ताज़ा खबर
 

शिवाय फिल्म की इस एक्ट्रेस को नहीं पता था कौन हैं अजय देवगन, फिल्म में काम करने से पहले गूगल से निकाली जानकारी

भारत के बारे में एरिका कहती हैं कि वह दो साल से यहां हैं और अब खुद को देशी मानती हैं। भारत की विविधता उन्हें अपनी ओर आ​कर्षित करती है। उन्हें भारतीय लोगों का मिजाज भी बहुत पसंद है। ​
पोल।ड की एकट्रेस एरिका कार को शिवाय फिल्म में काम करने से पहले नहीं पता था अजय देवगन कौन हैं। फिल्म में आॅफर मिलने के बाद उन्होंने गूगल से अजय देवगन के बारे में जानकारी हासिल की। (Photo: Instagram)

पोलैंड की रहने वाली एरिका कार ने अजय देवगन की फिल्म शिवाय के जरिए बॉलीवुड में कदम रखा है। यह उनकी पहली फिल्म है और उन्होंने अजय देवगन से मिलने, इस फिल्म से जुड़ने और बॉलीवुड में अपनी एंट्री के पीछे क्या कहानी रही उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया है। उन्होंने बताया कि वह शिवाय से पहले बॉलीवुड से परिचित भी नहीं थीं। इस पोलिस अभिनेत्री का कहना है कि यूरोप में बॉलीवुड को अपनी पैठ जमाने के लिए बहुत कुछ करना बाकी है। वहां बॉलीवुड से लोग बहुत अच्छे से परिचित नहीं है। एरिका कार ने बताया कि वह बॉलीवुड के नाम पर सिर्फ काजोल और शाहरुख खान के बारे में जानती थीं। बॉलीवुड फिल्मों के बारे में एरिका को बस इतना पता था कि वह हॉलीवुड की फिल्मों की तुलना में काफी लंबी और कलरफुल होती हैं।

एरिका से जब इंटरव्यू के दौरान बॉलीवुड सांग्स के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘मैं भारतीय फिल्मों में गाने होते हैं इसके बारे में थोड़ा बहुत जानती थी, लेकिन फिल्म के बीच में इसका क्या महत्व होता है मुझे समझ में नहीं आता था। अब मैं बॉलीवुड के कुछ गानों को सुनना पसंद करती हूं।’ कार ने बताया कि भारत में उनके एक दोस्त ने उन्हें पहली बार जो बॉलीवुड सांग सुनाया था वह था कभी खुशी कभी गम का ‘जो बोले चुड़ियां…’ सांग। कार ने बताया कि उन्हें यह गाना बहुत पसंद आया था। एरिका ने बताया कि उन्होंने बाजीराव मस्तानी फिल्म देखी और उन्हें यह फिल्म बहुत पसंद आयी।

Movie Review: कमज़ोर कड़ी है अजय देवगन की ‘शिवाय’; इमोशन और एक्शन से भरपूर है फिल्म

शिवाय फिल्म में अपनी कास्टिंग के बारे में एरिका कार ने बताया, ‘इस फिल्म के प्रोड्यूसर्स यूरोप में आॅडिसन्स कर रहे थे। उन्हें एक अभिनेत्री की तलाश थी। इसी सिलसिले में वे वार्सा पहुंचे और आॅडिसन के लिए इनवाइट्स मंगाये। मैंने भी इसके लिए अप्लाई किया था। प्रोड्यूसर्स ने हमें कुछ सीन्स दिए जिन्हें हमको हिंदी और अंग्रेजी में तैयार करना था। वार्सा में कोई हिंदी ट्यूटर नहीं था इसलिए सबने अंग्रेजी में ही सीन्स की तैयारी की थी। मैने भी अधिकतर सीन्स को अंग्रेजी में तैयार किया था लेकिन कुछ लाइन्स हिंदी में भी तैयार किए थे। हमने सीन्स पर काम किया, दो महीने तक रिकॉर्डिंग्स की फिर एक दिन मेरे पास फोन आया कि फिल्म में मुझे रोल दिया गया है।’

अजय देवगन के साथ काम करने और अपने साथी कलाकारों के साथ उनके व्यवहार को लेकर एरिक ने कहती हैं, ‘मैं उन्हें बॉस कहकर बुलाती हूं, उन्हें बॉस कहलाना पसंद नहीं है फिर भी मैं जानबूझकर उनको चिढ़ाने के लिए बॉस बुलाती हूं। वह मेरे डाइरेक्टर हैं, फिल्म में मेरे को स्टार हैं और अब मेरे बहुत अच्छे दोस्त भी हैं। उनके साथ काम करने का अनुभव बहुत ही शानदार रहा। मुझे सम्मान मिला, सुरक्षा मिली, मुझे सुना गया और मेरी पहली फिल्म होने के बावजूद मुझे अपने मन से काम करने की आजादी मिली। यह बहुत ही पॉसिटिव था।’ एरिक कारा से जब पूछा गया कि शिवाय से पहले वो अजय देवगन को जानती थीं? उनका जवाब था, ‘नहीं मैं उन्हें बिल्कुल नहीं जानती थी। फिल्म में जब मुझे काम करने का आॅफर मिला तो मैने गूगल के जरिए उनके बारे में जानकारी हासिल की।’

वीडियो: शिवाय देखने के बाद दर्शकों का फिल्म के बारे में कैसा रहा रिएक्शन, जानिए

भारत के बारे में एरिका कहती हैं कि वह दो साल से यहां हैं और अब खुद को देशी मानती हैं। भारत की विविधता उन्हें अपनी ओर आकर्षित करती है। उन्हें भारतीय लोगों का मिजाज भी बहुत पसंद है। एरिका से यह पूछने पर कि उन्हें कौन सी हिंद फिल्म पसंद है वह कहती हैं, ‘मैं सुल्तान देखना पसंद करूंगी।’ एरिका बताती हैं कि पोलैंड में पत्रकार उन्हें अपने शो में बुला रहे हैं और शिवाय के बारे में लोगों को बताना चाहते हैं। उनके माता पिता भी उनकी इस उपलब्धी से बहुत खुश हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.