ताज़ा खबर
 

जब करण जौहर ने बताया- बचपन में लड़के हमेशा मेरा मजाक उड़ाया करते थे, तब घर आकर खूब रोया करता था…

'इंडियाज नेक्स्ट सुपरस्टार' शो में कंटेस्टेंट आशीष मल्होत्रा ने अपना परफॉर्मेंस किया जिसमें दिखाया गया एक लड़का जो अपनी खुशी से लड़की बन कर नाचता है। लेकिन समाज उसे उस रूप में स्वीकार नहीं करता। इस दौरान उसे कई तरह की भद्दी बातें सुननी पड़ती हैं।

फिल्म डायरेक्टर करण जौहर

स्टार प्लस का रिएलिटी शो ‘इंडियाज नेक्स्ट सुपरस्टार’ इन दिनों काफी चर्चित हो रहा है। शो में एक से एक जबरदस्त कंटेस्टेंट्स हैं। शो में एक कंटेस्टेंट ने एक ऐसा एक्ट पेश किया जिसे देख करण जौहर की आंखें भी नम हो गईं। शो में कंटेस्टेंट आशीष मल्होत्रा ने अपना परफॉर्मेंस किया जिसमें दिखाया गया एक लड़का जो अपनी खुशी से लड़की बन कर नाचता है। लेकिन समाज उसे उस रूप में स्वीकार नहीं करता। इस दौरान उसे कई तरह की भद्दी बातें सुननी पड़ती हैं। आखिर में वह समाज से यही सवाल पूछता है, कि वह अपनी जिंदगी में जो करना चाहता है उसके प्रति किसी का दृष्टिकोण ऐसा क्यों हैं। वह अपनी मर्जी से क्यों नहीं जी सकता।

इस एक्ट को देखने के बाद जूरी ने आशीष को खूब सराहा। वहीं करण जौहर ने इस एक्ट को बिग सेल्यूट दिया। करण ने कहा, ‘हर औरत के अंदर एक जीवित मर्द है और हर मर्द के अंदर एक औरत है। लेकिन कभी कभी हमें लगता है कि वो पहलू हम दुनिया को दिखाएंगे, तो दुनिया हमें जज करेगी। इस दौरान हम पर कई सारी तोहमतें लगेंगी। लेकिन ये गलत है, क्योंकि हम इंसान पहले हैं। और मैं यह कह सकता हूं कि बचपन में मेरे साथ भी ऐसा हो चुका है। जब मैं छोटा था तो मैं भी कभी-कभी लड़कियों की तरह बात करता था। मेरी आवाज में एक स्विकी क्वॉलिटी थी। हमेशा लड़के मेरी बिल्डिंग में, स्कूल में हमेशा मेरा मजाक उड़ाया करते थे। एक वर्ड होता है-जिसका मतलब होता है ‘पैंजी’। इसमें लड़के लड़कियों की तरह बर्ताव करते हैं। जब ये वर्ड मेरी तरफ आया करता था, तो मैं बहुत रोया करता था घर जाकर कि मुझे लोग ऐसा क्यों बोल रहे हैं।’

कोई टैक्सी ड्राइवर बना तो कोई भीख मांगने को हुआ मजबूर, पाई-पाई को मोहताज हुए ये बॉलीवुड सितारे

करण आगे कहते हैं, ‘एक दिन मैं एक टीचर के पास गया, मेरी आवाज में बेस नहीं था जो लड़को की आवाज में ज्यादातर होता है। इसके लिए मैं उनके पास गया। उन्होंने कहा कि तुम जैसे भी हो बिलकुल ठीक हो। उन्होंने कहा मैं सिखाउंगा तुम्हें कि अपनी आवाज में वो भारीपन कैसे लाना है। आज अगर मैं वैसा होता तो अपने आप को कभी भी नहीं बदलता। मेरे बच्चों के साथ होता तो मैं नहीं चाहता कि वो बदलें।’

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App