scorecardresearch

साउथ एक्ट्रेस साईं पल्लवी बोलीं-कश्मीरी पंडितों और गौ तस्करों की मॉब लिंचिंग में क्या फर्क? लोग करने लगे खिंचाई

साउथ एक्ट्रेस साईं पल्लवी के बयान को लेकर ट्विटर पर उनकी खिंचाई हो रही है।

साउथ एक्ट्रेस साईं पल्लवी बोलीं-कश्मीरी पंडितों और गौ तस्करों की मॉब लिंचिंग में क्या फर्क? लोग करने लगे खिंचाई
साउथ इंडियन एक्ट्रेस साईं पल्लवी (फाइल फोटो)

बीते कई दिनों से नुपूर शर्मा मामले को लेकर सियासी घमासान मचा है। इसी बीच साउथ इंडियन एक्ट्रेस साईं पल्लवी के एक बयान ने इंटरनेट पर बहस छेड़ दी है। दरअसल साईं पल्लवी इन दिनों अपनी आने वाली फिल्म ‘विराट पर्वम’ का प्रमोशन कर रही हैं। इसी दौरान साईं ने कश्मीरी पंडितों के नरसंहार और गौ तस्करी के आरोपियों की मॉब लिंचिंग की आपस में तुलना कर दी। जिसके बाद एक वर्ग उनका विरोध कर रहा है।

क्या कह गईं साईं पल्लवी: साईं ने एक इंटरव्यू में कहा कि द कश्मीर फाइल्स में जो कश्मीरी पंडितों का नरसंहार दिखाया गगया है, तो आप गौ तस्करी कर रहे मुस्लिम ड्राइवर की लिंचिंग के बारे में क्या कहेंगे। उसे भीड़ ने पक़ड़कर पीट दिया, उससे जय श्री राम के नारे लगवाए गए। साईं ने कहा कि धर्म की लड़ाई की बात करें तो कश्मीरी पंडितों के साथ हुआ अत्याचार और मुस्लिम युवक के साथ हुई मॉब लिंचिंग में क्या फर्क रह जाता है।

सोशल मीडिया पर हुईं ट्रोल: साईं के इस बयान की सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना हो रही है। वहीं कुछ लोगों ने साईं का समर्थन किया है। कश्मीरी हिंदू नाम के ट्विटर हैंडल से साईं के इस इंटरव्यू का वीडियो शेयर करते हुए लिखा गया,”प्रिय साईं पल्लवी, एक मुसलमान को पीटे जाने और एक पूरे समुदाय को उखाड़ फेंकने में बहुत बड़ा अंतर है। कृप्या मेरे दर्द को कम मत समझिए। आओ और हमारे टूटे हुए घरों और दिलों को देखो। हम नरसंहार के गवाह हैं लेकिन न्याय का इंतजार कर रहे हैं। सब कुछ प्रचार नहीं होता है।”

सावित्री मुमुक्षु ने लिखा,”हेयरस्प्रे के लगातार ज्यादा इस्तेमाल से इ़नके दिमाग की कोशिकाएं गल गई है। इनके बारे में कुछ नहीं कह सकते।” सिद्धार्थ भट्ट ने लिखा,”दरअसल,ये इनकी गलती नहीं है। लोग अभी भी सोचते हैं कि पंडितों ने ‘नरसंहार’ शब्द का इस्तेमाल किया है, इतना कुछ हुआ नहीं था। बस कुछ लोग ही मारे गए।” इसके अलावा भी कई लोगों ने साईं के बयान का विरोध किया है।

बता दें कि साई की आने वाली फिल्म ‘विराट पर्वम’ भी साल 1990 में हई सच्ची घटना पर आधारित है। फिल्म में तेलंगाना में हुआ नक्सली आंदोलन दिखाया गया है। इसी के साथ फिल्म में साईं पल्लवी और राणा दग्गुबाटि की लव स्टोरी भी दिखाई गई है। साईं फिल्म में वेनेला के किरदार में दिखेंगी, जिसे नक्सलियों के नेता रवन्ना से प्यार हो जाता है।

पढें मनोरंजन (Entertainment News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 16-06-2022 at 03:58:14 pm
अपडेट