ताज़ा खबर
 

पालघर की घटना पर स्वरा भास्कर ने कहा- एक दिन हम राक्षस बन जाएंगे, बोला शख्स- हाथ में माइक होता है तो तुम भी वही…

महाराष्ट्र के पालघर के पास के एक गांव में लॉकडाउन के बीच सैकड़ों लोगों की भीड़ ने 3 लोगों की पीट-पीट कर हत्या कर दी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक तीनों व्यक्ति मुंबई के थे और ये एक अंत्येष्टि में शामिल होने के लिए सूरत जा रहे थे।

palghar mob lynching, Swara Bhaskar, Swara Bhaskar Twitter, Swara Bhaskar Tweet , Swara Bhaskar on palghar mob lynching, palghar, maharashtra, स्वरा भास्कर, पालघर, स्वरा भास्कर हुईं ट्रोल, पालघर पर ट्वीट कर स्वरा हुईं ट्रोल, साधु मॉब लिंचिंग, पालघर में साधुओं की लिंचिंग पर स्वरा ने रोष जताया है।

जब देश कोरोना से लड़ाई लड़ रहा है वहीं महाराष्ट्र के सुदूर पालघर के पास तीन लोगों की मॉब लिंचिंग कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया गया। इस घटना के उजागर होने के बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने अपनी भड़ास निकाली तो वहीं बॉलीवुड एक्टर अनुपम खेर से लेकर फरहान अख्तर, अनुराग कश्यप और स्वरा भास्कर (Swara Bhaskar) सरीखे कलाकारों ने भी रोष व्यक्त किया है।

स्वरा भास्कर ने घटना की कड़ी निंदा करते हुए लिखा, ‘यह एक शर्मनाक तस्वीर है जो दिखाती है कि हम एक समाज के रूप में कौन हैं। हो सकता है कि यह समय की प्रतिच्छाया हो..जब आप एक हिंसा की संस्कृति का निर्माण करते हैं और गली में आप भीड़ के न्याय को सामान्य ठहराते हैं तो यह एक दिन हमारे घरों तक आ जाएगा..। यह समाज की एक ऐसी बीमारी है जो कटुता की अनुमति देती है और हमें राक्षस बनाती है।’

स्वरा भास्कर के इस ट्वीट के बाद लोग उन्हें ट्रोल करने लगे। एक्ट्रेस की उनकी कही पुरानी बातों को याद दिलाते हुए उन्हें भी इसके लिए दोषी बताया। एक यूजर ने लिखा, किस दिशा से सूर्य उगा है। एक अन्य यूजर ने लिखा, ‘मैडम को #PalgharMobLynching पर ट्वीट भी करना है। साथ-साथ समुदाय विशेष का बचाव भी करना है। साधुओं की नृशंस हत्या की निंदा भी करनी है तथा भाजपा पर निशाना भी साधना है। इतना केवल स्वरा आंटी ही कर सकती हैं।’

वहीं एक शख्स ने स्वरा को जवाब देते हुए लिखा, ‘बोलना आसान है लेकिन जब मंच पर माइक हाथ मे होता है तब तुम भी वहीं सब करती हो जो तुम कह रही हो। CAA केरोध विमें आपके गुमराह करने वाले भाषण अभी घर बैठे सुनो, समझ आ जायेगा आपने क्या योगदान दिया है!।’ एक और यूजर ने लिखा, ‘बीमारी समाज मे नही तुम्हारें कुछ देशद्रोही गद्दारो के दिमाग मे है राजनीति तेरे बस का नही ना फ़िल्म कुछ और कर।’

गौरतलब है कि महाराष्ट्र के पालघर के पास के एक गांव में लॉकडाउन के बीच सैकड़ों लोगों की भीड़ ने 3 लोगों की पीट-पीट कर हत्या कर दी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक तीनों व्यक्ति मुंबई के थे और ये एक अंत्येष्टि में शामिल होने के लिए सूरत जा रहे थे। रास्ते में इन्हें गाड़ी से उतारकर चोर होने के शक में पीट-पीट कर मारा डाला गया। इनमें से एक ड्राइवर था, जबकि दो साधु थे। मृतकों की पहचान सुशीलगिरी महाराज, नीलेश तेलगड़े और जयेश तेलगड़े के रूप में हुई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 PM मोदी ने कहा- कोरोना जाति-धर्म नहीं देखता तो जावेद अख़्तर बोले- सत्य वचन, मार्कंडेय काटजू ने पूछा- किसका?
2 Uttar Ramayan: वाल्मीकि को ब्रह्मा ने बताया, सीता की सेवा करने का मिलेगा सौभाग्य
3 ‘उसको मैंने पहली बार देखा, तो 180 डिग्री घूम गई जिंदगी’, पहले प्यार को लेकर बोल पड़े डॉ. कुमार विश्वास
यह पढ़ा क्या?
X