ताज़ा खबर
 

सैफ अली खान और ‘तांडव’ के मेकर्स को चुकानी पड़ेगी कीमत- UP सीएम के सूचना सलाहकार की चेतावनी, बोले- पुलिस मुंबई रवाना

'तांडव' के मेकर्स और एक्टर्स को चेतावनी देते हुए UP सीएम के सुचना सलाहकार ने लिखा है कि उनकी जल्द गिरफ्तारी की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि UP पुलिस मुंबई के लिए निकल चुकी है और उद्धव सरकार...

web series tandav, tandav controversy, saif ali khanवेब सीरीज तांडव को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है

Tandav Controversy: अमेज़न प्राइम की वेब सीरीज ‘तांडव’ को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है। सैफ़ अली ख़ान, डिंपल कपाड़िया स्टारर इस वेब सीरीज पर यह आरोप है कि इसमें हिंदु देवी- देवताओं का मज़ाक उड़ाया गया है और उनका अपमान किया गया है। इस मामले में वेब सीरीज की पूरी टीम के खिलाफ आज यूपी में लखनऊ के हज़रतगंज पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज किया गया।

अब उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री के सूचना सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी ने भी मेकर्स को चेतावनी दी है। उन्होंने अपने ट्वीट में यह भी बताया कि उत्तर प्रदेश पुलिस मुंबई के लिए रवाना हो चुकी है।

उन्होंने ट्विटर अकाउंट पर वेब सीरीज के ख़िलाफ़ लखनऊ के हज़रतगंज पुलिस स्टेशन में दर्ज़ एफआईआर की कॉपी शेयर करते हुए लिखा, ‘जन भावनाओं के साथ खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं, घटिया वेब सीरीज की आड़ में नफ़रत फैलाने वाली वेब सीरीज तांडव की पूरी टीम के खिलाफ योगीजी के उत्तर प्रदेश में गंभीर धाराओं में मामला दर्ज, जल्द गिरफ्तारी की तैयारी।’

इसके बाद उन्होंने एक और ट्वीट किया और कहा कि यूपी पुलिस गाड़ी से मुंबई निकल चुकी है। उन्होंने लिखा, ‘श्रीमान मोहम्मद जीशान अयूब, अली अब्बास जफर, हिमांशु मेहरा, ग़ौरव सोलंकी और सैफ अली खान यूपी पुलिस निकल चुकी है, वो भी गाड़ी से। एफआईआर में मजबूत धाराएं लगी हैं, तैयार रहना। धार्मिक भावनाओं को आहत करने की कीमत तो चुकानी ही पड़ेगी।’ इस ट्वीट में शलभ मणि त्रिपाठी ने उद्धव ठाकरे सरकार से कहा है कि उम्मीद है सरकार इनके बचाव में नहीं आएगी।

 

ऐसी खबरें भी आ रही हैं कि ‘तांडव’ को लेकर हो रहे विवाद पर आज दिल्ली में सूचना और प्रसारण मंत्रालय की बैठक हुई है। मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि अभिव्यक्ति की आज़ादी के साथ कुछ जिम्मेदारियां भी होती हैं। रचनात्मक आजादी के नाम पर कानून व्यवस्था को बिगाड़ने की अनुमति नहीं दी जा सकती।

आपको बता दें कि सरकार पहले ही यह स्पष्ट कर चुकी है कि ओटीटी प्लेटफॉर्म्स अपने लिए कोई सेल्फ रेगुलेशन कोड बनाएं ऐसा नहीं करने पर सरकार खुद कोई कोड बनाने पर विचार कर सकती है।

वेब सीरीज ‘तांडव’ को लेकर बीजेपी के कई नेता जिसमें कपिल मिश्रा भी शामिल हैं,  सवाल उठा चुके हैं और उनकी मांग है कि इस वेब सीरीज के प्रसारण पर तुरंत रोक लगाई जाए। मध्यप्रदेश के बीजेपी मंत्री विश्वास सारंग और प्रदेश विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने भी केंद्रीय सुचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से अपील की है कि इस वेब सीरीज पर रोक लगाई जाए।

Next Stories
1 Ladies v/s Gentlemen Debate: आप दोनों में ज्यादा डॉमिनेटिंग कौन? टीवी एक्ट्रस ने पूछा सवाल, तो पर्दा डालने लगे जेनेलिया-रितेश देशमुख!
2 अर्नब के चैट्स में 1 ग्राम गांजा का जिक्र होता तो अभी तक जेल में होते- अर्नब गोस्वामी वॉट्सएप चैट्स लीक मामले में बोले बॉलीवुड एक्टर
3 ‘तांडव’ के मेकर्स ने मधुमक्खी के छत्ते में हाथ डाल दिया है- वेब सीरीज की टीम पर दर्ज़ हुई FIR तो बोले बॉलीवुड एक्टर
ये पढ़ा क्या?
X