ताज़ा खबर
 

मीरा राजपूत के फेमिनिज्म वाले बयान पर उनकी बैचमैट ने ओपन लेटर लिखकर जाहिर किया गुस्सा

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर शाहिद कपूर की पत्नी मीरा राजपूत द्वारा मातृत्व और फेमिनिज्म पर दिया गया बयान सोशल मीडिया पर विवादों का विषय बन गया।
Author नई दिल्ली | March 20, 2017 13:30 pm
मालूम हो कि हाल ही में अभिनेता शाहिद कपूर ने अपनी पत्नी मीरा राजपूत के मातृत्व और नारीवाद के विचारों पर उनका रूख स्पष्ट करते हुए कहा है कि मीरा ने केवल अपने मन की बात कही है।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर शाहिद कपूर की पत्नी मीरा राजपूत द्वारा मातृत्व और फेमिनिज्म पर दिया गया बयान सोशल मीडिया पर विवादों का विषय बन गया। अब उनकी एक क्लासमेट ने एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अपने विचार रखे हैं। उन्होंने लिखा- मीरा तुम्हारा इंटरव्यू देखने के बाद मुझे आज बहुत गुस्सा आया। मैंने कॉलेज में तुम्हारे ही बैच में तीन साल बिताए हैं। मैं आज पूरे आत्मविश्वास से कह सकती हूं कि नारीवाद को लेकर तुम्हारी सोच में बहुत खोट है। मैंने देखा है कि कॉलेज में तुम कैसा बरताव करती थी, पर्याप्त दुबली-पतली न होने वाली या अपने फैशन “स्टैंडर्ड” से कमतर समझने वाली लड़कियों को नीचा दिखाती थी। तुमने ऐसा किया ही क्या है खुद को किसी से नैतिक रूप से श्रेष्ठ बताकर किसी मुद्दे पर बात कर सको। दुनिया के बारे में तुम्हारा संकीर्ण नजरिया बहुत कम कह पाता है। और इसे भूलना नहीं चाहिए कि किस तरह वर्किंग वुमेन के बारे में तुम्हारा बयान हमें वास्तविक सशक्तिकरण से सालों पीछे ले जाता है, जिसके बारे में तुम्हें कुछ पता ही नहीं है। ढेर सारे गुस्से के साथ, एक जागरुक फेमिनिस्ट।

मालूम हो कि हाल ही में अभिनेता शाहिद कपूर ने अपनी पत्नी मीरा राजपूत के मातृत्व और नारीवाद के विचारों पर उनका रूख स्पष्ट करते हुए कहा है कि मीरा ने केवल अपने मन की बात कही है कि उनका बच्चा कोई ‘पप्पी’ नहीं है, जिसे वह घर में अकेला छोड़ दें। शाहिद ने कहा कि उनका किसी को चोट पहुंचाने का कोई इरादा नहीं था। मीरा ने इस महीने की शुरुआत में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर आयोजित हुए कार्यक्रम में कहा था कि मुझे घर में रहना पसंद है। मुझे अपने बच्चे के हमेशा साथ होना पसंद है। मैं काम के लिए अपने बच्चे के बिना एक घंटा भी बिताना नहीं चाहती हूं। मैं उसके साथ ऐसा क्यों करूं? वह कोई पप्पी नहीं है। मैं मां की तरह उसके साथ रहना चाहती हूं।

मीरा की इस टिप्पणी के बाद कई कामकाजी महिलाओं ने सोशल मीडिया पर अपना गुस्सा जाहिर किया था। वहीं मीरा का बचाव करते हुए उनके पति शाहिद ने बुधवार की रात न्याका फेमिना ब्यूटी अवार्डस में कहा, “उसने जो कहा इससे गहरी चोट लगी है, इसलिए ईमानदारी से मुझे ऐसा नहीं लगता कि उसका मतलब किसी को भी दुख पहुंचाना नहीं था। शाहिद ने कहा कि उनकी पत्नी ने किसी पर या किसी भी श्रेणी की महिलाओं पर टिप्पणी नहीं की। इसके अलावा, शाहिद ने कहा कि यह दम्पत्ति का निजी मामला है कि उनमें से एक काम करे या बच्चे को संभाले। उन्होंने कहा, “मीरा, मिशा के लिए जो कर रही है वो बहुत जरूरी है। काश मैं ऐसा कर सकता, लेकिन हम दोनों में से किसी एक को तो काम करना शाहिद संजय लीला भसंली की ‘पद्मावती’ में दिखाई देंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.