दिल्ली में बन रहा था दुल्हन का जोड़ा, आखिरी मिनट पर कैंसल हो गई थी नीना गुप्ता की शादी, एक्ट्रेस ने सुनाई थी आपबीती

करीना कपूर खान (Kareena Kapooor Khan) से एक लाइव चैट सेशन में नीना गुप्ता ने अपनी जिंदगी से जुड़े सबसे कठोर वक्त का जिक्र किया था।

Neena Gupta, नीना गुप्ता, Neena Gupta, Kareena Kapoor
एक्ट्रेस नीना गुप्ता (फोटो सोर्स- नीना गुप्ता इंस्टा)

एक्ट्रेस नीना गुप्ता ने अपने जीवन में कई उतार चढ़ाव देखे हैं। कुछ वक्त पहले ही उन्होंने अपनी किताब ‘सच कहूं तो’ में अपनी जिंदगी से जुड़े तमाम राज खोले थे। करीना कपूर खान (Kareena Kapooor Khan) से एक लाइव चैट सेशन में भी नीना गुप्ता ने अपनी जिंदगी से जुड़े सबसे कठोर वक्त का जिक्र किया था। नीना गुप्ता ने अपनी शादी से जुड़ा वाक्या शेयर किया था कि वह जिससे प्यार करती थीं उसने आखिरी समय में शादी से पैर पीछे कर लिए थे।

नीना गुप्ता ने नाम लिए बिना बताया था कि- ‘मैं उस शख्स से शादी करना चाहती थी। मैं अपना शादी का जोड़ा लेने गई थी जो दिल्ली में बन रहा था। तभी उसका फोन आया और उसने कहा कि वह ये शादी तोड़ रहा है, क्योंकि वह मुझसे शादी नहीं करना चाहता। मुझे आज तक इस बात का अंदाजा नहीं है कि ऐसा क्यों हुआ? इसके बाद मैंने कुछ नहीं किया। बस जो ईश्वर ने मुझे दिया वो मैं समेटती गई।’

नीना ने बताया था- ‘मैंने हर चीज को एक्सेप्ट किया। जब-जब मैं जिंदगी में गलत साबित हुई, मैंने स्वीकारा और आगे बढ़ी। मैं भी एक आम जिंदगी चाहती थी, पति चाहती थी, घर चाहती थी, पति से बच्चे चाहती थी। सास ससुर चाहती थी। बच्चे दादी-दादा कहें ये चाहती थी। मैं जब और लोगों को देखती थी तो मुझे फील होता था।’

नीना ने आगे कहा था- ‘बस इसके लिए मैंने कभी किसी को जिम्मेदार नहीं ठहराया। कभी शराबी नहीं बनी, मैं गलत रास्ते पर नहीं गई। इतना कुछ हो गया था, मैं क्या करती? इसलिए मैं मूवऑन हुई। मुझे आगे बढ़ना था। मैं उससे शादी करना चाहती थी। उसके और उसके परिवार के लोगों के लिए मेरे दिल में बहुत प्यार और सम्मान था। मैं उस घर में रह रही थी।

करीना ने नीना गुप्ता से सवाल किया था- ‘क्या वह अभी जिंदा हैं?’ इस पर नीना गुप्ता ने कहा कि- ‘हां, वह जिंदगा हैं और अपनी मैरिड लाइफ जी रहे हैं। उनके बच्चे हैं। जल्द ही वह किताब पढ़ेंगे, अपने बारे में पढ़ेंगे।’

उन्होंने आगे कहा था – ‘जैसी मेरी जिंदगी थी मैं नहीं चाहती थी कि ऐसी होती। आपको बताऊं मेरी मां चाहती थीं कि मैं एक आईएस अफसर बनूं। मुझे लगता है कई बार कि मैंने अपने देश के लिए कुछ तो किया है थोड़ा बहुत। पर ये आपकी किस्मत होती है कि वह आपको कहां ले जाए। मेरे साथ जो हुई मैंने उसे स्वीकारा।’

नीना ने आगे बताया था कि ‘मैं सोच में थी कि मेरी किताब पढ़ कर लोग मुझे जज करेंगे। लोग मेरे माता-पिता के बारे में नहीं जानते। अगर मेरे माता-पिता जिंदा होते तो मैं ये किताब कभी न लिखती। मेरी मां ने सारी जिंदगी ये बातें छुपाई और सरवाइव किया। लेकिन कभी-कभी बुरा तब लगता है जब लोग कहते हैं- ओह अच्छा ये तभी ऐसी है, क्योंकि इसके माता पिता ऐसे हैं।’

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट