ताज़ा खबर
 

कंगना के इंटरव्‍यू पर भड़के ‘सिमरन’ के लेखक, कहा- ‘तुम मुंहफट औरत हो, मैं गे हूं’

सिमरन के लेखक अपूर्व असरानी ने कंगना रनौत पर ट्विटर और फेसबुक के जरिए साधा निशाना।

अपूर्व असरानी कंगना रनौत की फिल्म सिमरन के लेखक हैं।

इंडिया टीवी पर रजत शर्मा की आप की अदालत में पहुंची बॉलीवुड की एक्ट्रेस कंगना रनौत ने बहुत से ऐसे बयान दिए जिनकी वजह से वो चर्चा का विषय बन गई हैं। ऋतिक रोशन, आदित्य पंचोली से अपने रिलेशनशिप को लेकर उन्होंने बहुत कुछ बयान किया था। अपने इस इंटरव्यू में कंगना ने अपूर्व असरानी के बारे में भी बात की। इसके बाद असरानी ने फेसबुक और ट्विटर के जरिए एक्ट्रेस पर निशाना साधा है। अपूर्व कंगना की फिल्म सिमरन के लेखक हैं।

हंसल मेहता की अपकमिंग फिल्म सिमरन के राइटिंग क्रेडिट को एक्ट्रेस के साथ शेयर करने की वजह से अपूर्व पिछले दिनों सुर्खियों में छाए थे। उन्होंने ट्विटर पर लिखा- प्यार, लड़ाई और फिल्म प्रमोशन में सबकुछ जायज है। यहां तक कि बॉक्स ऑफिस पर सफलता हासिल करने के लिए भी हताशा को दिखाया जाता है और मनोरंजन के तौर पर उसका आनंद लिया जाता है। ट्विटर के अलावा अपूर्व ने अपने फेसबुक पर एक लंबा चौड़ा सा पोस्ट लिखा है। जिसमें उन्होंने कहा है- मैं अचानक उठी इस छद्म नारीवाद की लहर से परेशान हो चुका हूं और हमेशा के लिए इस बंद करना चाहता हूं, क्‍योंकि जो महिलाएं सभ्‍यता और निष्‍पक्षता की सीमाएं लांघ कर ‘आदमियों ने यह किया’ , ‘हम क्‍यों नहीं कर सकते?’ जैसे तर्क देती हैं वो सिर्फ समस्‍याएं पैदा करती हैं।

असरानी ने कहा- एक गे पुरुष के तौर पर मैंने पूरी जिंदगीभर पितृसत्ता का सामना किया है। आज मैं मिथ्या नारीवाद का सामना कर रहा हूं जो महिला के अपराध करते समय खुशी से चीयर करते हैं। अपूर्व ने कहा कि मैंने इस पूरे मामले को खत्म कर दिया था लेकिन यह कंगना हैं जो उन्हें बार-बार पब्लिसिटी दे रही हैं और इसपर बात कर रही हैं। हम एक ऐसे समाज बन गए हैं जो महिला के नियम तोड़ने को सेलिब्रेट करते हैं लेकिन एक पुरुष को इसके लिए शर्मिंदा किया जाता है। आप भूल गईं लिंग के बजाए नियम तोड़ने का एक बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है।

आखिर में अपूर्व ने कहा- मुझे यह कतई मंजूर नहीं कि फिल्‍म बनाने और लिखने वालों को सिर्फ इस वजह से परेशान किया जाए क्‍योंकि तुम एक मुंहफट महिला हो। अन्याय अन्याय  ही होता है।

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App