ताज़ा खबर
 

बॉबी के लिए लिखा गया था ‘सुन साहिबा सुन’, राज कपूर ने 13 साल बाद राम तेरी गंगा मैली में किया इस्तेमाल

रणधीर कपूर ने आरके स्टूडियो में शूट हुई पहली फिल्म के बारे में भी बताया। उन्होंने कहा कि 'मुझे जहां तक याद है तो आर. के. स्टूडियो में पहली फिल्म जो शूट हुई थी, वो था आवारा का ड्रीम सीक्वेंस और उस गाने का नाम घर आया मेरा परदेसी था।

इंडियन आयडल के मंच पर पहुंचे रणधीर कपूर सोर्स : सोनी लिव

इंडियन आयडल के इस सीज़न के 45वें एपिसोड में मशहूर एक्टर रणधीर कपूर ने गेस्ट के तौर पर शिरकत की। करीना और करिश्मा कपूर के पिता रणधीर अपने दौर में बेहतरीन एक्टर के तौर पर जाने जाते थे। इंडियन आयडल के मंच पर उन्होंने अपने पिता राज कपूर को लेकर एक दिलचस्प बात बताई। दरअसल शो में निलांजना नाम की गायिका ने राम तेरी गंगा मैली का गाना सुन साहिबा सुन गाया था।

रणधीर ने इस गाने को सुनने के बाद कहा कि ‘आपने इस शानदार गाने को चार चांद लगा दिए हैं और मुझे उम्मीद है कि राज कपूर ने आपका गाना सुना होता तो वे बेहद प्राउड होते। इसके बाद रणधीर ने कहा कि ‘सुन साहिबा’ सुन दरअसल मेरे पिताजी ने फिल्म बॉबी के लिए लिखा था। ये राम तेरी गंगा मैली के लिए इस्तेमाल ही नहीं होना था बल्कि इस गाने को तो ऋषि कपूर की डेब्यू फिल्म बॉबी के लिए रखा गया था। उस समय इस गाने बोल भी अलग थे। जहां राम तेरी गंगा मैली में इस गाने को सुन साहिबा सुन के साथ शुरू किया जाता है वहीं बॉबी में इस गाने के लिरिक्स को बदलते हुए सुन बाबा सुन के तौर पर इस्तेमाल किया जाना था।’

इसके बाद रणधीर ने आरके स्टूडियो में शूट हुई पहली फिल्म के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि ‘मुझे जहां तक याद है तो आर. के. स्टूडियो में पहली फिल्म जो शूट हुई थी, वो था आवारा का ड्रीम सीक्वेंस और उस गाने का नाम घर आया मेरा परदेसी था।’ गौरतलब है कि 70 साल पुराने आरके स्टूडियो को कपूर खानदान ने बेचने का फैसला किया था।  कपूर परिवार इस स्टूडियो को बेचने के लिए बिल्डर्स, डेवलपर्स और कॉर्पोरेट्स से लगातार संपर्क बना रहा है। एक साल पहले 16 सितंबर को दो एकड़ में बने इस स्टूडियो में आग लग गई थी, जिसके कुछ हिस्से बुरी तरह जल गए थे।

एक वजह इस स्टूडियो को बेचने की ये भी है कि इस स्टूडियो में काम बेहद कम हो गया है क्योंकि अंधेरी या फिर गोरेगांव में लोकेशन आसानी से उपलब्ध है और इस स्टूडियो के दूर होने के चलते भी लोग यहां आने से कतराते हैं। इस स्टूडियो में राज कपूर 90 फीसदी फिल्मों का निर्माण किया करते थे लेकिन आज इसकी हालत ठीक नहीं है। इसके कुछ समय बाद मुंबई कांग्रेस चीफ संजय निरूपम ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को पत्र लिखा था। उन्होंने इस पत्र में डिमांड की है कि राज्य सरकार को आरके स्टूडियो की प्रॉपर्टी को अधिगृहीत कर लेना चाहिए। निरूपम का कहना है कि इंडस्ट्री के सबसे पुराने और लोकप्रिय स्टूडियो में शुमार आरके स्टूडियो को एक फिल्म म्यूज़ियम में तब्दील कर दिया जाए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Bigg Boss 12 10th December Updates: दीपिका से मिलने पहुंचे उनके पति शोएब, रोमिल और सोमी ने भी की अपनी फैमिली से मुलाकात
2 करण जौहर ने पूछा कार में संबंध बनाने को लेकर सवाल, देखिए क्या रहा दिलजीत और बादशाह का जवाब
3 ‘मेरे रश्के कमर’ पर रेखा को मिला शाहरुख खान का साथ, वायरल हो रहा वीडियो
ये पढ़ा क्या?
X