटी, अब एक एपिसोड से ही इतना कमा लेते हैं ‘खजूर’

कार्तिकेय जब कोलकाता गए तो उनको एक बड़े होटल के एसी रूम में ठहराया गया था। होटल में मिलने वाले खाने को वो आधा खा कर बाकी बचा लिया करते थे।

kapil sharma, Khjur, Comedian kartikey Raj as Khjur,‘बेस्ट-ड्रामेबाज’ शो के छठे राउंड में कार्तिकेय पर कपिल शर्मा की नज़र पड़ी।

बिहार के पटना का रहने वाला 13 साल का वो लड़का जिसे ‘द कपिल शर्मा शो’ (The KapilSharma Show)ने नया नाम दिया था- खजूर। कपिल शर्मा शो का हिस्सा बनने से पहले खजूर को लोग उनके असल नाम कार्तिकेय राज (Kartikey Raj) से ही जानते थे। लेकिन साल 2016 में जब वे कपिल के नजरों में आए तो उनकी ना सिर्फ किस्मत बदली बल्कि टीवी की दुनिया में वो नन्हें हास्य कलाकार के रूप में भी ख्याति पाए।

कार्तिकेय राज के पास आज भले ही नेम-फेम और पैसा आ गया हो लेकिन एक वक्त ऐसा भी रहा जब उनके परिवार को दो वक्त की रोटी भी नसीब नहीं हो पाती थी। कपिल के शो में अपनी कॉमेडी से धमाल मचा रहे इस नन्हे कलाकार के संघर्ष के बारे में सुनकर आपकी आंखे नम हो जायेंगी।

पटना के सैदपुर का रहने वाला है कार्तिकः पटना के एक छोटे से गांव सैदपुर के रहने वाले हैं कार्तिकेय राज बेहद ही गरीब परिवाल से ताल्लुक रखते हैं। कार्तिकेय के पिता मजदूरी कर घर का खर्चा चलाया करते थे। गरीबी काफी थी, फिर भी कार्तिकेय के पिता अपना पेट काटकर भी उनको और उनके भाई-बहनों को पढ़ाने में कोई कसर नहीं रखा।

दो वक्त का खाना भी मुश्किल से होता था नसीबः कार्तिकेय के घर में इतनी गरीबी थी कि मुश्किल से ही दो वक्त का खाना बन पाता था। कभी रोटी बनती तो सब्जी नहीं। और कभी सिर्फ चावल से ही काम चलाना पड़ता। कभी अगर घर में दाल,चावल, सब्जी बन जाता तो कार्तिकेय उसे पार्टी कहते थे।

भाई की वजह से एक्टिंग में जागी रुचिः कार्तिकेय अपने छोटे भाई अभिषेक के साथ स्कूल जाया करते थे लेकिन पढ़ाई में उनका मन जरा भी नहीं लगता था। वो अपना सारा दिन बस्ती में बच्चों के साथ खेल कर बिताया करते थे। भाई ने ही कार्तिकेय को एक्टिंग सीखने के लिए कही। इसी के चलते उन्होंने सरकार से सहायता प्राप्त एक्टिंग स्कूल (किलकारी) में दाखिला लिया जहां एक्टिंग सिखाई जाती थी। दोनों ने काफी समय तक वह एक्टिंग की बारीकियां सीखीं।

बेस्ट ड्रामेबाज ने बदली किस्मतः  साल 2013 में कार्तिकेय की किस्मत ने करवट ली। इसी साल जीटीवी के चर्चित कॉमेडी शो ‘बेस्ट-ड्रामेबाज’ में चयन हुआ। शो में कार्तिकेय के चयन से उनका परिवार काफी खुश हुआ। यह परिवार के लिए एक बहुत बड़ी उपलब्धि थी। इसके बाद शो की टीम ने कार्तिकेय और उनके साथ चयनित और बच्चों को कोलकाता लेकर गयी।

होटल में मिला खाना बचाकर घर लाते थे कार्तिकेयः कार्तिकेय जब कोलकाता गए तो उनको एक बड़े होटल के एसी रूम में ठहराया गया था। होटल में मिलने वाले खाने को वो आधा खा कर बाकी बचा लिया करते थे। फिर उसे घर लेकर गए। उसे अपनी मां को देते हुए ये कहा कि, उन्होंने कभी बड़े होटल का खाना नहीं खाया इसलिए उसने वो खाना चुरा कर लाए हैं।

खजूर के किरदार से मिली लोकप्रियताः  ‘बेस्ट-ड्रामेबाज’ शो के छठे राउंड में कार्तिकेय पर कपिल शर्मा की नज़र पड़ी। कपिल कार्तिकेय की एक्टिंग के कायल हो गए थे। उन्होंने शो का ऑफर दिया। कार्तिकेय का ऑडिशन हुआ फिर उन्हें शो का हिस्सा बनने का मौका मिल गया। इसके बाद कार्तिकेय राज ‘खजूर’ के नाम से सभी के दिलों पर छा गए। कार्तिकेय कपिल के शो का सबसे यादगार पल उसे मानते हैं जब वह ऐश्वर्या राय का बेटा बने थे।

गौरतलब है कि 13 साल के कार्तिकेय राज अब मुंबई में रहते हैं। परिवार के कुछ लोग खजूर के साथ ही रहते हैं बाकि के पटना स्थित घर पर रहते हैं। कार्तिकेय अब एक्टिंग के साथ-साथ अपनी पढ़ाई भी करते हैं। कभी एक वक्त की रोटी के लिए भी मुहाल रहने वाले कार्तिकेय राज टीवी शो के एक एपिसोड से 1- 2 लाख रुपए कमाते हैं।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘चुप हो जा नहीं तो तुझे भी इंजेक्शन देकर सुला देंगे’, जिया खान की मां राबिया ने लगाया महेश भट्ट पर धमकाने का आरोप
2 ‘कहां गए पैसे, बता नहीं तो जाने नहीं दूंगा’, सुशांत के स्टाफ से सवाल-ज़वाब करती उनकी बहन-जीजा का VIDEO वायरल
3 Independence Day 2020 Songs: ‘तेरी मिट्टी’ से लेकर ‘मेरा रंग दे बसंती चोला’ तक, ऐसे देशभक्ति गीत जिन्हें सुनते ही दिल में भर जाता है जोश
IPL 2020: LIVE
X