ताज़ा खबर
 

कालापानी-लिपुलेख विवाद में कूदीं मनीषा कोइराला तो सुषमा स्वराज के पति ने दिया जवाब, बोले- भारत-नेपाल के बीच चीन…

भारत और नेपाल के बीच कालापानी मुद्दे (Kalapani dispute) पर अब बॉलिवुड एक्ट्रेस मनीषा कोइराला (Manisha Koirala) के ट्वीट के बाद पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के पति स्वराज कौशल ने उन्हें जवाब दिया है।

भारत-नेपाल के बीच चीन को लाईं मनीषा कोइराला तो स्वराज कौशल ने दिया जवाब

भारत और नेपाल के बीच लिंपियाधुरा, लिपुलेख और कालापानी विवाद गरमाता जा रहा है। इस मामले पर बॉलीवुड एक्ट्रेस मनीषा कोइराला ने ट्वीट कर नेपाल सरकार का सपोर्ट करते हुए लिखा, ‘हमारे छोटे राष्ट्र की गरिमा बनाए रखने के लिए धन्यवाद। हम सभी तीन महान देशों (भारत, नेपाल और चीन) के बीच शांतिपूर्ण और सम्मानजनक बातचीत की उम्मीद कर रहे हैं।’ एक्ट्रेस के इस ट्वीट के बाद भारत की विदेश मंत्री रहीं दिवंगत सुषमा स्वराज के पति स्वराज कौशल ने ट्वीट कर एक्ट्रेस को जवाब दिया है।

सुषमा स्वराज के पति स्वराज कौशल ने एक के बाद एक कई ट्वीट करते हुए लिखा, ‘भारत को नेपाल से शिकायत हो सकती है या नेपाल का भारत के साथ दिक्कत हो सकती है यह भारत और नेपाल के बीच का मामला है। आप चीन को कैसे बीच में लाईं? यह हमारे लिए बुरा है और नेपाल के लिए भी अच्छा नहीं है। जब आप चीन को लाती हैं तो भारत के साथ हजारों सालों के रिश्ते को बर्बाद करती हैं। आप हमारी साझा विरासत को बर्बाद कर रही हैं। और सबसे महत्वपूर्ण आप खुद संप्रभु देश के रूप में अपनी स्थिति को कमजोर कर रही हैं।’

स्वराज कौशल ने अन्य ट्वीट में लिखा, ‘मैंने आपको हमेशा अपनी बेटी माना है। मैं आपसे बहस नहीं कर सकता मेरी बच्ची, मनीषा कोइराला। जब आपने हमें 1942-अ लव स्टोरी के प्रीमियर पर आमंत्रित किया था, तब मैं पूरी फ़िल्म देखने के लिए नहीं रुक पाया लेकिन सुषमा ने पूरी फ़िल्म देखी।’

स्वराज कौशल ने आगे लिखा, ‘ये सिर्फ़ 27 साल पहले की बात है। 1977 और उसके बाद आप साउथ एक्स में रहने लगी थीं। आप साकेत के एपीजे स्कूल में पढ़ती थीं। आपके पिता प्रकाश कोइराला मेरे भाई जैसे हैं और आपकी मां सुषमा कोइराला मेरी भाभी और दोस्त रही हैं। हमने साथ-साथ मुश्किल हालात देखे हैं। जिस दिन आपके दादा को कैंसर होने का पता चला, मैं उनके साथ ही था। मुझे याद है उनके हर शब्द जब उन्होंने मुझसे कहा, ‘ये कैंसर की अडवांस स्टेज है और मेरे पास जीने के लिए ज्यादा समय नही है। उस वक़्त में दुखी था लेकिन उनके चेहरे पर निराशा का कोई भाव नहीं था।’

मैं आपके परिवार की गौरवशाली परंपरा से वाकिफ़ हूं। आपके परिवार ने कितना संघर्ष किया है इस बात को भी मैं अच्छे से जानता हूं। आपके दादा बीपी कोइराला 18 साल तक जेल में थे और उनकी जान सिर्फ इसलिए बची क्योंकि हिंदू राष्ट्र नेपाल में एक ब्राह्मण को फाँसी नहीं दी जाती है। बता दें कि मनीषा कोइराला नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री केपी कोइराला की पोती हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 विवादों में अनुष्का शर्मा की वेब सीरीज Paatal Lok, जातिसूचक शब्द पर मिला लीगल नोटिस
2 ‘एक तो धंधा बंद है, ऊपर से विकास का भाई आत्मनिर्भर…’, बॉलीवुड एक्टर ने मोदी सरकार पर कसा तंज, हुए ट्रोल
3 वाइफ सुनीता को दुल्हन बने देख रो पड़े थे अनिल कपूर, लव स्टोरी सुनाते हुए बताया कैसे कई बार टलने के बाद हुई थी शादी