ताज़ा खबर
 

NBA में खेलने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी सतनाम सिंह ने कहा- अभिषेक बच्चन करें मेरी बायोपिक

मालूम हो कि सतनाम 2015 में भारत के पहले ऐसे खिलाड़ी बने जिन्हें एनबीए में चुना गया। सतनाम के ऊपर वन इन अ बिलियन नाम की एक डॉक्यूमेंट्री भी बनाई जा चुकी है।

Author नई दिल्ली | January 22, 2017 5:14 PM
एनबीए डेवलपमेंट लीग के लिये चुने जाने वाले पहले भारतीय बास्केटबाल खिलाड़ी सतनाम सिंह भामरा अमेरिकी लीग में प्रवेश कर आने वाली पीढ़ी के लिये आदर्श बनना चाहते हैं।

एनबीए डेवलपमेंट लीग के लिये चुने जाने वाले पहले भारतीय बास्केटबाल खिलाड़ी सतनाम सिंह भामरा ने कहा कि वह बहुत गौरवान्वित महसूस करेंगे यदि बॉलीवुड स्टार अभिषेक बच्चन उन पर कोई फिल्म बनाने का फैसला लेते हैं। बकौल सतनाम अभिषेक बच्चन पर्दे पर उनका किरदार करने के लिए सबसे सटीक अभिनेता साबित होंगे। उन्होंने कहा- मेरी जिंदगी और मेरे भारत से अमेरिका तक के सफर बनी बायोपिक देखना मेरे लिए बेशक एक शानदार अनुभव होगा। मेरी हाइट के मुताबिक अक्षय कुमार और अभिषेक बच्चन बायोपिक में मेरा रोल करने के लिए फिट रहेंगे। उन्होंने कहा कि हाइट के हिसाब से देखें तो अभिषेक बच्चन इसमें ज्यादा फिट होते हैं।

मालूम हो कि सतनाम 2015 में भारत के पहले ऐसे खिलाड़ी बने जिन्हें एनबीए में चुना गया। सतनाम के ऊपर वन इन अ बिलियन नाम की एक डॉक्यूमेंट्री भी बनाई जा चुकी है। क्या सतनाम बॉलीवुड फिल्में देखते हैं यह पूछे जाने पर उन्होंने कहा- अक्षय कुमार, प्रियंका चोपड़ा, दीपिका पादुकोण और सोनम कपूर और कुछ ऐसे अभिनेता हैं जिन्हें पर्दे पर देखना उन्हें पसंद है। उन्होंने इस सब में सलमान खान का भी नाम लिया।

एनबीए डेवलपमेंट लीग के लिये चुने जाने वाले पहले भारतीय बास्केटबाल खिलाड़ी सतनाम सिंह भामरा अमेरिकी लीग में प्रवेश कर आने वाली पीढ़ी के लिये आदर्श बनना चाहते हैं। 21 वर्षीय सतनाम ने कहा, “मैं एनबीए खिलाड़ी बनना चाहता हूं जागे अपनी टीम की सफलता में अहम भूमिका निभाये, जो टीम के लिये मायने रखता हो। मैं एनबीए चैम्पियनशिप जीतना चाहता हूं और एक स्टार खिलाड़ी बनना चाहता हूं। मैं अपने पीछे एक विरासत छोड़ना चाहता हूं ताकि बास्केटबाल खेलने वाले बच्चे में मुझे आदर्श के रूप में देखें और मेरे पदचिन्हों पर चलें।” उन्होंने कहा, “इसके अलावा मैं अपार अनुभव हासिल कर समाज को इसे वापस लौटाना चाहता हूं। मैं भारत वापस आकर अपने अनुभव, ज्ञान साझा करना चाहता हूं और भारत में प्रतिभाओं को ट्रेनिंग देना चाहता हूं। मैं खुश हूं कि मेरा सही लोगों ने इतनी कम उम्र में एनबीए तक मेरा मार्गदर्शन किया। मैं इस विरासत को जारी रखना चाहता हूं।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App