ताज़ा खबर
 

KBC 10 के नाम पर चल रहा फर्जीवाड़ा, ऐसे मैसेज आए तो हो जाएं सावधान

KBC Play Along 2018, Sony Liv App: स्कैमर अपने डेटाबेस से किसी को भी कॉल करते हैं और फिर अपने जाल में फंसाने की कोशिश करते हैं। अगर वॉयस कॉल से लोग झांसे में नहीं आते तो स्कैमर व्हाट्सएप के माध्यम से भी लोगों तक पहुंचने की कोशिश करते हैं। हम आपको बताते हैं कि कैसे आप खुद को इस फर्जीवाड़े से बचा सकते हैं और मोबाइल पर आने वाले किस तरह के मैसेज से आपको सावधान रहने की जरूरत है।

केबीसी के नाम पर फर्जीवाड़ा किया जा रहा है।

KBC Play Along 2018, Sony Liv App:  मशहूर टेलीविजन शो कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर फर्जीवाड़ा करने का मामला उजागर हुआ है। फर्जीवाड़ा कर रहे लोग पैसों के लिए आम जनता को चूना लगा रहे हैं। ऐसे लोग व्हाट्सएप या फिर फोन के लिए जरिए लोगों से संपर्क कर खुद को केबीसी का क्रू मेंबर बता रहे हैं। यह लोगों से कह रहे हैं कि आप ने क्वीज शो में हिस्सा लेकर बड़ा इनाम जीता है और फिर इसके बाद धीरे-धीरे वो लोगों को अपनी बातों में फंसाकर उनसे ठगी कर रहे हैं। दरअसल शो क नियम के मुताबिक दर्शक कैश प्राइज जीतने के लिए सोनी-Liv मोबाइल ऐप पर केबीसी प्ले-अलॉन्ग फीचर के माध्यम से भी शो में भाग ले सकते हैं। अब स्कैमर यही विश्वास दिलाकर लोगों को धोखा दे रहे हैं कि उन्होंने वास्तव में केबीसी ऑनलाइन में बड़ा इनाम जीता है।

स्कैमर अपने डेटाबेस से किसी को भी कॉल करते हैं और फिर अपने जाल में फंसाने की कोशिश करते हैं। अगर वॉयस कॉल से लोग झांसे में नहीं आते तो स्कैमर व्हाट्सएप के माध्यम से भी लोगों तक पहुंचने की कोशिश करते हैं। हम आपको बताते हैं कि कैसे आप खुद को इस फर्जीवाड़े से बचा सकते हैं और मोबाइल पर आने वाले किस तरह के मैसेज से आपको सावधान रहने की जरूरत है।

-स्कैमर पहले लोगों के मोबाइल नंबरों का एक डाटाबेस तैयार कर रहे हैं और फिर एक-एक कर उन्हें फोन कर रहे हैं।

– फोन करने वाला खुद को केबीसी का प्रतिनिधि बतलाता है तो और कहता है कि क्वीज प्रतियोगीता में हिस्सा लेकर आपने बड़ा इनाम जीता है।

– अगर आपने फोन करने वाले को यह बतलाया कि आपने क्वीज प्रतियोगीता में हिस्सा नहीं लिया था तो इसपर वो आपको कहते हैं कि आपके नंबर को प्रतियोगीता में हिस्सा लेने के लिए कई सारे मोबाइल नंबरों में से शॉटलिस्ट किया गया है।

– इसके बाद वो आपसे कोई आसान सा सवाल पूछते हैं ताकि आप जीत जाएं।

-कुछ ठग व्हाट्सएप पर भी एक्टिव हैं और लोगों को व्हाट्सएप पर मैसेज भेज कर भी उन्हें अपने झांसे में लाने की कोशिश कर रहे हैं।

-फोन या मैसेज करने वाले ठग लोगों से कहते हैं कि आप कुछ पैसा (जीती हुई इनाम से कम राशि) processing fee के नाम पर बैंक में डाल दें।

– कभी-कभी यह ठग लोगों से सीधे उनका बैंक अकाउंट नंबर भी मांग रहे हैं।

– पुलिस के मुताबिक यह कॉल ज्यादातर फर्जी नंबरों से किये जा रहे हैं। यह फोन नंबर International Calling Code 0092 से शुरू होते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App