scorecardresearch

24 घंटे में बदल गए, आगे-आगे देखिये- संजय राउत ने ED को बताया न्यूट्रल एजेंसी तो फिल्ममेकर ने उड़ाया मज़ाक; मिले ऐसे जवाब

शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत मनी लॉन्ड्रिंग मामले में शुक्रवार को प्रवर्तन निदेशालय (ED) के सामने पेश हुए। इस दौरान उन्होंने खुद को एक ‘निडर’ व्यक्ति बताया।

Sanjay Raut, Maharashtra
शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत(फोटो सोर्स: ANI)।

शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत कथित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में शुक्रवार को प्रवर्तन निदेशालय (ED) के सामने पेश हुए। ईडी ने राउत से करीब 10 घंटे तक सवाल-जवाब किए। इस बारे में उन्होंने खुद ट्वीट करके जानकारी दी। बता दें कि संजय राउत को 2007 के जमीन घोटाला मामले में ईडी ने समन जारी किया है और एक जुलाई को पेश होने का आदेश दिया था।

ANI के मुताबिक, राउत ने कहा कि मैं एक निडर व्यक्ति हूं, क्योंकि मैंने अपने जीवन में कभी कुछ गलत नहीं किया है। अगर यह सब राजनीतिक है, तो हमें बाद में पता चलेगा। अभी मुझे लगता है कि मैं एक न्यूट्रल एजेंसी में जा रहा हूं और मुझे उन पर पूरा भरोसा है। अब इस पर फिल्ममेकर अशोक पंडित ने संजय राउत का मजाक उड़ाते हुए ट्वीट किया है।

अशोक पंडित ने किया ट्वीट: फिल्ममेकर अशोक पंडित ने ट्वीट करते हुए लिखा कि संजय राउत ईडी को अब एक न्यूट्रल एजेंसी बता रहे हैं। 24 घंटे में बदल गए! आगे आगे देखिए होता है क्या! इसी के साथ फिल्ममेकर ने एक और ट्वीट करते हुए लिखा कि संजय राउत जी आदरणीय बालासाहिब जी के उदाहरण देना बंद करो क्योंकि आपने वह सब किया है जिससे वह नफरत करते थे और उनके सिद्धांतों के खिलाफ थे। आपने उसके शत्रुओं को गले लगा लिया और अपने दोस्तों की पीठ में छुरा घोंपा। आपने हिंदुत्व के उनके विचार को खत्म कर दिया है।

लोगों की प्रतिक्रियाएं: अशोक पंडित के ट्वीट पर लोग अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। राहुल नाम के यूजर लिखते हैं कि शिवसेना को मिटाने वाला सिर्फ एक ही व्यक्ति है। एक यूजर लिखते हैं कि श्री बालासाहेब ठाकरे का मंत्र हमेशा कांग्रेस के मंत्र के खिलाफ था। आपने उनकी विचारधारा का मजाक उड़ाया है। बेहतर होगा संजय जी आप खबरों में रहने के लिए कांग्रेस या किसी अन्य पार्टी में शामिल हो जाएं। एक यूजर लिखते हैं पंडित जी आप लगे रहिए पैसे टाइम से मिल रहे हैं ना।

संजय राउत को भी मिला था गुवाहाटी जाने का मौका: अब हाल ही में संजय राउत ने एक बड़ा बयान दिया है। एएनआई के मुताबिक संजय राउत ने कहा है कि उन्हें भी गुवाहाटी जाने का मौका मिला था पर मैं बालासाहेब को फॉलो करता हूं। इसलिए मैं वहां नहीं गया। बता दें बता दें अब महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे हैं। राज्य में लंबे वक्त से सियासी हलचल जारी थी। शिवसेना के कुछ नेताओं ने अपनी ही पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोला और बाग़ी हो गए। जिसके बाद यह विधायक मुंबई से सूरत गए और फिर वहां से उड़ान भर गुवाहाटी पहुंचे। इसके बाद उन्हें मनाने की काफी कोशिशे हुईं लेकिन कोई हल नहीं निकला और बागी विधायकों ने बीजेपी के साथ मिलकर सरकार बना ली।

पढें मनोरंजन (Entertainment News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X