ताज़ा खबर
 

दूरदर्शन का यह धारावाहिक बनेगा दुनिया का सबसे ज्यादा देखा जाने वाला टीवी सीरियल, 50 देशों में होता प्रसारण

एक भारतीय टीवी सीरियल बहुत जल्द दुनिया का सबसे ज्यादा देखा जाने वाला धारावाहिक बनने वाला है। एसिड अटैक और महिला भ्रूण हत्या के बढ़ते मामलों पर बात करने वाले इस धारावाहिक को तकरीबन 50 देशों के करीब 400 मिलियन लोग देखते हैं।

Author नई दिल्ली | June 3, 2017 17:21 pm
दूरदर्शन चैनल पर प्रसारित होने वाला यह शो एक युवा फीमेल डॉक्टर स्नेहा माथुर की कहानी है जिसनें अपने गांव में काम करने के लिए एक अच्छी-खासी तन्ख्वाह वाली शहर की नौकरी छोड़ दी।

एक भारतीय टीवी सीरियल बहुत जल्द दुनिया का सबसे ज्यादा देखा जाने वाला धारावाहिक बनने वाला है। एसिड अटैक, महिला भ्रूण हत्या और गर्भपात जैसे मामलों पर बात करने वाला यह धारावाहिक जल्द ही 50 देशों की करीब 400 मिलियन से ज्यादा व्यूअरशिप के साथ दुनिया का सबसे ज्यादा देखा जाने वाला धारावाहिक बन जाएगा। इतने बड़े दर्शक वर्ग तक पहुंच रखने वाले इस शो का नाम है ‘मैं कुछ भी कर सकती हूँ’। दूरदर्शन चैनल पर प्रसारित होने वाला यह शो एक युवा फीमेल डॉक्टर स्नेहा माथुर की कहानी है जिसनें अपने गांव में काम करने के लिए एक अच्छी-खासी तन्ख्वाह वाली शहर की नौकरी छोड़ दी। धारावाहिक में स्नेहा का किरदार टीवी एक्ट्रेस मीनाल वैष्णव ने निभाया है।

‘पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया’ और ‘बांबे लोकल पिक्चर्स’ के प्रोडक्शन में बनने वाले इस शो को मशहूर थिएटर डायरेक्टर फिरोज अब्बास खान ने डायरेक्ट किया है। फिरोज अब्बास ‘तुम्हारी अमृता’ और ‘महात्मा वर्सेस गांधी’ जैसे लोकप्रिय नाटकों को निर्देशित करने के लिए जाने जाते हैं। अंग्रेजी दैनिक ‘द गार्जियन’ से शो के बारे में बात करते हुए ‘पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया’ की सहयोगी निर्देशक पूनम मटरेजा ने बताया कि इस रेडियो और टीवी सीरीज की व्यापक पहुंच आशातीत है।

तस्वीरः ट्विटर से

अपने हॉटलाइन के बारे में बताते हुए वह कहती हैं कि यह तीन साल पहले स्थापित किया गया था। उन्होंने कहा कि हमनें प्रतिदिन 250 कॉल्स के आने का अनुमान लगाया था जबकि पहले दिन पहले शो के एक घंटे के अंदर 7000 कॉल्स आए। दो घंटे के अंदर ही हमारा स्विचबोर्ड कोलॉप्स कर गया। पहले सीजन के खत्म होने पर करीब 1.4 मिलियन से भी अधिक भारतीयों ने सीरियल पर टिप्पणी करने के लिए कॉल किया था।

सीरियल की कहानी डॉ स्नेहा माथुर के इर्द गिर्द घूमती है जो कि कहानी की नायिका है। स्नेहा माथुर अपनी बहन के जबर्दस्ती गर्भपात के दौरान हुयी मौत के बाद अपने गांव लौट आती है। शो के एक और एपिसोड में स्नेहा की एक और बहन पर तब एसिड-अटैक हो जाता है जब वह मिक्स्ड जेंडर फुटबाल टीम में हिस्सा लेती है। इस शो को बॉलीवुड की मशहूर हस्तियों से भी सराहना मिली है। ‘मैं कुछ भी कर सकती हूं’ के दूसरे सीजन के निर्माण में बॉलीवुड एक्टर-डायरेक्टर फरहान अख्तर के ऑर्गेनाइजेशन ‘एमएआरडी’ से भी सहयोग मिला था। सिर्फ इतना ही नहीं फरहान इस शो के 32 एपिसोड्स में बतौर नैरेटर भी नजर आए थे। ‘मैं कुछ भी कर सकती हूं’ को 14 भाषाओं में डब किया गया था और इसका तीसरा सीजन लाने की तैयारियां भी जोरों पर है।

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App