कुमकुम भाग्य 14 जून 2017 फुल एपिसोड: प्रज्ञा-अभी को जंगल में मिला एक फरिश्ता, आखिर कौन है ये नेक बंदा! - kumkum bhagya 14 june 2017 Full Episode Online in Hindi: kumkum bhagya abhi and pragya reached to an angel, who is raghuveer of pragya - Jansatta
ताज़ा खबर
 

कुमकुम भाग्य 14 जून 2017 फुल एपिसोड: प्रज्ञा-अभी को जंगल में मिला एक फरिश्ता, आखिर कौन है ये नेक बंदा!

kumkum bhagya Full Episode: झाड़ियों के पीछे से आवाज आती है। प्रज्ञा देखती है एक बुजुर्ग व्यक्ति उनकी ओर आ रहा है। प्रज्ञा डर जाती है कि कहीं वह गुंडों का आदमी तो नहीं।

Author नई दिल्ली | June 14, 2017 10:23 PM
अभी-प्रज्ञा का एक्सिडेंट हो जाता है। गुंडे उन तक पहुंचने वाले होते ही हैं, कि तभी अभी और प्रज्ञा दोनों हिम्मत कर के वहां से भाग खड़े होते हैं।

सीरियल कुमकुम भाग्य में चल रहा है हाई वोलटेज ड्रामा। अभी-प्रज्ञा का एक्सिडेंट हो जाता है। गुंडे उन तक पहुंचने वाले होते ही हैं, कि तभी अभी और प्रज्ञा दोनों हिम्मत कर के वहां से भाग खड़े होते हैं। अब आधे रास्ते में अभी थक जाता है, वह बेहोश हो जाता है। प्रज्ञा घबरा जाती है। तभी झाड़ियों के पीछे से आवाज आती है। प्रज्ञा देखती है एक बुजुर्ग व्यक्ति उनकी ओर आ रहा है। प्रज्ञा डर जाती है कि कहीं वह गुंडों का आदमी तो नहीं।

इधर, प्रज्ञा टीम पूरब और पुलिस के साथ जंगल में अभी प्रज्ञा को ढूंढ रहे हैं। इस तरफ प्रज्ञा को विश्वास दिलाते हुए बुजुर्ग कहता है कि वह भरोसा रखे अभी को आराम की जरूरत है। पास में ही उसका घर है, वह उसकी बेटी जैसी है, यह बुजुर्ग कहता है। दोनों बुजुर्ग आदमी के घर पहुंचते हैं। इस दौरान बुजुर्ग आदमी अपना नाम बताता है, रघुवीर। प्रज्ञा भी अपना नाम बताती है। अब जब प्रज्ञा शांत होती है, तो रघुवीर उससे पूछता है कि अब सच-सच बताए कि उसके साथ क्या हुआ। प्रज्ञा अपने साथ हुई सारी वारदात उसे बताती है।

वह कहती है कि जैसे ही अभी को होश आएगा वह वहां से चले जाएंगे। रघुवीर कहता है कि वह उन्हें कहीं जाने देगा। जब तक वह सेफ नहीं हो जाते। प्रज्ञा कहती है हम आप पर मुसीबत नहीं बनना चाहते। वह कहती है हम आपका ये ऐहसान कैसे चुकाएंगे। बुजुर्ग व्यक्ति कहता है कि तुम मेरी बेटी जैसी हो। वह कहता है कि रिश्तों को निभाने के लिए रिश्ते का ऐहसास होना ही काफी है।

इस तरफ आलिया बावली हो रही है, वह निखिल को कहती है कि वह कहीं से भी उसका भाई लाकर दे। इस तरफ अभी को होश आ गया है। होश में आते ही अभी प्रज्ञा की बहादुरी को सलाम करता है। तभी वहीं बाबा आ जाते हैं, अभी पूछता है कि वह कौन है तो प्रज्ञा बताती है कि वह बाबा हैं। बाबा ने ही उन दोनों को बचाया है। बाबा अभी के लिए सूप बनाकर लाता है। तभी अभी कहता है कि वह तो ऐसे खातिरदारी कर रहे हैं जैसे वो उसका दामाद हो। आगे क्या होगा… कौन है ये बुजुर्ग आदमी जिसने प्रज्ञा और अभी को दी है अपने घर पर पनाह। क्या रिश्ता है रघुवीर का दोनों से। जानने के लिए पढ़ते रहें सीरियल कुमकुम भाग्य के अपडेट्स।

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App