ताज़ा खबर
 

Bigg Boss 11: तकनीकी रूप से इस बार क्यों खास है बिग बॉस का घर, जानिए

Bigg Boss 11 House: 'बिग बॉस' का विचार एक ऐसे माहौल को बनाना है जो प्रतिभागियों को मानसिक रूप से यहां टिके रहने में मुश्किलों को महसूस कराए।

Author नई दिल्ली | October 2, 2017 11:14 am
शो में प्रतिभागी के रूप में मशहूर हस्तियां और आम लोग नजर आएंगे और 100 से ज्यादा दिनों तक पड़ोसी के रूप में साथ रहेंगे और विभिन्न चुनौतियों का सामना करेंगे।

टीवी के सबसे चर्चित और विवादित रिएलिटी शो बिग बॉस सीजन 11 का आगाज हो चुका है। शो के कंटेस्टेंट्स की पूरी लिस्ट और फुल डिटेल्स सामने आ चुकी है। ‘बिग बॉस-11’ के घर को डिजाइन करने वाले फिल्मकार एवं आर्ट डायरेक्टर उमंग कुमार का कहना है कि उनकी कोशिश रंगों के संयोजन से एक ऐसा माहौल बनाने की रही है, जो प्रतिभागियों की मनोस्थिति पर असर डाले। ‘बिग बॉस-11’ का प्रसारण रविवार से कलर्स चैनल पर शुरू हो गया है। पिछले कई सीजन्स की ही तरह इस बार भी बॉलीवुड के दबंग खान यानि एक्टर सलमान खान इस शो को होस्ट करेंगे। इस बार यह शो ‘घर वाले’ और ‘पड़ोसी’ थीम पर आधारित है और इस बार ‘अखाड़ा’ व ‘कालकोठरी’ जैसी चीजें भी होंगी।

उमंग ने मीडिया को बताया, “इस साल हम देखने में अच्छे घर का निर्माण करना चाहते थे और हमने उसी के अनुसार घर डिजाइन किया है। लेकिन, इसके साथ ही मूल रूप से ‘बिग बॉस’ का विचार एक ऐसे माहौल को बनाना है जो प्रतिभागियों को मानसिक रूप से यहां टिके रहने में मुश्किलों को महसूस कराए।” उन्होंने कहा, “इसलिए, हमने उनकी मनोस्थिति को प्रभावित करने के लिए रंगों के साथ प्रयोग किया है। यह देखने में इतना भी सुंदर घर नहीं होना चाहिए कि प्रतिभागी यह महसूस करने लगें कि ‘मैं यहां हमेशा के लिए रहना चाहता हूं।’ इस साल ‘बिग बॉस’ का घर बनाने के लिए उमंग और उनकी पत्नी व डिजाइनर वनिता ने 200 लोगों की टीम के साथ करीब 66 दिनों तक काम किया।

मुख्य घर में एक लिविंग रूम, किचन, कन्फेशन रूम, सात बिस्तरों वाला शयन कक्ष और बगीचा है। वहीं, पड़ोसी वाले घर में एक छोटा सा बगीचा और वाशरूम है, लेकिन किचन के लिए कोई जगह नहीं है और घर के इंटीरियर में काले, सफेद और ग्रे जैसे उदासीन रंगों का इस्तेमाल हुआ है। उमंग ने कहा, “हमने ऐसा जानबूझकर किया है। घुटन जैसा माहौल बनाना जरूरी था।” उमंग ने बताया कि इस साल प्रतिभागियों की हर क्षण की गतिविधि को कैद करने के लिए 90 कैमरे लगाए गए हैं। उमंग के मुताबिक, एक दिलचस्प बात यह है कि इस बार कालकोठरी (जेल) को भी लाने की कोशिश की गई है। उसे कुछ फीट नीचे बनाया गया है, ‘क्योंकि मैं ‘सरबजीत’ जेल (फिल्म ‘सरबजीत’ जैसी जेल) बनाना चाहता था।’ शो में प्रतिभागी के रूप में मशहूर हस्तियां और आम लोग नजर आएंगे और 100 से ज्यादा दिनों तक पड़ोसी के रूप में साथ रहेंगे और विभिन्न चुनौतियों का सामना करेंगे।

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App