ताज़ा खबर
 

‘तुझे अभी कपड़े उतार कर करेंट भी देंगे तार से’, टीवी एक्टर ने UP पुलिस पर लगाया 3rd डिग्री टॉर्चर का आरोप

Aansh Arora: अंश अरोड़ा ने गाजियाबाद पुलिस पर 3rd डिग्री टॉर्चर करने का आरोप लगाया है। एक्टर के मुताबिक गाजियाबाद पुलिस ने उन्हें बड़ी बर्बरता के साथ पीटा है। ऐसे में वह अस्पताल में भर्ती हैं।

एक्टर अंश अरोड़ा

‘क्वीन्स’ और ‘तन्हाइयां’ जैसे टीवी शोज में काम कर चुके नामी एक्टर अंश अरोड़ा को लेकर बड़ी खबर आ रही है। अंश अरोड़ा ने गाजियाबाद पुलिस पर 3 डिग्री टॉर्चर करने का आरोप लगाया है। एक्टर के मुताबिक गाजियाबाद पुलिस ने उन्हें बड़ी बर्बरता के साथ पीटा है। तो वहीं स्पॉट बॉय द्वारा शेयर किए गए एक वीडियो में सामने आया है कि एक्टर एक स्टोर में तोड़ फोड़ कर रहे थे।

एक्टर के मुताबिक, ‘हम पुलिस की बर्बरता का शिकार हुए हैं। हमें PS -इंद्रपुरम, गाजियाबाद UP. के पुलिस अधिकारियों द्वारा शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया गया है। मुझे थर्ड डिग्री टॉर्चर किया गया। हमें पुलिस ने रात से लेकर अगली सुबह तक पीटा।’

ऐसे में एक्टर ने अपने साथ हुई मारपीट का दावा करते हुए अपनी शिकायत ह्यूमन राइट्स को खत के जरिए दी है। एक्टर ने लिखा- ’12 मई 2019 की रात को लगभग 1.30 से 2.00 बजे के बीच मैं 24*7 (शॉप्रिक्स मॉल सेक्टर 4, वैशाली, गाजियाबाद यूपी) स्टोर गया था। मैं स्टोर के अंदर था वहीं बाहर कार में मेरा भाई मेरा इंतजार कर रहा था। मैं स्टोर में एक दिन पहले हुए झगड़े को सुलझाने गया था लेकिन पुलिस अधिकारियों ने मुझे Crpc के U / s-151 से जबरदस्ती गिरफ्तार कर लिया।

जब पुलिस मुझे उनकी वैन में ले जा रही थी, तब मेरे भाई ने पुलिस को मुझे ले जाते हुए देख लिया। ऐसे में वह मेरे पास आया, तभी पुलिस ने उसे भी पकड़ लिया और कहा कि ‘तू भी इसके साथ है।’ एक्टर ने अपने पत्र में लिखा कि घसीटते हुए पुलिस उन्हें अपने साथ वैन में लेकर गई। साथ ही दोनों भाइयों के मोबाइल फोन भी छीन लिए गए।

एक्टर ने आगे लिखा- ‘मैंने उनसे दरख्वास्त की कि हमें हमारा फोन दें ताकि हम अपने परिवार वालों को सूचित कर सकें। लेकिन पुलिस ने मना करते हुए कहा कि उन्हें हम बाद में बुलाएंगे। इसके बाद मुझे बड़ी ही बेरहमी से पीटा गया। पुलिस स्टेशन पहुंचने पर वहां 5 से 6 और पुलिस वाले थे, हमारे वहां पहुंचते ही वह हम पर डंडे बरसाने लगे। मुझे और मेरे भाई को पीटते हुए वह हमें और हमारे परिवार को गंदी-गंदी गालियां देने लगे। काफी पीटने के बाद हमें लॉकअप में बंद कर दिया गया। 2:30 – 3: 00 बजे के बीच जब हमने दोबारा उन्हें अपने परिवार वालों को फोन करने के लिए कहा तो वह बोले- ‘इतनी क्या जल्दी है अभी तो बंद हुए हो। आराम से बुला लेंगे सबको।’

‘सुबह 11 -11.30 के आसपास दो और लोग सिविल ड्रेस में थाने में आए। ताला खोलते हुए उन्होंने हमें बुलाया। वह मेरे भाई (मृदुल) को एक अलग कमरे में ले गए। वहां मेरे भाई को फिर से पीटा गया। इस बीच मैंने उस कमरे से अपने भाई की आवाज सुनी कि ‘मेरा 11.05.2019′ वाली घटना से कोई लेना देना नहीं है। मुझे मत मारो। इसके बाद मुझे भी बालों से पकड़ कर उसी कमरे में लेजाया गया। इसके बाद उन्होंने मुझे 3 डिग्री टॉर्चर किया। मुझे चमड़े के बल्ले से पीटा गया। इस बीच मुझसे कहा गया कि 40 बार तेरे पैरों में मैं इस चमड़ेके बेल्ट से मारूंगा और तू गिनेगा। वो बोले कि हर गिनती पर मुझे मारेंगे। उन्होंने मुझे कहा कि अगर मैं गिनती भूला तो वह फिर से गिनना शुरू करेंगे और मारेंगे। उन्होंने मुझे मानसिक रूप से प्रताड़ित करते हुए आगे कहा कि “तुझे अभी कपड़े उतार करेंट भी देंगे तार से”।’

अभिषेक दूबे द्वारा शेयर की गई तस्वीर अभिषेक दूबे द्वारा शेयर की गई तस्वीर

(और ENTERTAINMENT NEWS पढ़ें)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X