ताज़ा खबर
 

संडे के दिन काम करना नहीं पसंद करती हैं चंद्रकांता एक्ट्रेस कृतिका कामरा, जानिए क्यों

कृतिका को टीवी से जुड़े हुए 1 दशक हो चुका है और वो अब मुंबई में शिफ्ट हो चुकी हैं। उन्होंने 2007 में टीवी शो 'यहां के हम सिंकदर से ' टीवी की दुनिया में डेब्यू किया था।

Author नई दिल्ली | June 9, 2017 10:50 AM
कृतिका कामरा हर सप्ताह रविवार को शूटिंग से छुट्टी लेना पसंद करती हैं। (Photo : Instagram)

चंद्रकांता में नजर आने वाली टीवी स्टार कृतिका कामरा ने चंद्राकांता की प्रोडक्शन टीम के साथ करार किया है कि वो रविवार के दिन काम नहीं करेगीं। कृतिका ने अपने बिजी शेड्यूल को शेयर करते हुए कहा कि मेरा शेड्यूल 12 घंटे वर्किंग ऑवर के साथ 25 दिन से ज्यादा काम करने की इजाजत नहीं देता है। अपने शेड्यूल के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा “पिछले महीने मैंने लगभग 25 हफ्ते शूटिंग की है। टीवी एक कठिन मीडियम है जिसमें लंबे घंटों में काम करना पड़ता है। उन्होंने बताया कि आज भी मेरी शिफ्ट सुबह 9 बजे से शाम के 9 बजे तक है और मैं 10.30 तक घर पंहुचती हूं।

कृतिका को टीवी से जुड़े हुए 1 दशक हो चुका है और वो अब मुंबई में शिफ्ट हो चुकी हैं। सामाचार एजेंसी आईएनएस को दिए गए एक इंटरव्यू में कृतिका ने कहा “उन्हें डेली के काम निबटाने के लिए भी टाइम जरूरत होती है। मैं मुंबई में रहने वाली सिंगल लड़की हूं। मुझे बैंकिंग, ग्रोसरीज और घर को मैनेज करने के टाइम चाहिए होता है। यहां तक कि अगर मैं अपने हाऊसहोल्ड से भी कुछ मदद मांगती हूं तो वो भी कुछ नहीं कर सकती है।” कृतिका ने 2007 में टीवी शो ‘यहां के हम सिंकदर से ‘ टीवी की दुनिया में डेब्यू किया था।

कृतिका अपनी प्राथमिकताओं के बारे में एकदम साफ हैं। उनका कहना है “मैं मानती हूं कि हर इंसान को हफ्ते में एक छुट्टी चाहिए होती है। मैं इंडस्ट्री में अब 10 साल बिता चुकी हूं और अपने प्रोड्यूसर के साथ हफ्ते में एक वीक ऑफ के साथ पहले भी काम कर चुकी हूं।” चंद्रकांता के प्रोड्यूसर उनकी गैरमौजूदगी में उनके डुप्लीकेट के साथ शूटिंग करेगें।

कृतिका को गूगल करना बेहद पसंद है और वो खुद को इसका आदी बताती हैं। कृतिका ने एक बार कहा था, “मैं बहुत जिज्ञासु हूं। मुझे सब चीजों के लिए गूगल की जरूरत होती है। अगर मैं कोई नया शब्द सुनती हूं तो गूगल इस्तेमाल करती हूं या किसी नए रेस्तरां में जाती हूं तो मेन्यू पहले ही गूगल में देखती हूं। मैं गूगल की आदी हूं। इसके अलावा मैं विदेशी भाषाओं के सही शब्दों के उच्चारण के लिए भी गूगल करती हूं। अगर मैं कोई फिल्म देखती हूं तो इसकी अधिक जानकारी के लिए भी गूगल करती हूं। गूगल मेरा खास दोस्त है।”

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App