सुशांत केस में IPS राकेश अस्थाना की एंट्री, लालू से लेकर आसाराम बापू तक से कर चुके हैं पूछताछ; जानिये सबकुछ

सुशांत स‍िंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के निधन के मामले में अब ड्रग्स का एंगल भी सामने आ रहा है। नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के महानिदेशक राकेश अस्थाना (Rakesh Asthana) सुशांत केस में ड्रग्स एंगल की जांच करेंगे।

Sushant Singh Rajput, rakesh asthana, former cbi directorसुशांत केस में ड्रग्स एंगल की जांच करेंगे राकेश अस्थाना

बॉलीवुड एक्‍टर सुशांत स‍िंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के मामले में अब ड्रग्स का एंगल भी सामने आ रहा है। रिया चक्रवर्ती के चैट के खुलासे में ड्रग्स का जिक्र मिला है जिसके चलते अब इस मामले में सीबीआई के साथ ही नार्कोटिक्स टीम भी शामिल हो गई है। नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के महानिदेशक राकेश अस्थाना (Rakesh Asthana) सुशांत केस में ड्रग्स एंगल की जांच करेंगे।

सीबीआई के पूर्व डायरेक्टर रह चुके हैं राकेश अस्थाना: राकेश अस्थाना सीबीआई के पूर्व डायरेक्टर रह चुके हैं। राकेश अस्थाना का जन्म रांची में हुआ था। राकेश की प्रारंभिक शिक्षा झारखंड स्थित नेतरहाट स्कूल से हुई है। इनके पिता एचआर अस्थाना नेतरहाट स्कूल में भौतिकी के शिक्षक थे। राकेश अस्थाना ने रांची के सेंट जेवियर्स कॉलेज से पढ़ाई की थी। दिल्ली के JNU से उच्च शिक्षा प्राप्त करने के बाद उन्होंने रांची के सेंट जेवियर्स कॉलेज में इतिहास पढ़ाना शुरू किया था। 23 वर्ष की उम्र में राकेश अस्थाना ने पहले ही प्रयास में यूपीएससी परीक्षा पास कर ली और 1984 में गुजरात कैडर के आईपीएस ऑफिसर बन गए थे।

चारा घोटाले में की लालू यादव से पूछताछ: बिहार में हुए बहुचर्चित चारा घोटाला मामले में जांच की जिम्मेदारी राकेश अस्थाना को ही मिली थी। राकेश अस्थाना ने लालू प्रसाद यादव के खिलाफ 1996 में चार्जशीट दायर की थी। 1997 में उनके समय ही लालू प्रसाद यादव पहली बार गिरफ्तार हुए थे। उस समय राकेश अस्थाना सीबीआई में एसपी के तौर पर कार्यरत थे। राकेश अस्थाना ने चारा घोटाले मामले में लालू प्रसाद यादव से 6 घंटे तक पूछताछ की थी। इसके साथ ही अस्थाना ने ही धनबाद में डीजीएमएस के महानिदेशक को घूस लेते पकड़ा था।

आसाराम बापू रेप मामले की जांच की राकेश अस्थाना ने: 2014 में नाबालिग लड़की से यौन उत्पीड़न के मामले में आसाराम बापू पर केस दर्ज हुआ था। इस मामले में आसाराम बापू और उनके बेटे नारायण साईं की जांच भी राकेश अस्थाना ने ही की थी। गुजरात के सूरत की दो बहनों ने आसाराम और उनके बेटे पर बलात्कार का आरोप लगाया था। बड़ी बहन की शिकायत के मुताबिक, आसाराम ने 2001 से 2006 के बीच कई बार उनका यौन शोषण किया था, छोटी बहन ने नारायण साईं पर रेप का आरोप लगाया था।

बता दें कि 2002 में गुजरात के गोधरा में साबरमती ट्रेन को जलाए जाने के बाद दंगा भड़क उठा था। दंगों की जांच के लिए गठित हुई SIT का नेतृत्व भी राकेश अस्थाना ने ही किया था। इसके अलावा जुलाई 2008 में अहमदाबाद में सीरियल ब्लास्ट हुआ था और महज 22 दिनों के अंदर ही ब्लास्ट केस को सुलझाकर राकेश अस्थाना ने मिसाल पेश की थी।

Next Stories
1 सुशांत केस: संदीप सिंह की कॉल डिटेल्स से चौंकाने वाले दावे, कांग्रेस नेता का भी नाम; सुब्रमण्यम स्वामी बोले- दुबई क्यों गया था?
2 CAA प्रोटेस्ट पर की थी टिप्पणी, अब अली फ़ज़ल की सीरीज Mirzapur-2 के खिलाफ बवाल, बॉयकॉट करने की उठी मांग
3 Khaali Peeli: अनन्या पांडे की फ़िल्म के टीजर पर निकला यूज़र्स का गुस्सा, लाइक से ज्यादा मिल रहे हैं डिसलाइक
यह पढ़ा क्या?
X