ताज़ा खबर
 

कोरोना की मार से बेहाल हुए ‘बालिका बधू’ के डायरेक्टर रामवृक्ष गौड़, जीविका चलाने के लिए ठेले पर बेच रहे सब्जी

रामवृक्ष का कहना है कि यह उनका पारिवारिक बिज़नेस है और इसे करने में उन्हें किसी तरह का पछतावा नहीं है। वो कहते हैं कि मुंबई में उनका अपना घर है।

ठेले पर सब्जी बेचते हुए ‘बालिका बधू’ के असिस्टेंट डायरेक्टर राम वृक्ष गौड़।

कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी की मार गरीबों और निम्न मध्यम वर्ग के लोगों पर सबसे ज़्यादा पड़ी है। यह बात हम सुनते रहे हैं लेकिन इसकी वजह से कोई डायरेक्टर सब्जियां बेचने लगे, यह सुनने में थोड़ा अटपटा लग सकता है। लेकिन ऐसा ही कुछ हुआ है प्रसिद्ध टेलीविज़न सीरियल ‘बालिका बधू’ के असिस्टेंट डायरेक्टर रामवृक्ष गौड़ (Rambriksh Gaur) के साथ। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रामवृक्ष यूपी के आजमगढ़ में ठेले पर सब्जियां बेच रहे हैं। वो आजमगढ़ में अपनी एक फिल्म की रेकी के लिए आए थे, लेकिन लॉकडाउन के कारण यहीं रह गए और फिल्म भी रुक गई।

मीडिया को दिए इंटरव्यू में उन्होंने बताया, ‘ मैं अपनी एक फिल्म की रेकी के लिए आजमगढ़ में अपने गांव आया था। जब पूरे देश में लॉकडाउन की घोषणा हुई तब हम यहीं थे और वापस जाना सम्भव नहीं हो पाया। जिस फिल्म पर हम काम कर रहे थे, वो भी रुक गया और प्रोड्यूसर ने बोला कि दोबारा काम शुरू होने में साल भर से अधिक का समय लग जाएगा। तब मैंने अपने पिता के बिज़नेस से जुड़ने का फैसला किया और ठेले पर सब्जियां बेचने लगा।’

रामवृक्ष का कहना है कि यह उनका पारिवारिक बिज़नेस है और इसे करने में उन्हें किसी तरह का पछतावा नहीं है। वो कहते हैं कि मुंबई में उनका अपना घर है। एक दिन वो वहां ज़रूर जाएंगे तब तक यहां जो कर सकते हैं वो कर रहे हैं। वो अपने बेटे के साथ ठेले पर आजमगढ़ में सब्जियां बेचते हैं। उनका बेटा 11 वीं कक्षा में पढ़ता है।

उन्होंने बताया कि 2002 में अपने एक लेखक दोस्त शाहनवाज़ खान के साथ वो मुंबई गए थे। लाइट डिपार्टमेंट में उन्होंने काम करना शुरू किया, फिर कुछ समय बाद वो असिस्टेंट डायरेक्टर बन गए। उन्होने ‘सुजाता’ और ‘कुछ तो लोग कहेंगे’ जैसे सीरियल्स में भी निर्देशक के रूप में काम किया है। वो बॉलीवुड के बड़े कलाकारों के लिए भी असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में काम कर चुके हैं जिनमें रणदीप हुड्डा, सुनील शेट्टी आदि शामिल हैं।

Next Stories
1 KBC 12: ‘आप भी AB मैं भी AB’, केबीसी की हॉटसीट पर पहुंची कंटेस्टेंट को देख बोल पड़े अमिताभ बच्चन
2 परिवार नहीं चाहता था कि करें एक्टिंग, ऐड फिल्में कर इन संघर्षों से तारक मेहता की सोनू भिड़े ने बनाई पहचान
3 ‘शौक है पूरा कर लो, कुछ दिन में ही…’, टीकाराम के एक्टर बनने की इच्छा पर मां ने यूं किया था रिएक्ट, परिवार से बगावत कर चले आए थे मुंबई
ये पढ़ा क्या?
X