ताज़ा खबर
 

51 साल के रईस ने कहा 25 की उम्र में खुद को सलाह देनी हो तो कहूंगा ‘Take it Easy’

जब शाहरुख से पूछा गया कि अगर उन्हें 25 साल के शाहरुख यानि खुद को एक सलाह देने का मौका मिले तो वह क्या कहेंगे। इस पर शाहरुख ने कहा कि मैं अपने 25 साल वाले रूप को कहूंगा कि टेक इट इजी (आराम से काम लें) और घुटनों पर कूद कर इस तरह ट्रेन पर डांस छैया छैया ना करे।
छैंया-छैंया गाने में शाहरुख खान

शाहरुख खान इन दिनों फिल्म रईस के प्रमोशन को लेकर चर्चा में हैं। वो लगातार अपनी फिल्म के लिए मेहनत कर रहे हैं। इसके लिए वह कपिल शर्मा के शो पर भी गए थे। यह एपिसोड आपको जल्द देखने को मिलेगा। हाल ही में इंडियन एक्सप्रेस से एक्सक्लूसिव बातचीत में शाहरुख ने अपनी फिल्म और पर्सनल लाइफ को लेकर काफी बातचीत की। शाहरुख ने बताया कि रईस के डायरेक्टर राहुल ढोलकिया और उनकी टीम फिल्म की स्क्रिप्ट के साथ उनके पास आई और वह स्क्रिप्ट से इंप्रेस होकर फिल्म के लिए राजी हो गए। उन्होंने बताया, यह एक ऐसा प्रोजेक्ट था जिस तरह का काम मैं हमेशा से करना चाहता था। रईस में का करना एक शानदार एक्सपीरियंस था।

अपनी फेवरेट गैंगस्टर फिल्म पर बात करते हुए उन्होंने अपनी फेवरेट फिल्मों के नाम बताए। शाहरुख ने बताया, गैगस्टर फिल्मों में मेरी पसंदीदा गॉडफादर है। सत्या अच्छी फिल्म थी, शिवा भी एक बेहतरीन फिल्म थी। इसके अलावा गुलजार साहब की फिल्म मेरे अपने भी बहुत अच्छी थी। शाहरुख ने बताया कि वह अपने करियर में गैंगस्टर, हीरो, स्पेशली चैलेंज्ड पर्सन जैसे रोल करना चाहते हैं। उन्होंने कहा, मुझे खुशी है कि डायरेक्टर्स मेरे पास अलग-अलग रोल लेकर आते हैं। जिनमें उन्हें लगता है कि मैं बेहतर तरीके से कर सकता हूं। इतने साल यहां काम करने के बाद किसी एक रोल को करने को लेकर एक एक्साइटमेंट रहती है।

जब शाहरुख से उनकी कोस्टार माहिरा खान के बारे में पूछा गया तो उन्होंने माहिरा की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा, वह एक बेहतरीन एक्टर हैं और बेहद खूबसूरत हैं। रईस से पहले ही वह एक बड़ी स्टार हैं। यह बस उनकी एक नई इंडस्ट्री में एंट्री है। उन्होंने फिल्म में बेहतरीन काम किया है। वह एक टैलेंटेड एक्ट्रेस हैं।

जब शाहरुख से पूछा गया कि अगर उन्हें 25 साल के शाहरुख यानि खुद को एक सलाह देने का मौका मिले तो वह क्या कहेंगे। इस पर शाहरुख ने कहा कि मैं अपने 25 साल वाले रूप को कहूंगा कि टेक इट इजी (आराम से काम लें) और घुटनों पर कूद कर इस तरह ट्रेन पर डांस छैया छैया ना करे। उस वक्त कई लोगों ने मुझे टेक इट इजी कहा था। लेकिन उस वक्त में जवान था, मैं सब करना चाहता था। लेकिन वह सब अब दर्द देता है। अब नॉर्मल काम में भी तकलीफ होती है तो मैं परेशान हो जाता हूं। लेकिन जब आप जवान होते हैं तो स्टूपिड होते हैं और आप सब कुछ करना चाहते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.