X

ये टीवी कलाकार कभी ‘श्रीकृष्ण’ बनकर करते थे लोगों के दिलों पर राज, अब चकाचौंध से दूर मेडिटेशन की दे रहे हैं क्लास

सर्वदमन डी बनर्जी बताते हैं कि जब वह करीब 19-20 साल के थे उन्हें तब ही पता था कि वह स्वामी विवेकानंद का किरदार निभाएंगे।

टीवी की दुनिया में ऐसे कई कलाकार हैं जो एक समय में टेलीविजन में अपने काम के चलते काफी चर्चित रहे। लेकिन एकाएक टीवी की दुनिया से कहीं गायब हो गए। ऐसे ही कलाकारों में से एक कलाकार हैं, सर्वदमन डी बनर्जी। सर्वदमन डी बनर्जी को उनके ‘श्री कृष्ण’ वाले अवतार के लिए जाना जाता है। भगवान श्रीकृष्ण बन कर उन्होंने दर्शकों के दिल में अपने लिए खास जगह बनाई। इस दौरान वह इतने पॉपुलर हो गए कि लोग उन्हें सच में भगवान श्याम का रूप मानने लगे। लेकिन अचानक वह टीवी की दुनिया से कहीं गायब हो गए। इसके बाद वह स्क्रीन पर कम ही दिखाई दिए।

एक वक्त था जब सर्वदमन डी बनर्जी ने घर-घर में अपने अभिनय के जरिए एक पहचान बनाई। लेकिन आज ये कलाकार टीवी जगत से कोसों दूर हैं। सर्वदमन डी बनर्जी श्रीकृष्ण के बाद ‘अर्जुन’, ‘जय गंगा मौया’ और ‘ओम नम: शिवाय’ शो में भी नजर आए थे। लेकिन इन सभी सीरियल में एक चीज कॉमन थी, वह था सर्वदमन डी बनर्जी का किरदार। उन्हें हर सीरियल में श्रीकृष्ण ही बनाया गया, इसके चलते लोंगों ने उन्हें श्रीकृष्ण का रूप ही मान लिया। हर सीरियल में उन्हें श्रीकृष्ण बनाने का मुख्य कारण यह था कि उस वक्त सिर्फ एक ही ऐसा व्यक्ति था जो इस किरदार में पूरी तरह से फिट बैठता था। सर्वदमन डी बनर्जी बताते हैं कि जब वह करीब 19-20 साल के थे उन्हें तब ही पता था कि वह स्वामी विवेकानंद का किरदार निभाएंगे। वह बताते हैं , ‘यह मेरा ड्रीम नहीं था, मैं यह जानता था कि मैं स्वामी विवेकानंद का किरदार निभाऊंगा।’

वहीं टेलीविजन शो करने के बाद सर्वदमन डी बनर्जी ने बड़े पर्दे की तरफ रुख किया। इस दौरान उन्होंने स्वामी विवेकानंद, स्वयं कृषि आदि शंकराचार्य जैसी धार्मिक फिल्मों में काम किया। लेकिन इसमें उन्हें कुछ कास सफलता हासिल न हो पाई। वहीं इसके चलते उन्होंने सिनेमा की दुनिया से दूरी बनाना शुरू कर दिया।  आपको बता दें, आज सर्वदमन डी बनर्जी उत्तराखंड ऋषिकेश में हैं और वहां कुदरती वातावरण में वह लोगों को मेडीटेशन कराते हैं। सर्वदमन डी बनर्जी अपने जीवन में शांति चाहते हैं, वह ग्लैमर की दुनिया से दूर रहना चाहते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App