ताज़ा खबर
 

राकेश टिकैत के साथ अपनी फोटो शेयर कर बोले संजय राउत- गर्व से कहो हम आंदोलनजीवी हैं; आने लगे ऐसे कमेंट

राकेश टिकैत को सपोर्ट करते हुए संजय राउत ने जय जवान जय किसान का नारा लगाया और साथ ही कहा -' गर्व से कहो हम आंदोलनजीवी हैं।' संजय राउत ने तस्वीर के साथ कैप्शन में लिखा..

Sanjay Raut, Rakesh Tikait, agitators, Kisaan, Farmer Protest, Sanjay Raut, Entertainment News, Bollywood News,राकेश टिकैत और संजय राउत (फोटोसोर्स- संजय राउत ट्विटर)

किसान आंदोलन के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘आंदोलनजीवी’ वाले बयान पर सियासी घमासान मच गया है। विपक्ष के तमाम नेताओं ने प्रधानमंत्री के इस बयान की आलोचना की है। इसी बीच शिवसेना नेता संजय राउत ने भी पीएम के इस बयान पर कटाक्ष किया है। राउत ने किसान नेता राकेश टिकैत के साथ अपनी एक फोटो ट्विटर पर शेयर किया और लिखा, ‘गर्व से कहो हम आंदोलनजीवी हैं।’  उन्होंने आगे लिखा- जय जवान-जय किसान…।

राकेश टिकैत संग संजय राउत की इस तस्वीर को देख कर तमाम यूजर्स भी प्रतिक्रिया देने लगे। एक यूजर ने लिखा-आप आंदोलनजीवी के साथ साथ परजीवी (Parasite) भी हो। भाजपा की वजह से कुल 56 सीटें जीते, वरना शिव सेना का निर्जीव होना तय था। प्रदीप नाम के शख्स ने लिखा, ‘नौटंकीबाज…आंदोलनजीवी जमात।’ दुर्गेश गुप्ता नाम के यूजर ने लिखा- ‘पानी से पानी मिले मिले, कीच से कीच…ज्ञानी को ज्ञानी मिले मिले नी.. से नी..।

चिराग नाम के यूजर ने  लिखा- अगर अब कोई “देशभक्त” देश के पक्ष में ट्वीट करेगा तो “महाराष्ट्र सरकार” उसकी जांच करवाएगी। गज़ब है। अब देश की एकता के बारे में ट्वीट करने पर भी पूछताछ होगी। वाह रे महाराष्ट्र सरकार..। शाहिद खान ने लिखा- विश्वास दिलाता हूं, 15 लाख खाते में आएंगे। विश्वास दिलाता हूं, हर साल 2 करोड़ रोजगार दूंगा। विश्वास दिलाता हूं, नोटबन्दी से काला धन वापिस आ जाएगा। विश्वास दिलाता हूं, 100 स्मार्ट सिटी बनेंगे। विश्वास दिलाता हूं, एमएसपी रहेगा, रहेगा……. क्या कोई विश्वास करेगा?

अश्विनी नाम के यूजर ने कमेंट किया- पूरे भारत को बेचने के बाद, काश मोदी जी भक्तों की किडनी और अन्य शरीर पार्ट भी बेच लेते। वे खुश भी होते की राष्ट्रहित में बलिदान दे रहे हैं, अपने मोदी जी के लिए।

एक यूजर ने सवाल किय़ा- थाली में छेद वाली जया बच्चन कहां हैं?? मिया खलीफा जैसी विदेशी सेलेब्स के खिलाफ अजय देवगन, अक्षय कुमार, सुनील शेट्टी, नाना पाटेकर, सन्नी देओल, लता मंगेशकर का बयान तो आ चुका। खान गैंग तो दाऊद की मंडली है ही, लेकिन अपने आपको महानायक कहने वाले और जया बच्चन क्यों मौन हैं?

अन्नाराम नाम के अकाउंट से कमेंट आया- गर्व से कहो हम मायनो के गुलाम है। कभी साधुओं की हत्या हो जाती है, कभी सेना के जवान को जिंदा जला दिया जाता है, कभी सुशांत सिंह राजपूत की हत्या हो जाती है, उनकी जांच नहीं होगी। लेकिन सचिन और लता मंगेशकर की जांच होगी। क्योंकि उन्होंने देश के खिलाफ बोलने वालों के मुंह पर चाटा मारा था।

Next Stories
1 आज तक तो आपने आंदोलन नहीं किया, अब क्यों कर रहे हैं? एंकर ने राकेश टिकैत से पूछा ऐसा सवाल; देखें क्या मिला ज़वाब
2 PM मोदी के ‘आंदोलनजीवी’ वाले बयान पर बॉलीवुड एक्टर का तंज़- झूठों को हर सच से लगता है डर; इसीलिये…
3 मोदी है तो मौका है..ये चीन कह रहा और ये चीन के ख़िलाफ़ तो बोल नहीं सकते- डिबेट शो में BJP प्रवक्ता पर कांग्रेस प्रवक्ता ने कसा तंज
यह पढ़ा क्या?
X