ताज़ा खबर
 

कुमकुम भाग्य, 07 जून 2017 फुल एपिसोड: अब आग के हवाले हुए अभी-प्रज्ञा, क्या खत्म हो जाएगा साथ में दोनों की जिंदगी का सफर

kumkum bhagya Full Episode: प्रज्ञा का सांप वाला आइडिया काम कर जाता है। इस दौरान डमरू को बेवकूफ बनाकर उसके सिर पर डंडा मारा जाता है। प्रज्ञा डमरू को पीछे से डंडा मारती है और वह दोनों भागने में कामयाब हो जाता है।

: kumkum bhagya, kumkum bhagya 7 june 2017, kumkum bhagya full episode, kumkum bhagya, zee tv, Sriti Jha, Shabbir Ahluwalia, kumkum bhagya, 7 june 2017 full episode, kumkum bhagya, kumkum bhagya full episode online, Sriti Jha, Shabbir Ahluwalia, kumkum bhagya , Sriti Jha, Shabbir Ahluwalia, , kumkum bhagya 7 june 2017 episode online, zee tv, television news in hindi, tv news in hindi, entertainment news kumkum bhagya, 7 june 2017, full episode, zee tv, Sriti Jha, Shabbir Ahluwalia, kumkum bhagya, full episode, entertainment news kumkum bhagya – pragya: इस पल में वो दोनों असल में एक दूसरे के साथ होते हैं। दोनों को एहसास होता है कि वह एक दूसरे से कितना प्यार करते हैं।

 

जी टीवी के सीरियल ‘कुमकुम भाग्य’ में अभी और प्रज्ञा भाग निकलने में कामयाब हो जाते हैं। दरअसल, प्रज्ञा के प्लान की वजह से दोनों को बाहर निकलने का रास्ता मिल जाता है। प्रज्ञा का सांप वाला आइडिया काम कर जाता है। इस दौरान डमरू को बेवकूफ बनाकर उसके सिर पर डंडा मारा जाता है। प्रज्ञा डमरू को पीछे से डंडा मारती है और वह दोनों भागने में कामयाब हो जाता है।भाग कर दोनों बाहर की तरफ जाते हैं। बाहर घास के ढेर लगे हुए हैं। प्रज्ञा और अभी दोनों घास के ढेर में जा कर छिप जाते हैं। इसके बाद दोनों प्यार भरी बातें करने लगते हैं। इस तरफ, निखिल गुंडों पर चिल्लाता है कि अभी वहां से भाग गया, वह भी इतने सारे लोगों को बेवकूफ बना कर। जब उसे इस बात का पता चलता है कि अभी के साथ प्रज्ञा भी थी, तो निखिल और आलिया हैरान रह जाते हैं।

इस तरफ गुंडे प्रज्ञा और अभी को ढूंढते-ढूंढते उन घास के टीलों की तरफ पहुंचते हैं। उनमें से एक गुंडा बीड़ी पी रहा होता है। वह जली हुई बीड़ी घास के ढेर में फेंक देता है। इस दौरान घास आग पकड़ लेती है। देखते ही देखते आग विकराल रूप घारण कर लेती है। अब प्रज्ञा और अभी दोनों गुंडों से बचने के लिए घास के अंदर घुसे हुए हैं। तभी दोनों को अहसास होता है कि आग लग गई है और वह चारों तरफ से आग से घिर गए हैं। दूसरी तरफ प्रज्ञा गैंग के साथ पूरब आधे रास्ते प्रज्ञा अभी की तलाश में जंगल तक पहुंच चुके हैं। लेकिन आधे रास्ते में ही वह कहीं खो गए हैं। दादी पूरब को आइडिया देती है कि वह पुलिस को फोन करे। लेकिन उनमें से किसी के भी फोन का नेटवर्क काम नहीं कर रहा है। यहां अभी और प्रज्ञा को अब लगने लगता है कि वह दोनों बच नहीं पाएंगे। दोनों अपने हंसी-खुशी के पल दोबारा याद करते हैं। क्या होगा आगे… क्या अभी-प्रज्ञा की जिंदगी का सफर यहीं तक सिमट कर रह जाएगा। या कोई चमतकार होगा और अभी-प्रज्ञा इस मुसीबत से बच निकलेंगे। जानने के लिए पढ़ते रहें ‘कुमकुम भाग्य’ के अपडेट्स।

प्रज्ञा अभी को बचाने की पूरी-पूरी कोशिश कर रही है। इस दौरान वो गुंडों से छिप कर अभी के पास पहुंचती है। उनके कमरे में दाखिल होने पर गुंडों से छिप कर रहती है। वह गुंडों को अपनी मौजूदगी का महसूस नहीं होने देती। अभी भी उसकी इस हिम्मत की तारीफ करते नहीं थक रहा है। अब अभी प्रज्ञा को झांसी की रानी कहने से भी पीछे नहीं हटता। गुंडे समझते हैं कि कमरे में अंदर सिर्फ अभी ही कैद है लेकिन उन्हें ये नहीं पता कि उसके साथ प्रज्ञा भी उसी कमरे में मौजूद है। दोनों कमरे में लॉक हैं, बाहर से ताला लगा हुआ है। प्रज्ञा भागने के लिए तरकीब सोचती है तभी अभी कहता है कि उसे भूख लगी है। प्रज्ञा उदास हो जाती है कि वह लाचार है, इस वक्त अभी को खाने के लिए कुछ भी नहीं दे सकती। अभी को उसकी उदासी पर और प्यार आता है। वह कहता है ‘बचपन में तुमने कभी घर-घर नहीं खेला?’ हम वैसे ही खेलते हैं। तब प्रज्ञा उसके लिए झूठ-झूठ खाना बनाती है और अभी बड़े प्यार से झूठ-झूठ खीर खाता है। दोनों के लिए यह अनमोल पल होते हैं। क्योंकि इस पल में वो दोनों असल में एक दूसरे के साथ होते हैं। दोनों को एहसास होता है कि वह एक दूसरे से कितना प्यार करते हैं।

दूसरी तरफ प्रज्ञा गैंग पूरब के साथ कार में जंगल के आधे रास्ते तक पहुंच गए हैं। पूरब कहता है कि आगे का रास्ता खराब है वहां कार नहीं जा पाएगी। तब प्रज्ञा गैंग कहती है कि वो प्रज्ञा और अभी को बचाने के लिए पैदल ही यहां से चल पड़ेंगे। वहां घर पर मासी तनू को फिर से क्लोरोफॉम सुंघा देती है। तनू फिर से बेसुध हो कर बेड पर गिर जाती है और बेहोश हो जाती है। इस तरफ प्रज्ञा अभी से बाहर निकलने के लिए उसे तरकीब सोचने के लिए कहती है। अभी इस दौरान मस्तीखोरी करता है। वह उसे सीरियस होने के लिए कहती है। तभी प्रज्ञा को आइडिया आता है। वह काले दुपट्टे में भूसा भरती है और अभी के कंधों पर रख देती है। वह अभी को कहती है कि गुंडों को ऐसे प्रटेंड करे जैसे उसके कंधों पर सांप हो। अभी गुंडों को चिल्ला-चिल्ला कर बुलाता है। गुंडे दुपट्टे को सांप समझ लेते हैं। और प्रज्ञा का प्लान सफल हो जाता है। आगे क्या होगा… क्या अब प्रज्ञा और अभी आजाद हो जाएंगे। या अब कोई और नई मुसीबत आने वाली है। जानने के लिए पढ़ते रहें ‘कुमकुम भाग्य’ के अपडेट्स।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ये है मोहब्बतें 07 जून, 2017 फुल एपिसोड: शगुन बनने की ट्रेनिंग ले रही है आदी की दुल्हनिया, अब रूही से भी भिड़ गई आलिया
2 ‘छम्मक छल्लो’ गाने पर झूम रहा था स्पेनिश ड्राइवर, मनवीर गुर्जर ने शेयर किया वीडियो, देखें वीडियो
3 सोनी टीवी के शो ‘पेशवा बाजीराव’ में अब नहीं दिखेंगी ‘राधा बाई’ यानी अनुजा साठे, जानिए क्या है वजह
यह पढ़ा क्या?
X