ताज़ा खबर
 

KumKum Bhagya: मिट जाएंगी प्राची-रिया की दूरियां! या फिर अभि-प्रज्ञा के बीच खड़ी कर देंगी दीवार ये बेटियां

KumKum Bhagya: कुमकुम भाग्य में प्राची और रिया को अभि और प्रज्ञा एक जुट करना चाहते हैं। वह चाहते हैं कि दोनों बहनें एक दूसरे के साथ अच्छे से बर्ताव करना शुरू कर दें। इसके लिए प्रज्ञा प्राची को समझाने की कोशिशें भी करती नजर आती हैं।

Author Updated: June 3, 2019 12:19 PM
KumKum Bhagya: अभि-प्रज्ञा, प्राची और रिया

KumKum Bhagya: शो कुमकुम भाग्य इस वक्त काफी इंट्रस्टिंग मोड में आया हुआ है। कुमकुम भाग्य में प्राची और रिया को अभि और प्रज्ञा एक जुट करना चाहते हैं। वह चाहते हैं कि दोनों बहनें एक दूसरे के साथ अच्छे से बर्ताव करना शुरू कर दें। इसके लिए प्रज्ञा प्राची को समझाने की कोशिशें भी करती नजर आती हैं। तो वहीं रिया को भी समझाया जाता है कि वह ऐसे ही प्राची से न लड़े। लेकिन दोनों ही मानने को तैयार नहीं हैं, प्राची कहती है कि वह लड़ाई की पहल नहीं करती है। तो वहीं रिया कहती है कि वह कोशिश करेगी कि उसकी वजह से प्रॉब्लम न हो।

प्राची अपनी मां से कहती है कि वह रिया से कोई फालतू बात नहीं कहती है। उल्टा रिया ही उससे पहले लड़ाई करती है। तो वहीं दूसरी तरफ रिया को भी घर पर समझाया जाता है कि वह शांत रहे और प्राची से बेवजह न उलझे। इसके लिए रिया प्रॉमिस करती है कि वह प्राची से पैचअप करेगी और बिलकुल भी झगड़ा नहीं करेगी। ऐसे में दोनों ही बेटियों को समझाया जाता है कि वह अब न लड़ने का वादा करें। प्राची और रिया दोनों ही न लड़ने का वादा करती हैं।

ऐसे में प्रज्ञा और अभि के मन में टेंशन चल रही है कि क्या ये दोनों कभी एक दूसरे के साथ अच्छा बर्ताव कर पाएंगी। बता दें, कि रिया ने प्राची को बदनाम करने के लिए उस पर कॉलेज में खूनी होने का आरोप लगाया था। ऐसे में प्राची ने आत्महत्या करने की भी कोशिश की थी। लेकिन जैसे तैसे प्रज्ञा ने प्राची को बचा लिया था। इसके बाद ही राज खुला था और प्रज्ञा और अभि फिर एक हुए। दोनों इस वक्त सीरियल में एक दूसरे के करीब आ चुके हैं।

अभि-प्रज्ञा के बीच रोमांस का दौर फिर से चालू हो चला है। लेकिन इस बार सवाल ये है कि क्या अभि प्रज्ञा दोनों बहनों को मिलाने में कामयाब होंगे! या फिर ये दोनों बहनें ही अपने माता पिता की मोहब्बत के बीच दरार ले आएंगी।

(और ENTERTAINMENT NEWS पढ़ें)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories