ताज़ा खबर
 

Tanhaji व Chhapaak पर घमासान! कांग्रेस और BJP कार्यकर्ताओं ने मुफ्त में बांटे फिल्म के टिकट

Chhapaak-Tanhaji Movie, BJP & Congress: कांग्रेस के संगठन NSUI के लोग 'छपाक' फिल्म की मुफ्त टिकट लोगों को दे रहे हैं। जबकि बीजेपी के लोग 'तानाजी' फिल्म की फ्री टिकट बांट रहे हैं।

Chhapaak-Tanhaji Movie, BJP & Congress: बीजेपी और कांग्रेस कार्यकर्ता (फोटो सोर्सः ANI)

शुक्रवार (10 जनवरी) को रिलीज हुई बॉलीवुड की दो बड़ी फिल्मों ‘तानाजी’ और ‘छपाक’ को लेकर सियासी बवाल जारी है। दीपिका पादुकोण की Chhapaak फिल्म को लेकर भोपाल में बीजेपी (BJP) कार्यकर्ता विरोध- प्रदर्शन कर रहे हैं और लोगों को अजय देवगन की Tanhaji फिल्म की फ्री टिकटें बांट रहे हैं। जबकि इसके जवाब में कांग्रेस के संगठन NSUI के लोग ‘छपाक’ फिल्म की मुफ्त टिकट लोगों को दे रहे हैं। यह घटना मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में देखने को मिली जहां Chhapaak और Tanhaji को देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ रही है।

छपाक व तानाजी के मिल रहे फ्री टिकट: भोपाल में कांग्रेस व बीजेपी कार्यकर्ताओं के क़दमों से छपाक और तानाजी फिल्म पर राजनीति तेज हो गई है। जहां भाजपाइओं ने दीपिका पादुकोण के विरोध में उनकी फिल्म छपाक के खिलाफ तानाजी का टिकट मुफ्त में बांटना शुरू कर दिया है तो एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने भी छपाक (Tanaji, Chhapak Free Ticket) के मुफ्त टिकट बांटने शुरू कर दिए। इस बीच इस बीच बीजेपी नेता रामेश्वर शर्मा ने मांग की कि जैसे छपाक को टैैक्स फ्री किया गया है वैसे ही तानाजी को भी टैक्स फ्री किया जाए।

क्या है विवाद: बता दें कि ‘छपाक’ की रिलीज (10 जनवरी) से दो दिन पहले एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण जेएनयू (JNU) में हिंसा के विरोध में आंदोलनकारी छात्रों से मिलने कैंपस गईं थी और उन्हें समर्थन दिया था। जिसके बाद सोशल मीडिया का एक धड़ा उनके विरोध में उतर आया। बीजेपी के कुछ नेता और कार्यकर्ताओं समेत कई अन्य संगठनों ने सोशल मीडिया पर ‘छपाक’ ना देखने की अपील की थी। उन्होंने इसके विरोध में अजय देवगन की ‘तानाजी’ देखने की अपील की।

महाराष्ट्र में उठी यह मांग: कांग्रेस नेता संजय दत्त ने शुक्रवार को महाराष्ट्र विकास आघाड़ी (MVA) सरकार से अपील की है कि वह तेजाब पीड़िता की वास्तविक कहानी पर बनी फिल्म ‘छपाक’ को राज्य में कर मुक्त करें।
दीपिका पादुकोण इस फिल्म में मुख्य भूमिका में हैं और इसका निर्देशन मेघना गुलजार ने किया है। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के सचिव दत्त ने कहा कि यह फिल्म तेजाब पीड़िताओं की तकलीफों, उनके संघर्ष और उनकी जीत को उजागर करता है और इन पीड़िताओं के प्रति समाज के नजरिए को बदलने का संदेश देता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 ‘डिवॉर्सी से शादी करने में क्या बुरा, मैं भी तो..’ वर्जिनिटी को लेकर बोल पड़ीं Nehha Pendse, ट्रोल्स को दिया करारा जवाब
2 Deepika Padukone की ‘Chhapaak’ इन राज्यों में हुई TAX FREE, अखिलेश यादव भी दिखा रहे फ्री
3 JNU Violence पर सनी लियोनी बोलीं- मैं शांति की हिमायती, बिना हिंसा के भी निकल आएगा समाधान
ये पढ़ा क्या?
X
Testing git commit