ताज़ा खबर
 

संजू: जेल में बाल्टी में पानी भर वर्जिश करते थे संजय दत्त, पहली बार खाई थी यह ‘डिश’

1993 ब्लास्ट केस मामले में जब संजय दत्त जेल गए थे, उस वक्त उनको लेकर कहा जा रहा था कि जेल में संजय दत्त को वीआईपी ट्रीटमेंट दिया जा रहा है। ऐसे में संजय दत्त बताते हैं कि जब वह जेल से वाप आ रहे थे, तो वहां उनके साथ रहने वाले कैदियों की आंखों में आंसू थे।

एक्टर संजय दत्त

रणबीर कपूर स्टारर संजय दत्त की बायोपिक ‘संजू’ जल्द ही सिनेमाघरों में आने वाली है। इस फिल्म में संजय दत्त की जिंदगी से जुड़े हर पहलू को दर्शकों के सामने रखा जाएगा। इसके चलते दर्शकों के दिल में संजय की लाइफ के बारे में जानने को लेकर एक जिज्ञासा देखने को मिल रही है। हाल ही में एक वीडियो सामने आया है जो कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें एक चैनल को दिए इंटरव्यू के दौरान संजय दत्त बताते हैं कि कैसे वह जेल में रह कर भी वर्जिश किया करते थे। इसके अलावा जेल में उन्हें खाने पीने के लिए क्या दिया जाता था।

दरअसल, 1993 ब्लास्ट केस मामले में जब संजय दत्त जेल गए थे, उस वक्त उनको लेकर कहा जा रहा था कि जेल में संजय दत्त को वीआईपी ट्रीटमेंट दिया जा रहा है। ऐसे में संजय दत्त बताते हैं कि जब वह जेल से वापस आ रहे थे, तो वहां उनके साथ रहने वाले कैदियों की आंखों में आंसू थे। सब ने साथ में मिलकर जेल में काफी वक्त बिताया और साथ काम भी किया। संजय जेल में रेडियो जॉकी का काम भी करते थे।

इसके अलावा संजय दत्त बताते हैं कि वह जेल में पहले तो 1 महीना तक काफी मायूस रहे। लेकिन बाद में उन्होंने ठाना कि जब वह जेल से बाहर निकलेंगे तो ऐसे बन के बाहर आएंगे कि लोग देखते रह जाएंगे। ऐसे में वह जेल में वर्जिश करते थे। संजय दत्त अपने यार्ड में ही एक से डेढ घंटा तक रनिंग किया करते थे। वहीं डंबल्स न होने पर पानी की बाल्टियों को भरकर कसरत किया करते थे।

संजय बताते हैं कि उन्हें जेल में ऐसी सब्जी मिला करती थी कि जो गधे को भी देंगे तो वो नहीं खाएगा। ऐसे में वह खानी पड़ती थी। सब्जी का नाम होता था राजगीरा। संजय कहते हैं कि इस सब्जी का नाम उन्होंने पहले कभी नहीं सुना था। संजय यह भी बताते हैं कि उस सब्जी में कीड़े भी होते थे, जिसे वह प्रोटीन के तौर पर खा लिया करते थे।

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App