ये हैं मोहबतें 17 जुलाई 2017 फुल एपिसोड: इशिता नहीं कर पाई रमन को बेकसूर साबित, शगुन अभी तक है लापता - Ye Hain Mohbatein 16 July 2017 Full Episode In Hindi: Ishita Fails To Prove Raman’s Innocence, Shagun Still Not Found - Jansatta
ताज़ा खबर
 

ये है मोहब्बतें 17 जुलाई 2017 फुल एपिसोड: इशिता नहीं कर पाई रमन को बेकसूर साबित, शगुन अभी तक है लापता

ye hain mohbatein full episode: पुलिस इशिता के लाए हुए सबूतों को मानने से इनकार कर देती है और शगुन को ढूंढने के लिए कहती है.....

ye hain mohbatein: इशिता नहीं कर पाई रमन को बेकसूर साबित, शगुन अभी तक है लापता

मिहिका और संतोषी आदि को कहते हैं कि आलिया का फिक्र ना करे और जाकर जाकर शगुन को ढूंढे। पुलिस वाले इशिता के लाए हुए सबूतों को देखने से मना कर देते हैं और अगर वो अपने पति को बचाना चाहती है तो शगुन को ढूंढने के लिए कहते हैं। पिहू रूही से इशिता के बारे में पूछती है। किरण उससे झूठ बोल देती है कि सभी लोग बाहर पार्टी के लिए गए हैं। पिहू, अनन्या और क्षितिजा किरण से साथ घुलने-मिलने लगते हैं। रूही ने जो देखा, उसे लेकर अभी भी परेशान होती है। मिहिका रूही को शगुन के गायब होने के बारे में बताती है। रूही ये सोच कर रोने लगती है कि उसे शगुन को उस बारे में नहीं बताना चाहिए था। तभी आलिया को होश आता है और वो उस पर चिल्लाने लगती है कि उसने सच क्यों छुपाया है। संतोषी और मिहिका आलिया को शांत करती हैं। रूही ये निर्णय लेती है कि वो किसी को भी सच नहीं बताएगी।

एक पुलिस ऑफिसर कमिश्नर के पास आता है और कहता है कि वहां सिर्फ कुछ ऐसे ब्लड के सैंपल मिले हैं जो मणि से नहीं मिलते हैं। तभी वो आलिया को फोन करते हैं और पूछते हैं कि उनके परिवार में एबी+ ब्लड ग्रुप किसी का है, तो वो शगुन का नाम लेती है। इसके बाद वो और परेशान हो जाती है कि शगुन सिर्फ गायब नहीं है बल्कि वो घायल भी है। आदि इशिता को फोन करता है और कहता है कि शगुन उन्हें कहीं भी नहीं मिली है और बताता है कि उन्हें ये पता लगा है कि एक ट्रक आकर उस दिन शगुन की बिल्डिंग के नीचे ही खड़ा हुआ था। वो कहता है कि शायद खूनी से बचने के लिए शगुन बालकनी से उस ट्रक में कूद गई होगी।
बाला ट्रक कंपनी को फोन करता है और उस ट्रक की लोकेशन जनता है। वहां से पता लगता है कि ट्रक अभी तक नहीं पहुंचा है। तभी एक ट्रक पार्किंग में आता है, आदि उसे देखता है तो एक जगह उसे खून के धब्बे दिखाई देते हैं। बाला उस ट्रक ड्राईवर को मारते हुए उससे सारी बात जानने की कोशिश करता है। वो उन्हें बताता है कि वो इस ट्रक का ड्राईवर नहीं है। बाला और आदि उसे ड्राईवर के पास ले जाने के लिए कहते हैं। वहीं दूसरी तरफ रूही इशिता को उठाती है और मजबूत बनने के लिए कहती है, इशिता कहती है कि उसे अभी तक यकीन नहीं हो रहा है कि मणि की मौत हो चुकी है। पुलिस रमन से कहती है कि वो ये कबूल ले कि उसने ही मणि का मर्डर किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App