ताज़ा खबर
 

हमारा ध्यान चुनाव की तरफ है- फिसली CM शिवराज सिंह चौहान की जुबान, यूं दी सफाई

'सीधी बात' शो में बात करते हुए शिवराज सिंह चौहान की जुबान भी फिसल गई। कोरोना की जगह उन्होंने कहा कि इस समय उनका पूरा ध्यान चुनाव पर है।

shivraj singh chauhan, cm shivraj singh chauhan‘सीधी बात’ शो में फिसली शिवराज सिंह की जुबान (फोटो क्रेडिट शिवराज सिंह चौहान इंस्टाग्राम)

कोरोना वायरस (Coronavirus) का संकट दिन पर दिन बढ़ता ही जा रहा है। आए दिन देश भर में तीन लाख से ज्यादा कोरोना वायरस के केस आ रहे हैं। दिल्ली से लेकर महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, बिहार और मध्यप्रदेश तक के हालात भी खराब होते जा रहे हैं। कोरोना वायरस के मुद्दे को लेकर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने आज तक के शो सीधी बात में भी बात की। कार्यक्रम के दौरान शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर आंधी नहीं बल्कि सुनामी की तरह आई है। इससे इतर, सीधी बात शो में बात करते हुए शिवराज सिंह चौहान की जुबान भी फिसल गई। कोरोना की जगह उन्होंने कहा कि इस समय उनका पूरा ध्यान चुनाव पर है।

दरअसल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से प्रभू चावला ‘सीधी बात’ के दौरान कोरोना पर राज्य की तैयारी को लेकर बातचीत कर रहे थे। कोरोना पर बात करने के बाद उन्होंने शिवराज सिंह चौहान से चुनाव के नतीजों को लेकर भी बात की। प्रभू चावला ने सवाल किया, “आप बीजेपी के स्टार कैंपेनर थे। आपने असम, केरल और अन्य राज्यों में भी धुआंधार प्रचार किया तो क्या लगता है आपको कि कहां-कहां सफलता मिलने वाली है आपको।”

प्रभू चावला के सवाल का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, “देश की जनता का विश्वास भारतीय जनता पार्टी में है, प्रधानमंत्री जी में है। और मुझे पूरा विश्वास है कि जिन राज्यों में चुनाव हो रहे हैं, वहां की जनता भी हमारे साथ खड़ी है। वहां भी अच्छे परिणाम आएंगे।”

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आगे कहा, “इस समय हमारा ध्यान परिणाम की तरफ नहीं है, हमारा ध्यान ‘चुनाव’ की तरफ है, चुनाव की तरफ नहीं है, कोरोना पर नियंत्रण पाने की तरफ है। जहां तक चुनाव का सवाल है, जनता का आशीर्वाद मिलेगा और भारतीय जनता पार्टी जीतेगी भी।”

 

सीधी बात में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश में कोरोना की बिगड़ती स्थिति को लेकर भी बात की। उन्होंने कहा, “मध्यप्रदेश के संदर्भ में देखें तो पहले भी हमने बेहतर व्यवस्था की थी और अभी भी हम प्रयासरत हैं। इतना जरूर है कि यह दूसरी लहर, लहर नहीं, आंधी और सुनामी जैसी आ गई। हमारा प्रयास है कोरोना के इलाज और बढ़ते संक्रमण को रोकने की।”

 

बता दें कि सीएम शिवराज सिंह चौहान के अलावा और भी कई नेताओं की मीडिया से बात करते हुए या सभा में भाषण देते हुए जुबान फिसल गई है। मध्यप्रदेश के ही पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कश्मीर के मुद्दे पर बात करते हुए कहा था, “अगर हमें विश्वास कायम करना है कश्मीर में, चाहे भारत अधिकृत कश्मीर हो या पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर हो, तो बातचीत के जरिए ही हो सकता है।” हालांकि, एक रिपोर्टर के टोकने पर दिग्विजय सिंह ने कहा था, “मैंने कहा है कि जो हिंदुस्तान का कश्मीर है।”

Next Stories
1 मेरा भारत बदल रहा है, कहकर भारत को किस हाल में पहुंचा दिया? बोले पुण्य प्रसून बाजपेयी, लोगों ने भी जताई नाराज़गी
2 मेडिकल हिस्ट्री का काला दिन, हमें शर्म आ रही- ऑक्सीजन की कमी पर बिफरे डॉक्टर, संबित पात्रा ने दिया ऐसा जवाब
3 हाथ पर पेन चलाने के कारण रणबीर कपूर पर भड़क गई थीं अनुष्का शर्मा, स्टूडियो में ही शुरू कर दिया था झगड़ा
यह पढ़ा क्या?
X